अनलॉक 4 - नए दिशा निर्देश


वैश्विक महामारी कोरोनावायरस का कहर अभी भी जारी है। पिछले 24 घंटों में दुनिया में 2 लाख 55 हजार 763 नए मामले सामने आए हैं और 5 हजार 278 लोगों की जान चली गई है। दुनियाभर में अब तक 2 करोड़ 51 लाख 55 हजार लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इसमें से 8 लाख 45 हजार 955 लोगों ने अपनी जान गंवाई है तो वहीं 1 करोड़ 75 लाख लोग ठीक भी हुए हैं। पूरी दुनिया में 68 लाख 9 हजार एक्टिव केस हैं। भारत में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के 73 हजार से अधिक नए मामले सामने आने से संक्रमितों का आंकड़ा 35.35 लाख के पार हो गया जबकि 919 कोरोना मरीजों की मौत से मृतकों की संख्या 63,600 से अधिक हो गई।


केंद्र सरकार ने 1 सितंबर से शुरू हो रहे अनलॉक 4 के लिए नए दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। इस बार कई तरह की छूटें दी गईं हैं। सबसे खास बात यह है कि गृह मंत्रालय ने एक महत्वपूर्ण निर्देश में कहा कि राज्य सरकारें केंद्र से परामर्श किए बगैर कंटेनमेंट जोन के बाहर कोई स्थानीय लॉकडाउन लागू नहीं करेंगी। नए दिशा निर्देशों में कहा गया है कि कंटेनमेंट जोन में 30 सितंबर तक लॉकडाउन जारी रहेगा। गृह मंत्रालय के दिशा निर्देशों के अनुसार जिला अधिकारियों को कंटेनमेंट जोन सीमांकन करने का अधिकार दिया गया है। इन क्षेत्रों में केवल आवश्यक गतिविधियों की अनुमति दी जाएगी। केंद्र ने जिला कलेक्टरों को अपनी संबंधित वेबसाइटों पर कंटेनमेंट जोन की अपडेट सूची जारी करने के लिए कहा है। इसके अलावा, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को निर्देश दिया गया है कि वे गृह मंत्रालय को कंटेनमेंट जोन की सूची में किसी भी जुड़ाव या घटाव के बारे में सूचित करें। इसके अलावा व्यक्तियों की अंतर-राज्य और सामानों की अंतर-राज्य गतिविधि पर कोई पाबंदी नहीं होगी। इस तरह की गतिविधियों के लिए किसी तरह की अलग अनुमति, मंजूरी, ई-परमिट की जरूरत नहीं होगी।


  नई गाइडलाइंस में 7 सितंबर से मेट्रो रेल को चरणबद्ध तरीके से संचालित करने की अनुमति दी गई है, जबकि 21 सितंबर से 100 व्यक्तियों की अधिकतम सीमा के साथ सामाजिक, राजनीतिक और धार्मिक कार्यक्रमों की अनुमति होगी। स्कूल, कॉलेज, अन्य शैक्षणिक संस्थान 30 सितंबर तक बंद रहेंगे। हालांकि, नौवीं से 12वीं कक्षा तक के छात्रों के लिए कुछ छूट दी गई है। 50 प्रतिशत तक शिक्षण, गैर-शिक्षण कर्मचारियों को ऑनलाइन शिक्षण, टेली-काउंसलिंग से संबंधित कार्य के लिए स्कूलों में बुलाया जा सकता है।इसके अलावा, नियंत्रण क्षेत्र के बाहर के क्षेत्रों में, 9 से 12 वीं कक्षा के छात्रों को अपने स्कूलों का दौरा करने की अनुमति दी जा सकती है। हालांकि, यह केवल स्वैच्छिक आधार पर और शिक्षकों से मार्गदर्शन लेने के लिए होगा। यह उनके माता-पिता या अभिभावकों की लिखित सहमति के अधीन भी होगा।


आज भाद्रपद माह शुक्ल पक्ष की द्वादशी है। आज सूर्य उपासना का महान दिवस है। आज रविवार है। आज चन्द्रमा मकर राशि में है। पंचांग के अध्ययन से उस दिन के समस्त ग्रह गोचर व नक्षत्र का ज्ञान प्राप्त हो जाता है। प्रातःकाल भगवान की पूजा के साथ पंचांग पढ़कर ही दिवस का प्रारंभ करना चाहिए।अंक राशिफल 30 अगस्त: आज 30 अगस्त है। 30 का संयुक्त अंक वैभव व प्रसिद्धि का है। यह एकल अंक 03 के जैसा कार्य करेगा। अंक 03 का स्वामी ग्रह गुरु है। भाग्यांक 06 रहेगा। गुरु चन्द्रमा व सूर्य का परम मित्र है। सूर्य व शनि मित्र नहीं है। अंक 01 के मित्र अंक 2, 3 तथा 9 हैं। अपने जन्मांक के अनुसार आप आज अपना अंकफल देखें।


लखनऊ में रेलवे अधिकारी की नाबालिग बेटी ने अपनी मां और भाई की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने कहा कि लग रहा है कि लड़की डिप्रेशन में है।लखनऊ में हुई मां-बेटे की हत्या में बड़ा खुलासा हुआ है। पुलिस अब कह रही है कि 10वीं कक्षा की छात्रा और रेलवे अधिकारी की बेटी ने ही अपनी मां और भाई की हत्या कर दी। पुलिस अधिकारियों ने खुलासा किया कि लड़की राष्ट्रीय स्तर की शूटर है। पुलिस ने लड़की के कमरे से बंदूक बरामद की है। पुलिस ने कहा कि उसकी मानसिक स्थिति अस्थिर है। लखनऊ पुलिस आयुक्त सुजीत पाण्डेय ने कहा, 'मामले की जांच में पाया गया है कि इनकी बेटी जो नाबालिग है, उसने अपनी मां और भाई दोनों को गोली मारी है। हथियार बरामद कर लिया गया है। अभी तक की पूछताछ से लग रहा है कि वह डिप्रेशन में है। उसे बाल संरक्षण गृह भेजा जाएगा।' लड़की ने अपनी मां पर दूसरी गोली चलाने से पहले ग्लास पर पहली गोली चलाई और फिर इसके बाद अपने भाई को गोली मारी। पुलिस अधिकारियों ने उसकी भुजाओं पर कई कट भी थे। खुद को घायल करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला रेजर भी बरामद किया गया है।


उत्तर प्रदेश के लखनऊ में रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी आरडी बाजपेयी के घर से उनकी पत्नी और बेटे के शव मिले हैं। दोनों की गोली मारकर हत्या की गई है।उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रेलवे कॉलोनी में डबल मर्डर किया गया है। लखनऊ के पुलिस आयुक्त सुजीत पांडे ने बताया, 'रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी आरडी वाजपेयी की पत्नी और बेटे की लाशें आज उनके रेलवे कॉलोनी स्थित घर में मिली हैं। दोनों को गोली मारकर हत्या की गई है। प्रथम दृष्टया यह लूट की घटना प्रतीत नहीं होती। जांच चल रही है।' लखनऊ के गौतमपल्ली में स्थित यह रेलवे कॉलोनी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास से बहुत दूर नहीं है। प्रारंभिक जानकारी में बताया गया है कि रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी की पत्नी और बेटे को दो लोगों ने उनके घर में गोली मार दी। मां और बेटे दोनों को उनके ही घर के अंदर गोली मारी गई। बेटा 20-22 साल का था और उसका शव उसकी मां के साथ बेड पर पड़ा था। महिला की उम्र 49 साल बताई जा रही है। रेलवे अधिकारी की बेटी ट्रॉमा में है।  आरडी वाजपेयी अभी दिल्ली में कार्यरत हैं। घटना के तुरंत बाद लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे और पुलिस महानिदेशक एचसी अवस्थी घटनास्थल पर पहुंचे। अपराध स्थल पर डॉग स्क्वायड भी तैनात किया गया। सूत्रों ने बताया कि रेलवे अधिकारी की बेटी भी घर में मौजूद थी और उसने नौकर को हत्याओं के बारे में बताया। इसके बाद नौकर ने पुलिस को सूचित किया। खबर है कि हत्याओं का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रिपोर्ट मांगी है और अधिकारियों को आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।


सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने जम्मू में भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बाड़बंदी के पास एक सुरंग का पता लगाया है। इसके मुहाने पर रेत की बोरियां मिलीं, जो पाकिस्तान में बनी हैं।


आईपीएल 2020 में शामिल होने पहुंची चेन्नई सुपर किंग्स के दल के 2 खिलाड़ियों सहित 13 लोगों के कोरोना संक्रमित होने की बीसीसीआई ने पुष्टि कर दी है।


पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था एक तरफ दिनों दिन चरमरा रही है उधर दूसरी तरफ इसकी सेना भी देश को लूटने में पूरी तरह व्यस्त है। ताजा खबर के मुताबिक ये बात सही साबित होती नजर आती है। पाकिस्तान के पूर्व आर्मी प्रवक्ता असीम सलीम बाजवा ने किस तरह से पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को ताक पर रखकर देश-विदेश में अकूत संपत्ति इकट्ठी कर ली है इसका ताजा सबूत पाकिस्तान के ही एक लोकल न्यूज वेबसाइट के जरिए सामने आया है।


चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स को आईपीएल 2020 से पहले तगड़ा झटका लगा है। चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के प्रमुख बल्‍लेबाज सुरेश रैना आगामी आईपीएल से बाहर हो गए हैं।  चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के लिए सबसे ज्‍यादा और आईपीएल इतिहास के दूसरे सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाज सुरेश रैना निजी कारणों से भारत लौटे हैं।


अगले 24 घंटों के दौरान मध्य प्रदेश के दक्षिण-पश्चिमी और मध्य भागों में भारी से अति भारी बारिश होने की संभावना है। दक्षिण और दक्षिण-पूर्वी राजस्थान, विदर्भ, कोंकण गोवा, उत्तरी-मध्य महाराष्ट्र, गुजरात के कुछ हिस्सों, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम, मेघालय और तटीय कर्नाटक में कई जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। पूर्वोत्तर भारत, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के कुछ हिस्सों, दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु के कुछ भागों में हल्की से मध्यम बारिश होने की उम्मीद है। दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, गंगीय पश्चिम बंगाल और तेलंगाना में एक-दो स्थानों पर हल्की बारिश के आसार हैं।



Cong writes to Facebook CEO again over allegations of 'bias' in favour of ruling BJP


Three militants, one soldier killed in encounter in J-K's Pulwama


Will FM answer how to describe mismanagement of economy before pandemic: Chidambaram


Union HM Amit Shah has recovered, to be discharged in short time: AIIMS


BSF detects tunnel along India-Pak border in Jammu


UP Cong leader demands Ghulam Nabi Azad's expulsion from party


To deal with a micromanager


Suresh Raina pulls out of IPL due to "personal reasons"


ED freezes 4 bank accounts containing Rs 46.96 cr after raids on firms running Chinese betting apps


Shripad Naik recovering steadily, vitals stable: Goa official


Remove dedicated freight corridor bottlenecks, PM closely monitoring progress: Rly Minister


NCB junks Rhea's blood sample 'ploy', hints at hunting down peddlers


UP minister Satish Mahana tests COVID positive


Enforcement teams formed in districts for strict implementation of COVID-19 guidelines in Delhi


Yamuna continues to flow near warning mark; water level likely to recede


 


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप