संदेश

जम्मू-कश्मीर, आज सर्वदलीय बैठक

चित्र
  जम्मू-कश्मीर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से बुलाई गई आज सर्वदलीय बैठक पर सबकी नजरें हैं। इस बैठक में राज्य को लेकर कोई बड़ा फैसला हो सकता है। पाकिस्तान खुद दहशतगर्दी की फैक्ट्री चलाता है और खुद ही को आतंक का शिकार बताया है . सोचिए ऐसे पाकिस्तान को कश्मीर में अमन और शांति के लिए महबूबा मुफ्ती दावत देकर बुलाना चाहती हैं . तो क्या कश्मीर के दूसरे नेताओं के दिमाग में भी यही चल रहा है या फिर एजेंडा कुछ और है . आर्टिकल 370 की बहाली की वकालत करने वाला गुपकार गठबंधन सर्वदलीय बैठक में बातचीत की टेबल पर होगा . इस सर्वदलीय बैठक में सबसे बड़ा चेहरा फारूख अब्दुल्ला का होगा . इलाके के विशेष दर्जे की बहाली के लिए पिछले साल जम्मू - कश्मीर (Jammu and Kashmir) में बने गुपकर गठबंधन (Gupkar Alliance) के घटक गुरुवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के साथ होने वाली सर्वदलीय बैठक की रणनीति तैयार करने के लिए मंगलवार को श्रीनगर (Srinagar) में बैठक करेंगे। पूर्व

CBSE और ICSE एग्जाम रद्द, याचिका खारिज

चित्र
  सरकार ने मंगलवार को कहा कि भारत में कोरोनावायरस के डेल्टा प्लस स्वरूप के 22 मामलों का पता चला है जिनमें से 16 मामले महाराष्ट्र के हैं। बाकी मामले मध्यप्रदेश और केरल में सामने आए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारत उन 9 देशों में से एक है , जहां अब तक डेल्टा प्लस स्वरूप मिला है। उन्होंने रेखांकित किया कि इसे अभी तक चिंताजनक स्वरूप में वर्गीकृत नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि 80 देशों में डेल्टा स्वरूप का पता चला है। कोरोनावायरस का डेल्टा प्लस स्वरूप भारत के अलावा अमेरिका , ब्रिटेन , पुर्तगाल , स्विट्जरलैंड , जापान , पोलैंड , नेपाल , चीन और रूस में मिला है। डेल्टा प्लस स्वरूप के मामले महाराष्ट्र के रत्नागिरी और जलगांव तथा केरल और मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों में मिले हैं। भूषण ने कहा कि किसी भी स्वरूप के प्रसार और गंभीरता से यह तय होता है कि यह चिंताजनक स्वरूप है या नहीं। डेल्टा संस्करण भारत सहित दु