पोस्ट

जनवरी, 2019 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

दर्दनाक :

सुल्तानपुर : अंगनाकोल/बसौढ़ी गाव के समीप हुये भीषण सड़क हादसे में तीन यात्रियों की हुयी दर्दनाक मौत, थ्री व्हीलर को अज्ञात वाहन ने मारी जोरदार टक्कर, 3 की हुई मौत व आधा दर्जन भर लोग हुए गम्भीर रूप से घायल, सुल्तानपुर से अयोध्या बीकापुर जारहा था थ्री व्हीलर, गोसाईगंज पुलिस  कार्यवाही में जुटी। 

कर बुलंद आवाज

इमेज
कर बुलंद आवाज    भीख नहीं अधिकार चाहिए, हमको रोजगार चाहिए  दिल्ली के Constitution Club में शिक्षित युवाओं में बढ़ती बेरोजगारी,भर्तियों में भ्रष्टाचार ,रिक्त पदों पर तत्काल भर्ती शुरू करने जैसे मुद्दों पर देश के चालीस से ज्यादा संगठनों ने मिलकर युवा हल्ला बोल कार्यक्रम का आयोजन किया।  इस कार्यक्रम में युवा शक्ति संगठन के सात सदस्यीय दल ने प्रतिनिधित्व किया और व्यापक स्तर बेरोजगारी,बेकारी,आउटसोर्सिंग प्रथा के खिलाफ आवेदन छोड़ो आंदोलन छेड़ो मुहिम छेड़ने का आवाहन किया।   इसी क्रम में संगठन द्वारा उत्तर प्रदेश में इन माँगो को लेकर चलाए जा रहे जॉब फॉर यूथ अभियान का समर्थन स्वराज इंडिया के संस्थापक व राजनीतिक विश्लेषक प्रोफेसर योगेन्द्र यादव, स्वराज इंडिया के राष्ट्रीय कन्वेनर अजीत झा तथा कार्यक्रम मे आए बड़ी संख्या युवाओं ने किया।    http://facebook.com/YSSangathan/ www.yssindia.org

गाँधी को फिर क्यों मारा ?

इमेज
गांधी की हत्या इसलिए हुई कि धर्म का नाम लेने वाली सांप्रदायिकता उनसे डरती थी।  भारत-माता की जड़ मूर्ति बनाने वाली, राष्ट्रवाद को सांप्रदायिक पहचान के आधार पर बांटने वाली विचारधारा उनसे परेशान रहती थी। गांधी धर्म के कर्मकांड की अवहेलना करते हुए उसका मर्म खोज लाते थे और कुछ इस तरह कि धर्म भी सध जाता था, मर्म भी सध जाता था और वह राजनीति भी सध जाती थी जो एक नया देश और नया समाज बना सकती थी।  30 जनवरी पूरे देश में शहीद दिवस के मौके पर राष्ट्रपिता  महात्मा गाँधी  को उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि दी गई। 71 साल पहले 30 जनवरी के दिन   नाथूराम गोडसे  नाम के हत्यारे ने अहिंसा के इस पुजारी की हत्या कर दी थी। लेकिन शर्मनाक घटना ये हुयी कि इसी मौके पर उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में बुधवार को अखिल भारतिया हिन्दू महासभा  के कुछ कार्यकर्ताओं ने एक शर्मनाक हरकत की।  उन्होंने महात्मा गांधी के पुतले पर तीन गोलियां मारीं, पेट्रोल छिड़कर पुतले को फूंका और मिठाई बांटी।  इतना ही नहीं इस दौरान 'गोडसे जिंदाबाद' के नारे भी लगाए गए।  राष्ट्रपिता का इस तरह अपमान करने पर इन लोगों के खिलाफ कितनी सख्त कार्रवाई ह

नशे में डूबता अपना सुल्तानपुर

इमेज
  सुल्तानपुर में फलफूल रहा नशे का काला करोबार                नशे के कारोबार नें सुल्तानपुर शहर में अपनी गहरी जड़े जमा ली है जिसकी चपेट में बड़े घरों के बच्चे, युवक, कारोबारी आकर अपनी जिंदगी तबाह कर रहे है। नगर कोतवाली पुलिस गाहे-बगाहे एकआध कार्यवाही कर इस बढ़ते कारोबार पर अंकुश लगाने के असफल प्रयास का दावा करती रहती है। जबकि अंदरखाने पुलिस पर मिलीभगत से उगाही करते हुए इस धंधे में सहयोग के आरोप लगते रहते हैं । शहर का करौंदिया, विवेक नगर  गभड़िया, मेजरगंज, शास्त्री नगर, दरियापुर, आजाद नगर, नेशनल सिनेमा रोड, किराना मंडी, नवीपुर, स्टेडियम के पीछे, पीडब्ल्यूडी  पर्यावरण पार्क जैसे इलाकों में नशे के कारोबारियों व नशेड़ीयो का जमघट लगा रहता है। सूत्र बताते हैं  नगर कोतवाली पुलिस को  इसकी पूरी जानकारी है पर कोई सटीक कार्यवाही इनके द्वारा नहीं की जाती यहां तक की शहर में इसके विक्रेता स्थल की भी पुलिस को पुख्ता जानकारी है । चरस, स्मैक, इंजेक्शन व गांजे के नशे की चपेट में आए युवा शहर भर में  चोरी छिनैती, टप्पे बाजी आदि घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं । पुलिस इन नशेड़ी युवकों के ऊपर बड़ी कार्यवाही कर

सुल्तानपुर एसपी अनुराग वत्स ने पकड़ा चोरी का सरकारी समान

इमेज
सुल्तानपुर : एसपी अनुराग वत्स ने पकड़ा चोरी का सरकारी समान :                                                          बिजली विभाग के कर्मचारी व अफसरों की मिलीभगत से लाखों रुपए की सामग्री अवैध रूप से  दरियापुर स्थित  पावर हाउस से पार कराने  की सूचना पर एसपी अनुराग वत्स द्वारा  छापा मारकर पिकअप को पकड़कर कोतवाली लाया गया । अभी हाल में ही ट्रांसफार्मर के तेल गायब होने की खबरात के बाद पुलिस के अफसरान की इस ओर नजर थी । एसपी की यह कार्यवाही मातहत कर्मियों के लिए एक मिसाल  है। 

लखनऊ-सुल्तानपुर 4 लेन काम ठप

इमेज
जिला प्रशासन की सुस्ती से लखनऊ-सुल्तानपुर फोर लेन का काम ठप : एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर पी.शिवशंकर ने बताया कि लखनऊ सुल्तानपुर फोर लेन का निर्माण कार्य मई 2017 में शुरू हुआ था। 70 % कार्य पूरा किया जा चूका है, लेकिन खुर्दई बाजार, गोसाईंगंज बाजार, और गंगागंज बाजार में अवैध निर्माण होने के कारण काम बंद करना पड़ा।  उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन इस सन्दर्भ में पत्र लिखा गया है और कई बार कहा भी जा चूका है, इसके बावजूद भी प्रशासन ने अभी तक कोई कार्रवाही नहीं की।                                                  निर्माण कार्य बंद होने के कारण लोगों को रोज जाम की समस्या से जूझना पड़ रहा है।  बता दें कि केंद्र सरकार ने लखनऊ-सुल्तानपुर के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 56 पर फोर लेन बनाने का निर्णय लिया था।  2845 करोड़ के लगत वाली ये परियोजना लगभग 127 किलोमीटर लम्बी है परियोजना में 13 पुल भी शामिल हैं। 

काशी का इतिहास Part-1

इमेज
 काशी का इतिहास                                                           गंगा तट पर बसी काशी बड़ी पुरानी नगरी है। इतने प्राचीन नगर संसार में बहुत नहीं हैं। हजारों वर्ष पूर्व कुछ नाटे कद के साँवले लोगों ने इस नगर की नींव डाली थी। तभी यहाँ कपड़े और चाँदी का व्यापार शुरू हुआ। कुछ समय उपरांत पश्चिम से आये ऊँचे कद के गोरे लोगों ने उनकी नगरी छीन ली। ये बड़े लड़ाकू थे, उनके घर-द्वार न थे, न ही अचल संपत्ति थी। वे अपने को आर्य यानि श्रेष्ठ व महान कहते थे। आर्यों की अपनी जातियाँ थीं, अपने कुल घराने थे। एक राजघराना काशी में जमा। काशी के पास ही अयोध्या में भी तभी उनका राजकुल बसा। उसे राजा इक्ष्वाकु का कुल कहते थे, यानि सूर्यवंश।[1] काशी में चन्द्र वंश की स्थापना हुई। सैकड़ों वर्ष काशी नगर पर भरत राजकुल के चन्द्रवंशी राजा राज करते रहे। काशी तब आर्यों के पूर्वी नगरों में से थी, पूर्व में उनके राज की सीमा। उससे परे पूर्व का देश अपवित्र माना जाता था।   आधुनिक काशी राज्य   आधुनिक काशी राज्य वाराणसी का भूमिहार ब्राह्मण राज्य बना है। भारतीय स्वतंत्रता उपरांत अन्य सभी रजवाड़ों के समान काशी नरेश ने भी अप

AC चोरी की बिजली से चलते हैं

इमेज
  चिराग तले अंधेरा   भिखारीपुर वाराणसी स्थित पूर्वांचल के बिजली विभाग के मुख्यालय की दास्तां अजीबो गरीब है. यहां हर घर में तीन से चार एसी लगे हैं. आपको यह जानकर हैरानी होगी कि ये एसी चोरी की बिजली से चलते हैं.  यहां सैकड़ों ऐसी बिना मीटर के चलाए जाते हैं. जहां एक ओर हमारे माननीय मुख्यमंत्री का कहना है कि वहां 24 घंटे बिजली दो जहां बिजली की चोरी कम है.  बिजली विभाग खुद कर रहा और करा रहा बिजली की चोरी।  विडंबना यह है कि यहां 24 घंटे बिजली रहती है।  भिखारीपुर स्थित विद्युत नगर का यह नजारा है। यहां कटिया फंसा कर सैकड़ों की संख्या में एयर कंडीशनर चलाए जाते हैं।                                                                                                                                                        ब्यूरो चीफ वाराणसी अमित मिश्रा          

पहली बार आज़ाद हिंद फौज के सैनिक परेड में हुए शामिल

इमेज
  पहली बार आज़ाद हिंद फौज के सैनिक परेड में हुए शामिल                 26 जनवरी के दिन भारत ने 70वां गणतंत्र दिवस  मनाया। इस दिन एक से बढ़कर एक झाकियां और जवानों का पराक्रम देखने को मिला। भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल ने 30 डिग्री में जमीन से 18 हज़ार फीट ऊंची बर्फिली चट्टान पर तिरंगा लहराया। तो सूबेदार मेजर रमेश ने लीड करते हुए 9 मोटरसाइकल पर सवार 33 जवानों का शानदार पीरामीड बनाया। लेकिन सबसे खास था पहली बार आजाद हिंद फौज   के 90 साल से अधिक उम्र के चार सैनिक का गणतंत्र परेड में हिस्सा लेना। दिल्ली के राजपथ पर आज़ाद हिंद फौज के चारों जवानों भागमल, ललित राम, हीरा सिंह और पर आंनद यादव ने जीप में सम्मान के साथ बिठाकर परेड में पहली बार हिस्सा लिया। इनकी जीप में सुभाष चंद्र बोस की तस्वीर के साथ-साथ आई एन ए सेनानी लिखा हुआ था।                                                                                                                                                             Netaji Love Story: खतों से यूं रोमांटिक अंदाज़ में बयां करते थे अपना प्यार, आखिरी सांस तक निभाया साथ आज़ाद हिं

अंकुरण फॉउन्डेशन के सदस्यों ने निकाली प्रभात फेरी

इमेज
सुलतानपुर :  गणतंत्र दिवस के अवसर पर अंकुरण फॉउन्डेशन के सदस्यों ने निकाली प्रभात फेरी : सामाजिक संस्था अंकुरण फॉउन्डेशन द्वारा गणतंत्र दिवस के असवर पर प्रातः 7 बजे से सुभाष चन्द्र बोस जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद पूरे शहर में बाइक रैली निकाल कर विभिन्न शहीद प्रतिमाओं पर माल्यार्पण किया गया।। इसके बाद संस्था के सदस्यों द्वारा गोद लिए तिरंगे में सजे आज़ाद जी पार्क में वरिष्ठ पत्रकार राज खन्ना जी , नेत्र चिकित्सक डॉ संदेश एवं बाल रोग विशेषज्ञ डॉ सुधाकर सिंह के कर द्वारा झंडारोहण का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।।संस्था के आरिफ खान ने लोगो से शहर के शहीद पार्कों को साफ सुथरा रखने की अपील की। इस मौके पर जावेद अहमद, अमित बरनवाल, आरिफ खान, डॉ आशुतोष , दीपक जायसवाल, शेखर श्रीवास्तव माधवेन्द्र सिंह, आदर्श सिंह, अर्जुन वर्मा, सौरभ प्रकाश सिंह, शौर्य प्रकाश सिंह, अनुराग वर्मा, सूरज, सत्यम मिश्रा, सोनम, रजत, मुकेश,शोभित, प्रादीप, शुभ, शौर्य,कुलदीप आदि कई लोग मौजूद रहे।।  

काशी की हस्तियों को पद्मश्री पुरस्कार

इमेज
काशी की हस्तियों को  पद्मश्री पुरस्कार                             पद्मश्री पुरस्कारों की घोषणा के बाद काशी में खुशी की लहर दौड़ गई है। पद्मश्री पुरस्कार पाने की सूचना मिलने के पश्चात काशी की बेटी और बास्केटबॉल खिलाड़ी प्रशांित सिंह ने बताया कि यह पुरस्कार में अपने परिवार वालों और मीडिया को समर्पित करना चाहती हूं। उन्होंने कहा कि परिवार वालों तथा मीडिया ने कदम कदम पर मेरा साथ दिया है। उल्लेखनीय है कि सिंह सिस्टर्स के नाम से मशहूर ये चारों सगी बहनें बास्केटबॉल खिलाड़ी है। दिव्या सिंह, आकांक्षा सिंह, प्रशांति सिंह और प्रतिमा सिंह नाम की चारो सगी बहनें बास्केटबॉल खिलाड़ी। इन्हें बास्केटबॉल की दुनिया में लाने वाली प्रियंका सिंह  इन दिनों दक्षिण कोरिया में बास्केटबॉल की कोच है। बुनकरों और शिल्पियों के विकास की पटकथा लिखने वाले डॉक्टर रजनीकांत को भी पद्मश्री पुरस्कार का गौरव प्राप्त हुआ है। डॉ रजनी कांत इसका श्रेय समस्त जनपद वासियों को देते हैं। उनका कहना है कि यह मेरा नहीं शिल्पियों और बुनकरों का सम्मान है।        बिरहा सम्राट हीरालाल यादव को भी पद्मश्री पुरस्कार का गौरव प्राप्त हुआ है। इ

बाजार यहाॅं हो गया।मेरा गांव खो गया ,

इमेज
बाजार  यहाॅं हो गया।मेरा गांव खो गया , मेरा गांव खो गया , मेरा शहर आबाद है। मेरे गांव में  गली थी, मेरे शहर में  गली है । मेरे गांव में भी मोड़ थे, मेरे शहर में भी मोड़ है। वो (गांव) मोड़ मै समझ गया,  अभी मोड़ ये(शहर) अनजान है। मेरे गांव में सड़क थी, मेरे शहर में सड़क है । मेरे गांव में भी धूल थी, मेरे सड़क में भी धूल थी। मेरा..................... । मेरे शहर में न धूल है,  सड़क में  न धूल है। मेरे गांव में महक थी, मेरी सड़क पर महक थी । मेरे शहर यह क्या है? मेरे सड़क में यह क्या है?  मेरा ...............। मेरे गांव में भी भीड़ थी,  सड़क में भी भीड़ थी। मेरे शहर में भी भीड़ है, सड़क में भी भीड़ है। वहां लोगो की भीड़ थी,  यहां भीड़ में लोग है। मेरा................। मोड़ की मुलाकात, व्यथा सब बोल गई । गाँव की गवइयाॅ ,सहज सब बोल गई । मन का मिजाज,  और मन में उतार गई । ठौर खड़े लोग, व्यथा ठौर ही निहार गई । मोड़ मेरे शहर के, भीड़ ही उतार गई । सूनापन जा रहा, भीड़ ही सवार है। हर पथिक अकेला,  गुमसुम निहारता। वेदना व्यथा नही, डरा सा निहारता। जान के शहर में पहचान कही खो गई। मेरा..................।    

आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़

इमेज
दो आतंकियों को मार गिराया     हिंदुस्तान गणतंत्र दिवस का जश्न मनाने में जुटा है और आतंकी कश्मीर घाटी में अपनी नापाक करतूतों को अंजाम दे रहे हैं । शनिवार को गणतंत्र दिवस पर भी आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर हमले किए, जिसमें सीआरपीएफ के पांच जवान घायल हो गए।आतंकवादियों ने कश्मीर घाटी के पुलवामा के पंपोर और खानमो इलाके में हमले किए। आतंकियों ने SOG और CRPF कैंप को निशाना बनाया। इसके बाद सुरक्षा बलों ने आतंकियों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई शुरू कर दी। गणतंत्र दिवस की सुबह तक दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ जारी रही. अब तक सुरक्षा बलों ने दो आतंकियों को मार गिराया है।आतंकियों के शव बरामद करने के साथ ही इनके पास से भारी मात्रा में हथियार और एम्युनिशन भी बरामद किया गया है. इससे पहले इन आतंकियों की संख्या 3 से 4 बताई जा रही थी. ये आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के थे।ये आतंकी गणतंत्र दिवस पर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे, लेकिन सुरक्षा बलों ने उनके मंसूबों में  पानी फेर दिया. इससे पहले गुरुवार को पाकिस्तान ने पुंछ, राजौरी सेक्टर और सुंदरबनी सेक्

महेंद्र पांडे ने कांग्रेस पर कसा तंज

  महेंद्र पांडे ने कांग्रेस पर कसा तंज  वाराणसी के सर्किट हाउस में प्रियंका गांधी के चुनाव लड़ने के सवाल पर तंज कसते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी काशी की जनता के हृदय में बसते है. के चुनाव में नरेंद्र मोदी काशी से भारी बहुमत से विजयी होंगे। उन्होंने काशी के लिए विकास की बयार बहा दी है। प्रियंका गांधी का प्रयोग कांग्रेस के लिए नया नहीं है। प्रियंका गांधी के पोस्टर अमेठी तथा रायबरेली में भी लगते रहे है। 2019 के चुनाव में हम अमेठी तथा रायबरेली सीट भी जीतेंगे.  सचिन पायलट के इस बयान पर कि 3 महीने में तख्तापलट हो जाएगा, महेंद्र पांडे ने चुटकी लेते हुए कहा कि सचिन पायलट के लिए तख्तापलट तो हो चुका है, उन्हें सीएम बनना था, लेकिन डिप्टी सीएम ही बन पाए। शशि थरूर के इस बयान पर कि कांग्रेस में सिर्फ गांधी परिवार की चलती है, उन्होंने कहा कि शशि थरूर कभी कभी सच बोलते हैं। कांग्रेस का परिवारवाद किसी से छुपा नहीं है। वही हमारे माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरे देश को ही अपना परिवार समझते हैं।                                                                                          

'मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी'

इमेज
 'मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी'     कंगना रनौत की फिल्म 'मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' रिलीज़ हो चुकी है. कंगना के इस महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट को दर्शकों का मिक्स रिएक्शन मिला है. अपनी रिलीज़ से पहले ही कई कारणों से चर्चा में रही मणिकर्णिका की राष्ट्रपति भवन में स्पेशल स्क्रीनिंग रखी गई थी. इसके बाद सेलेब्स प्रीमियर हुआ और फिर फिल्म को रिलीज़ किया गया. फिल्म की स्पेशल स्क्रीनिंग में राष्ट्रपति कोविंद और बीजेपी के सीनियर नेता लाल कृष्ण आडवाणी भी मौजूद थे. फिल्म के गाने सेंसर बोर्ड चीफ प्रसून जोशी ने लिखे हैं. इसके अलावा करणी सेना और कंगना के बीच भी फिल्म को लेकर विवाद छाया रहा. जाहिर है, फिल्म अपनी रिलीज़ से पहले अच्छी खासी पब्लिसिटी पा चुकी थी. ऐसे में कंगना की इस फिल्म के पहले दिन के कलेक्शन पर सभी की नज़रें हैं. मणिकर्णिका को भारत भर में 3000 स्क्रीन्स पर रिलीज़ किया गया था. इसके अलावा ये फिल्म विदेशों में 700 स्क्रीन्स पर रिलीज़ हुई थी. माना जा रहा था कि फिल्म अपनी रिलीज़ के पहले दिन 13-15 करोड़ की कमाई कर सकती है लेकिन फिल्म ने पहले दिन 9 करोड़ का बिजनेस क

सुप्रीम कोर्ट ने सवर्णों को आर्थिक आधार पर 10% आरक्षण देने के सरकार के फैसले पर रोक लगाने से इनकार

इमेज
सुप्रीम कोर्ट ने सवर्णों को आर्थिक आधार पर 10% आरक्षण देने के सरकार के फैसले पर रोक लगाने से इनकार       सुप्रीम कोर्ट ने सवर्णों को आर्थिक आधार पर 10% आरक्षण देने के सरकार के फैसले पर रोक लगाने से फिलहाल इनकार कर दिया है। अदालत ने इस मामले में शुक्रवार को कहा कि हम इस पर विचार करेंगे। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई और जस्टिस संजीव खन्ना की बेंच ने इस मामले में सरकार से जवाब मांगा है।कारोबारी तहसीन पूनावाला ने सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की। याचिका में उन्होंने कहा कि सरकार के फैसले से अधिकतम 50 फीसदी आरक्षण देने की सीमा का उल्लंघन होता है।सरकार शीत सत्र में सवर्णों को 10% आरक्षण देने के लिए 124वां संविधान संशोधन लाई थी। यह लोकसभा और राज्यसभा से पास हो चुका है। इसे राष्ट्रपति की ओर से भी मंजूरी मिल गई है। गुजरात, उत्तरप्रदेश, झारखंड जैसे कुछ राज्यों में यह लागू भी हो गया है।  आरक्षण का लाभ सामान्य वर्ग के गरीबों को शिक्षा और नौकरियों में मिलेगा। हालांकि ये 10% आरक्षण एससी-एसटी और ओबीसी वर्ग के लिए पहले से लागू 49% आरक्षण से अलग है। आर्थिक आधार पर सामा

नीरव मोदी के रायगढ़ जिले के अलीबाग में 121 और मुरुड में 151 अवैध

इमेज
भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के आलीशान बंगले को गिराने की कार्रवाई शुरूआत।       भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के आलीशान बंगले को गिराने की कार्रवाई शुरू हो गई है।  महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में अलीबाग बीच के पास करीब 20 हजार वर्गफुट में बना यह बंगला अवैध है । पर्यावरण नियमों को ताक पर रखकर बनाए गए इस बंगले तोड़ने के लिए सब डिविजनल अधिकारी शरद पवार पहुंच गए हैं। अधिकारियों का कहना है कि इस बंगले को तोड़ने में कई दिन लग सकते हैं।  नीरव मोदी पर 13 हजार करोड़ रुपए के पीएनबी घोटाले का आरोप है।  वह अपने इस बंगले में पार्टियां करता था।  हाल में ही वर्तमान जिला मजिस्ट्रेट विजय सूर्यवंशी ने इस बंगले को अवैध करार दिया था।  इससे पहले तत्कालीन जिला मजिस्ट्रेट एसओ सोनेवाणे ने इसे वैध करार दिया था।  वर्तमान जिला मजिस्ट्रेट के द्वारा बंगले को अवैध करार दिए जाने के बाद अब इसे जमींदोज करने की कार्रवाई शुरू की गई है।  इससे पहले ईडी ने बंगले से कई मूल्यवान चीजों को निकालकर उसे कलेक्टर ऑफिस में जमा करा दिया है।  ईडी ने एक महीने पहले दी थी अनुमति बता दें, भगोड़े नीरव मोदी से जुड़े केस की ज

पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी को भी भारत रत्‍न

इमेज
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, नानाजी देशमुख और भूपेन हजारिका को भारत रत्न                                           गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न के नामों की घोषणा कर दी गई। समाजसेवी नानाजी देशमुख और संगीतकार-गायक भूपेन हजारिका को मरणोपरांत देश के सर्वोच्च सम्मान से सम्मानित किया जाएगा। इसके साथ पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी को भी भारत रत्‍न से दिया जाएगा। राष्‍ट्रपति भवन की ओर से जारी बयान में भारत रत्न के नामों का ऐलान किया गया। जिसमें पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, नानाजी देशमुख और भूपेन हजारिका को भी भारत रत्न दिया जाएगा। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी जहां लंबे समय तक राजनीति में रहे और देश के राष्ट्रपति पद तक पहुंचे हैं । प्रणब मुखर्जी 2012 से 2017 तक भारत के 13वें राष्ट्रपति रहे हैं तो वहीं नानाजी देशमुख समाजसेवा के लिए जाने जाते हैं। प्रसिद्ध गायक और संगीतकार भूपेन हजारिका ने अपने संगीत और गायन से देश विदेश में खासी लोकप्रियता अर्जित की थी। भारत रत्न के लिए नामों के ऐलान के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तीनों नामचीन हस्तिय

BSNL टावर के लिये आये डीजल की हो रही चोरी

BSNL टावर के लिये आये डीजल का गलत इस्तमाल जिला बिजनौर तहसील चंद्पुर के ग्राम खासपुरा मे हो रहा हे BSNL टावर के लिये आये डीजल का गलत इस्तमाल। ग्राम मे भारत संचार निगम लिमिटेड का टावर बरसो से सही काम कर रहा था इसलिये ग्राम व आस पास के ग्रामो मे भी लोगो ने BSNL के sim इस्तमाल कर रहे थे लेकिन टावर के कर्मचारी ज़र्नेटर के लिये आये डीजल को बेंच पैसे कमा रहे हे जिस से  SIM उपभोक्ताओं को काफी परेशानी हो रही है।कई बाद लोगो द्वारा शिकायत की गई परन्तु अधिकारियो की मिलीभगत के चलते कोई कार्रवाई नही हो रही जिसके चलते लोगो ने अपने SIM बदलना शुरू कर दिया है और सीधे BSNL को दोहरा नुकसान भी हो रहा है ।                                                                                                                                      ब्यूरोचीफ बिजनौर नौसाद अंसारी 

सरकार की मंसा पर आनंद शर्मा का विचार

इमेज
सरकार की मंसा पर आनंद शर्मा का विचार  2019 का ये साल चुनावी वर्ष होने के कारण रोमांच से भरा होगा। सियासत में वजूद कायम रखने के लिए सभी दल अपनी अपनी रड़नीति अपनायेंगे, कुछ सही कुछ गलत,फैसला जनता का होगा। जो भी हो राजनीतिक हांड़ी गरम हो चुकी है। प्रियंका गाँधी के महासचिव बनाये जाने से उत्तरप्रदेष की राजनीति में एक नया मोड आ गया है। आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। सभी TV चैनलों ने अपने अपने हिसाब से राजनीतिक डिबेट चालू कर  दिया है। सियासत का बाजार गर्म है। ऐसे में कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने मौजूदा सरकार के आने वाले वित्त बजट को लेकर सरकार की मंसा पर एक बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। आनंद शर्मा ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिये सरकार के मंसूबों पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने लिखा कि   " सरकार की मंशा संदिग्ध है। पहले किए गए झूठे वादों के औंधें मुंह गिरने के बाद, इस बजट के जरिए सरकार जनता को गुमराह करने के लिए बड़ी घोषणाएं करना चाहती है जो संविधान और संसदीय मर्यादाओं के खिलाफ हैं।" सरकार के मंसूबों के साथ उन्होंने बजट पेश करने के तरीके पर भी सवाल खड़ा किया।  उन्होंने

बसपा ने दो दर्जन से अधिक सीटों पर किये प्रभारी घोषित

बसपा ने दो दर्जन से अधिक सीटों पर किये प्रभारी घोषित बसपा ने दो दर्जन से अधिक सीटों पर किये प्रभारी घोषित...सहारनपुर से हाजी फजलुर्रहमान, बिजनौर से इकबाल अहमद व मेरठ से याकूब कुरैशी को प्रभारी बनाया। सपा-बसपा गठबंधन से जुड़ी बड़ी खबर। लोकसभा की 17 आरक्षित सीटों का मामला।10 पर बसपा और 7 पर सपा लड़ेगी चुनाव।2 दर्जन से अधिक सीटों पर BSP प्रत्याशी तय। मोहनलालगंज से सीएल वर्मा प्रभारी बने। मेरठ- याकूब कुरैशी, नोएडा-संजय भाटी।आगरा- मनोज सोनी, अकबरपुर-रामजी शुक्ल। मछलीशहर-टी राम , गाजीपुर-अफजाल अंसारी। भदोही- रंगनाथ मिश्रा, मिश्रिख-विजय कुमार। सहारनपुर- हाजी फजलुर्रहमान, अमरोहा-जियाउद्दीन। बिजनौर-इकबाल अहमद,फतेहपुर सीकरी-सीमा उपाध्याय। अंबेडकर नगर-राकेश पांडेय प्रभारी बनाए गए।बीएसपी के कई सीटों के प्रभारी तय किए गए।                                                                                                                                                   ब्यूरोचीफ बिजनौर नौसाद अंसारी

बदलता बनारस

इमेज
 बदलता बनारस  ढेरों सौगात   भूतो न भविष्‍यतो, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र के उत्‍थान को लेकर जिस कदर सक्रिय रहते हैं और ढेरों सौगातों से बनारस को निहाल कर दिया है, बदलता बनारस, देखिए तस्वीरों में.                                                                                                                     ब्यूरोचीफ वाराणसी अमित मिश्रा