काशी की हस्तियों को पद्मश्री पुरस्कार

काशी की हस्तियों को  पद्मश्री पुरस्कार


                        



 पद्मश्री पुरस्कारों की घोषणा के बाद काशी में खुशी की लहर दौड़ गई है। पद्मश्री पुरस्कार पाने की सूचना मिलने के पश्चात काशी की बेटी और बास्केटबॉल खिलाड़ी प्रशांित सिंह ने बताया कि यह पुरस्कार में अपने परिवार वालों और मीडिया को समर्पित करना चाहती हूं। उन्होंने कहा कि परिवार वालों तथा मीडिया ने कदम कदम पर मेरा साथ दिया है। उल्लेखनीय है कि सिंह सिस्टर्स के नाम से मशहूर ये चारों सगी बहनें बास्केटबॉल खिलाड़ी है। दिव्या सिंह, आकांक्षा सिंह, प्रशांति सिंह और प्रतिमा सिंह नाम की चारो सगी बहनें बास्केटबॉल खिलाड़ी। इन्हें बास्केटबॉल की दुनिया में लाने वाली प्रियंका सिंह  इन दिनों दक्षिण कोरिया में बास्केटबॉल की कोच है। बुनकरों और शिल्पियों के विकास की पटकथा लिखने वाले डॉक्टर रजनीकांत को भी पद्मश्री पुरस्कार का गौरव प्राप्त हुआ है। डॉ रजनी कांत इसका श्रेय समस्त जनपद वासियों को देते हैं। उनका कहना है कि यह मेरा नहीं शिल्पियों और बुनकरों का सम्मान है।
       बिरहा सम्राट हीरालाल यादव को भी पद्मश्री पुरस्कार का गौरव प्राप्त हुआ है। इसके पूर्व उन्हें यश भारती सम्मान सहित अन्य कई सम्मान प्राप्त हुए हैं। संगीत के क्षेत्र में बहुमुखी प्रतिभा के धनी डॉक्टर राजेश्वर आचार्य को पद्मश्री पुरस्कार का गौरव प्राप्त हुआ है। वह इसे बाबा की कृपा करार देते हैं। डॉक्टर राजेश्वर आचार्य लगातार 12 घंटे जलतरंग वादन करके तथा 13 घंटे ध्रुपद गायकी करके दो बार वैश्विक कीर्तिमान बना चुके है।


                                                                                                                ब्यूरो चीफ वाराणसी अमित मिश्रा


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप