कारवां की डी-कंपनी पर प्रधानमंत्री से सवाल :


कारवां की  डी-कंपनी पर प्रधानमंत्री से सवाल :


   कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का मोदी सरकार पर प्रहार, कारवां पत्रिका में छपे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के बेटे की कंपनी की खबर पर प्रधानमंत्री मोदी से ट्वीट कर पुछा सवाल "राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के बेटे की कंपनी टैक्स हेवन में मोदी जी कुछ कहना चाहेंगे? नोट बंदी का लाभ भारत में अमित शाह को और विदेश में डोभाल परिवार को? क्या यह सच है? “ना खाउंगा ना खाने दूँगा” एक और जुमला?"


किसने सोचा होगा कि 2019 की जनवरी में जज लोया की मौत पर 27 रिपोर्ट छापने वाली कारवां पत्रिका डोवाल को डी-कंपनी का तमगा दे देगी I कौशल श्रॉफ नाम के एक खोजी पत्रकार ने अमरीका, इंग्लैंड, सिंगापुर और केमैन आइलैंड से दस्तावेज़ जुटा कर डोभाल के बेटों की कंपनी का खुलासा किया है. कारवां पत्रिका के अनुसार ये कंपनियां हेज फंड और ऑफशोर के दायरे में आती हैं I टैक्स हेवन वाली जगहों में कंपनी खोलने का मतलब ही है कि संदिग्धता का प्रश्न आ जाता है और नैतिकता का भी I


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप