सीएम योगी ने टटोली विकास योजनाओं की नब्ज

सात दिन में तय हो लोकार्पणशिलान्यास का काम
पीएम मोदी के प्रस्तावित दौरे को लेकर सीएम योगी ने टटोली विकास योजनाओं की नब्ज
 शाम को मातहतों संग समीक्षा बैठक तो रात में धुआंधार विकास कार्यो का किया निरीक्षण



अपने संसदीय क्षेत्र में हुए विकास कार्यो का लोकार्पण करने 19 फरवरी को आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावित दौरे को लेकर शासन- प्रशासन एलर्ट मोड पर है। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय प्रवास पर शुक्रवार की शाम बनारस पहुंचे और देर रात तक ताबड़तोड़ विकास कार्यो का निरीक्षण कर तैयारियों को परखा। सर्किट हाउस में बैठक खत्म होने के बाद करीब सवा नौ बजे सीएम का काफिला शहर में चल रहे विकास कार्यो के निरीक्षण को निकला। विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर पर पहुंचकर सीएम ने कुछ सुझाव दिए तो वहीं मंदिर परिक्षेत्र के बारे में अन्य जानकारियां भी हासिल की। इसके अलावा सीएम ने बीएचयू कैंसर हॉस्पिटल की प्रगति देखी तो वहीं नगर निगम शहीद उद्यान पार्क में बन रहे सिटी कमांड सेंटर की भी तैयारियों को देखा। हिदायत दी कि सप्ताह भर के अंदर सभी काम खत्म हो।
 सीएम योगी आदित्यनाथ ने पंचकोशी रोड पर अधिक जोर देते हुए कहा कि- पंचकोशी परिक्रमा मार्ग शिवरात्रि तक ठीक से चलने योग्य बना लिया जाए। जिससे श्रद्धालुओं को असुविधा न होने पाए। कुंभ के बाद शैव अखाड़े के लोग काशी आएंगे, इसलिए उन्हें बेहतर सुविधाएं मुहैया हो।
 मीटिंग में वाराणसी में निर्माणाधीन अन्य विभिन्न परियोजनाओं यथा- पार्को के सुंदरीकरण, शहर की सड़क जंक्शन सुंदरीकरण, चौराहों के उचीकरण, शाही नाला का सफाई कार्य, वरुणा नदी चैनेलाइजेशन कार्य, शहर में हेरिटेज विद्युत लाइट आदि के प्रगति की समीक्षा की गई।
पीएम मोदी द्वारा लोकार्पण एवं शिलान्यास होने वाली परियोजनाओं का डीएम सुरेंद्र सिंह ने बिंदुवार पावरप्ले से प्रेजेंटेशन प्रस्तुत किया।
सर्किट हाउस के बैठक में राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार अनिल राजभर, सूचना राज्य मंत्री डॉ। नीलकंठ तिवारी, मेयर मृदुला जयसवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष अपराजिता सोनकर, एमएलसी डॉ लक्ष्मण आचार्य, एमएलसी अशोक धवन, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, विधायक उत्तरी रविंद्र जायसवाल, एडीजी पीबी रामाशास्त्री, कमिश्नर दीपक अग्रवाल आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
                                                                                                                                        ब्यूरो चीफ वाराणसी अमित मिश्रा


 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप