गोवा के नए मुख्यमंत्री बने प्रमोद सावंत

मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद से ही गोवा में राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई थीं :



काफी जद्दोजहद के बाद आखिरकार प्रमोद सावंत गोवा के नए मुख्यमंत्री बन गए हैं। विधानसभा अध्यक्ष रहे प्रमोद सावंत ने मंगलवार रात करीब पौने दो बजे राजभवन में पद और गोपनीयता की शपथ ली। उनके अलावा 11 विधायकों को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई गई। प्रमोद सावंत की सरकार में दो उपमुख्यमंत्री होंगे। ये हैं महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) के सुधिन धवलिकर और गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) के अध्यक्ष विजय सरदेसाई। बाकी सभी मंत्री वे ही हैं जो मनोहर पर्रिकर सरकार में भी मंत्री थे।      


रविवार को मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद से ही गोवा में राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई थीं। इससे पहले, राज्य में कांग्रेस ने भी सरकार बनाने का दावा पेश किया था। रविवार शाम को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी गोवा पहुंचे। खबरों के मुताबिक पहले सुधिन धवलिकर और विजय सरदेसाई, दोनों ने ही मुख्यमंत्री पद की मांग की थी। उनका कहना था कि मनोहर पर्रिकर के अलावा वे भाजपा में किसी को मुख्यमंत्री पद के लायक नहीं मानते थे इसलिए उन्होंने पर्रिकर का समर्थन किया था।


मामला अड़ता देखकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दखल दिया। इसके बाद दो उपमुख्यमंत्रियों वाला फॉर्मूला निकाला गया। छोटे से राज्य गोवा के लिए दो उपमुख्यमंत्री होना असाधारण माना जा रहा है। 40 सदस्यों वाली गोवा विधानसभा में फिलहाल प्रभावी संख्या 36 है और भाजपा के पास 20 विधायकों का समर्थन है। 2017 में हुए चुनाव में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी। लेकिन भाजपा ने क्षेत्रीय दलों के सहयोग से सरकार बना ली। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप