रघुराम राजन : जीडीपी वृद्धि दर के आंकड़े संदेहास्पद

आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने यह भी कहा कि जीडपी के आंकड़ों से जुड़े संदेह को दूर करने के लिए एक निष्पक्ष समूह की नियुक्ति की जानी चाहिए ,



भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने भारत के 7% की आर्थिक वृद्धि दर के आंकड़े पर संदेह जताते हुए सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के आंकड़ों को लेकर उपजे संदेह को दूर करने के लिए एक निष्पक्ष समूह की नियुक्ति किए जाने की बात भी कही। रघुराम राजन ने एक टीवी चैनल से साक्षात्कार में कहा, ‘जब देश में नौकरियों का सृजन नहीं हो रहा है, तब सात प्रतिशत की वृद्धि दर का आंकड़ा संदेह के घेरे में आ जाता है, संदेह के इन बादलों को दूर किया जाना चाहिए।’ राजन के मुताबिक उन्हें यह नहीं पता है कि मौजूदा सांख्यिकी आंकड़े किस ओर इशारा कर रहे हैं, लेकिन देश की सही वृद्धि दर का पता लगाने के लिए इन्हें ठीक किये जाने की जरूरत है। उन्होंने आगे कहा, ‘मैं नरेंद्र मोदी सरकार में एक मंत्री को जानता हूं, जिन्होंने कहा था कि नौकरियां नहीं हैं तो हम कैसे सात प्रतिशत की वृद्धि दर हासिल कर रहे हैं।’ हालांकि, राजन ने मंत्री के नाम का खुलासा नहीं किया। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

प्रधान पद की प्रत्याशी की सुबह मौत, दोपहर में विजयी घोषित

घर बैठे कोरोना की जांच की जा सकेगी- ICMR