56 के अनुसार अफ़सरों को रिटायरमेंट

56 के अनुसार  अफ़सरों को रिटायरमेंट


Image result for sita raman vitt mantralay           


केंद्र सरकार ने जबरन वसूली, रिश्वत और यौन उत्पीड़न के आरोप में करीब एक दर्जन कर (टैक्स) अधिकारियों को अनिवार्य रूप से सेवानिवृत्त कर दिया है। अनिवार्य सेवानिवृत्ति की गाज करीब 12 वरिष्ठ अधिकारियों पर गिरी है जिनमें आयकर विभाग के मुख्य आयुक्त, प्रधान आयुक्त और आयुक्त रैंक के अधिकारी शामिल हैं। इनकम टैक्स विभाग के  बड़े अफ़सरों ने वॉलंटरी रिटायरमेंट ले लिया है. ख़बर है कि वित्त मंत्रालय ने नियम 56 के अनुसार इन अफ़सरों को रिटायरमेंट लेने के लिए कहा था. इन अफ़सरों में अशोक अग्रवाल (ज्वाइंट कमिश्नर, इनकम टैक्स), एसके श्रीवास्तव (कमिश्नर), होमी राजवंश (आईआरएस)1985 बैच के आईआरएस अधिकारी होमी राजवंश, ए.बी.बी. राजेंद्र प्रसाद, अजय कुमार सिंह, ए. बी. अरुलप्पा रविंद्र, श्वेताभ सुमन, राम कुमार भार्गव और विवेक बत्रा का नाम शामिल है. अशोक अग्रवाल पर भ्रष्टाचार को लेकर जांच चल रही थी और उन्हें 1999 से लेकर 2014 के बीच निलंबित भी किया गया था. वहीं एसके अग्रवाल पर दो महिला अफ़सरों के यौन शोषण का भी मामला चल रहा था.


 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पेंशनरों की विशाल सभा

जातीय गणना के आंकड़े जारी

सीमा हैदर से उलट कहानी, अंजू पहुंच गई पाकिस्तान.