रिकवरी

अपात्रों को शौंचालय देने पर सी0डी0ओ0 ने दिया रिकवरी का आदेश
श्रावस्ती 26 जुलाई, 2019/सू0वि0/विकासखण्ड गिलौला के अन्तर्गत एकडगवा के ग्राम प्रधान श्रीमती शान्ती देवी व ग्राम सचिव बुझई राम द्वारा 12 ऐसे व्यक्तियों को शौंचालय दिया गया है जिनका नाम न तो सूची में है और न ही वे पात्र है फिर भी उनको शौंचालय के नाम पर धनराशि दी गई है। जब यह प्रकरण प्रकाश में आया तो मुख्य विकास अधिकारी अवनीश राय ने ग्राम प्रधान व सचिव को नोटिस देकर दुरूपयोग धनराशि जमा करने का निर्देश दिया। मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत बेसलाइन सर्वे-2012 में छूटे एवं बढ़े हुए परिवारों को पुनः सर्वे के उपरान्त पात्रजनों को शौंचालय दिया जाना था। एकडगवा ग्राम प्रधान शांति देवी व सचिव बुझईराम की ओर से 173 शौंचालय आवंटित किया गया था जिसमें 12 ऐसे लोगों को शौंचालय का लाभ दिया गया जिनका नाम बेसलाइन सर्वे-2012 व एल0ओ0बी0 फीडिंग में नही था फिर भी उनको शौंचालय हेतु धनराशि दी गई है। उक्त सभी 12 लाभार्थियों को दी गयी धनराशि रू0 144000/-(रूपये एक लाख चवालिस हजार) शासकीय धनराशि के दुरूपयोग की श्रेणी में है यह आदेशों का उल्लघंन कर लाभ देने के कारण उक्त धनराशि की आधी-आधी धनराशि 72000-72000 पत्र प्राप्ति के 03 दिवस के भीतर जनपद के ई0बी0आर0 खाता संख्या-50479482533 इलाहाबाद बैंक विकास भवन में जमा करना सुनिश्चित करें यदि धनराशि जमा नही की गई तो सम्बन्धित के विरूद्ध शासकीय कार्यवायी सुनिश्चित की जायेगी, यदि ग्राम सचिव द्वारा आधी धनराशि नही जमा की गई तो उनके वेतन से अग्रिम 06 माह तक बराबर किश्तों में धनराशि की वसूली कराने हेतु जिला पंचायतरात अधिकारी को निर्देश दिया है
 रिपोर्टर दिलीप कुमार मिश्रा


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

प्रधान पद की प्रत्याशी की सुबह मौत, दोपहर में विजयी घोषित

घर बैठे कोरोना की जांच की जा सकेगी- ICMR