मैगसेसे पुरस्कार विजेता संदीप पांडेय घर में नजरबंद

लखनऊ ११ अगस्त २०१९ : जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए जाने और घाटी में जारी बंदी के विरोध में रविवार को धरना देने की घोषणा करने के बाद सामाजिक कार्यकर्ता और मैगसेसे पुरस्कार विजेता संदीप पांडेय को आज घर में नजरबंद कर दिया गया। फोन पर बात-चीत में संदीप पांडेय ने बताया कि अचानक से हमारे घर पर सुबह पुलिस की चार वैन आई और उन्होंने हमसे कहा कि शहर में निषेधाज्ञा लागू होने की वजह से हम धरना-प्रदर्शन नहीं कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि निषेधाज्ञा स्वतंत्रता दिवस के बाद हटेगी। मैंने उनसे कहा कि निषेधाज्ञा हटने के बाद ही हम धरना-प्रदर्शन करेंगे। फिर भी वे मेरे घर के बाहर खड़े हैं। किसी को भी घर के अंदर आने व घर के बाहर जाने नहीं दिया जा रहा है।



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पेंशनरों की विशाल सभा

जातीय गणना के आंकड़े जारी

सीमा हैदर से उलट कहानी, अंजू पहुंच गई पाकिस्तान.