PM का राष्ट्र के नाम संबोधन

 


जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में एक नए युग की शुरुआत-PM



जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार राष्ट्र को संबोधित किया. अपने संबोधन में पीएम नरेंद्र मोदी ने 370 हटने पर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को बधाई दी. साथ ही उन्होंने बताया कि अनुच्छेद 370 हटने से लोगों को क्या-क्या लाभ मिलेंगे. कैसे विकास में गति आएगी. पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कई बातें कहीं. उनका संबोधन लगभग 40 मिनट तक चला. इस दौरान उन्होंने विकास, अनुच्छेद 370, नौकरियां, ईद, आतंकवाद, पाकिस्तान समेत कई शब्द बोले।
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार राष्ट्र को संबोधित किया. अपने संबोधन में पीएम नरेंद्र मोदी ने 370 हटने पर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को बधाई दी. साथ ही उन्होंने बताया कि अनुच्छेद 370 हटने से लोगों को क्या-क्या लाभ मिलेंगे. कैसे विकास में गति आएगी. पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कई बातें कहीं. उनका संबोधन लगभग 40 मिनट तक चला. इस दौरान उन्होंने विकास, अनुच्छेद 370, नौकरियां, ईद, आतंकवाद, पाकिस्तान समेत कई शब्द बोले। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  जम्मू कश्मीर के लोगों को भरोसा दिया कि जल्द ही घाटी के हालात सामान्य होंगे और उनकी जिंदगी बेहतर होगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में एक नए युग की शुरुआत हुई है। उन्होंने आगे कहा कि अनुच्छेद 370 हटने  के बाद जम्मू कश्मीर के नौजवानों को पर्याप्त रोजगार के साधन उपलब्ध होंगे। खाली पड़े सरकारी पदों की भर्ती शुरू की जाएगी।


जो सपना सरदार पटेल का था, बाबा साहेब अंबेडकर का था, डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी का था, अटल जी और करोड़ों देशभक्तों का था, वो अब पूरा हुआ है। अब देश के सभी नागरिकों के हक़ और दायित्व समान हैं : पीएम मोदी


-एक राष्ट्र के तौर पर, एक परिवार के तौर पर, आपने, हमने, पूरे देश ने एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। एक ऐसी व्यवस्था, जिसकी वजह से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के हमारे भाई-बहन अनेक अधिकारों से वंचित थे, जो उनके विकास में बड़ी बाधा थी, वो हम सबके प्रयासों से अब दूर हो गई है: पीएम मोदी


- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में एक नए युग की शुरुआत हुई है। 


ऐसा माना जा रहा था कि पीएम मोदी का संबोधन जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म करने के फैसले पर केंद्रित रहेगा। संसद ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को निरस्त कर राज्य के विशेष दर्जे को खत्म कर दिया है।


इसके अलावा जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को दो अलग-अलग केंद्र शासित क्षेत्र बनाने से संबंधित विधेयक को भी मंजूरी मिल गई है। इसके बाद से राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया है।


प्रधानमंत्री मोदी ने इससे पहले गत 27 मार्च को सेटेलाइट रोधी मिसाइल द्वारा एक जीवित सेटेलाइट को मार गिराने की क्षमता हासिल करने की घोषणा करते हुए राष्ट्र को संबोधित किया था। मोदी का राष्ट्र के नाम यह संबोधन ऐसे समय हो रहा है, जब स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र के नाम उनके औपचारिक संबोधन में कुछ ही दिन शेष बचे हैं।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप