दो-तीन दिनों में मौसम के तेजी से बदलने की उम्मीद है।

उत्तर प्रदेश में अब सर्दी ने अंगड़ाई लेनी शुरू कर दी है। शुक्रवार इस हफ्ते का सबसे सर्द दिन रह सकता है। अभी दो दिन मौसम ऐसा ही रहने की उम्मीद है। लखनऊ स्थित आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक डॉ. जेपी गुप्ता ने बताया कि आने वाले दो-तीन दिनों में मौसम के तेजी से बदलने की उम्मीद है।
शुक्रवार को गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है। हवाओं के साथ कहीं-कहीं ओलावृष्टि भी हो सकती है, जिसके बाद धीरे-धीरे चलने वाली ठंडी हवायें तामपान को बढ़ने नहीं देंगी। दिन में भी अधिकतम पारा 18 डिग्री सेल्सियस के नीचे ही रहने का अनुमान है। डॉ. जेपी गुप्ता ने बताया कि पहाड़ों पर बर्फबारी के बाद पछुआ हवाओं के चलने से उत्तर प्रदेश में मौसम करवट ले रहा है। बारिश के बाद गलन भरी ठंड और बढ़ जाएगी, जिसके चलते मध्य दिसंबर तक कड़ाके की ठंड का अहसास होने लगेगा। कोहरा भी बढ़ेगा।
मौसम विभाग के मुताबिक, 14 दिसंबर की सुबह घना कोहरा छाया रहेगा। हालांकि, दोपहर बाद धूप खिल सकती है, लेकिन सर्दी से राहत नहीं मिलेगी।


         मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ ने  वरिष्ठ व जिला स्तर के  अधिकारियों  को निर्देश जारी किए हैं कि अचानक बरसात के कारण बढ़ी सर्दी के दृष्टिगत समस्त रैन बसेरों पर समस्त आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।
जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, समस्त उपजिलाधिकारी सहित वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा क्षेत्र में भ्रमण कर यह सुनिश्चित किया जाए कि कोई भी व्यक्ति खुले में ना सोए,  रैन बसेरों में न सिर्फ सुविधाएं हो बल्कि इनका उपयोग जरूरतमंद लोगों द्वारा किया जाए।
रैन बसेरों में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा संबंधित थानाध्यक्षों के माध्यम से सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जाएं।  इसके अलावा जनप्रतिनिधियों के माध्यम से कंबल वितरण एवं  महत्वपूर्ण स्थानों पर अलाव जलाये जाए।


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप