चीन से फैले कोरोना वायरस ने भारत समेत दुनियाभर के कई देशों में फैला

 


   चीन में कोरोना कोहराम मचा रहा है . चीन से फैले कोरोना वायरस ने भारत समेत दुनियाभर के कई देशों में हाहाकार मचा दिया है। यह वायरस भारत, अमेरिका, तिब्बत, थाइलैंड, जापान और मंगोलिया में लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। मुंबई के बाद राजस्थान और बिहार में भी कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। बिहार में इस वायरस से संक्रमित मरीज मिला है। चीन से लौटी एक लड़की में कोरोना वायरस के लक्षण मिले हैं, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। रविवार को जयपुर में भी चीन से लौटे एक स्टूडेंट में कोरोना वायरस के लक्षण मिले थे, जिसका इलाज चल रहा है। इस खतरनाक वायरस की वजह से चीन में 80 लोगों की मौत हो चुकी है और 2,744 संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक, इनमें से 461 मरीजों की हालत बेहद गंभीर बनी हुई है।


कोरोना वायरस पिछले साल दिसंबर महीने में सबसे पहले चीन के वुहान शहर में फैला। यहां से यह वायरस तेजी से पूरे चीन में फैलने लगा और लोगों को चपेट में लेने लगा। वुहान के बाद यह वायरस बीजिंग, शंघाई, मकाओ और हांगकांग पहुंचा और लोग इससे संक्रमित होने लगे। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग का कहना है कि इस वायरस का संक्रमण काल 10 दिन होता है और इन दिनों में इससे बचाव के लिए विशेष ख्याल रखना पड़ता है। जापान में पहले ही इस वायरस से संक्रमित दो मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। दरअसल, चीन या फिर वहां के वुहान शहर से दूसरे देशों में आने वाले यात्रियों के जरिए ही यह वायरस अन्य देशों में कदम रख  रहा है। हॉगकॉग और भारत में चीन से लौटे यात्रियों के जरिए ही इस वायरस ने कदम रखा है। इसी वजह से चीन पहले ही अपने 12 शहरों के 3.5 करोड़ से ज्यादा निवासियों के यात्रा पर प्रतिबंध लगा चुका है। 


क्या है कोरोना वायरस?
कोरोना वायरस एक तरह का संक्रमित होने वाला वायरस है। विश्व स्वास्थ्य संगठन इस वायरस को लेकर लोगों को चेता चुका है। यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में संक्रमण के जरिए फैलता है। दुनिया के तमाम देशों में यह वायरस चीन से आने वाले यात्रियों के जरिए ही पहुंच रहा है। इस वायरस के लक्षण निमोनिया की ही तरह हैं। यह वायरस कोरोनो वायरस परिवार से संबंध रखने वाला वायरस है।


कोरना वायरस जानवरों में भी पाया जाता है। समुद्री जीव-जंतुओं के जरिए यह वायरस चीन के लोगों में फैला। दक्षिण चीन में समुद्र के आसपास रहने वाले लोगों को सबसे पहले इस वायरस ने चपेट में लिया, जिनमें वुहान शहर है। दक्षिण चीन के बाजार जहां काफी मात्रा में समुद्री जीव मिलते हैं, उनके जरिए यह वायरस लोगों में फैला। इस बाजार में समुद्री जीव जिंदा भी मिलते हैं और उनका मांस भी मिलता है। यहीं से इस वायरस ने चीन के निवासियों को अपनी चपेट में लिया


 दिल्ली की फिजा में राजनीतिक सरगर्मी और तेज हो गई है। इसके साथ ही नागरिकता संशोधन कानून पर देश के अलग अलग हिस्सों में विरोध हो रहा है। 


नागरिकता संशोधन कानून के तहत आवेदकों को कौन-कौन से दस्तावेज देने होंगे केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इसके लिए नियमावली का निर्माण कर लिया है।
 ​
निर्भया गैंग रेप केस में दोषी करार मुकेश सिंह की उस अर्जी पर सुनवाई होनी है जिसे राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने खारिज कर दी है।


वहीं, शरजील की गिरफ्तारी में जुटी क्राइम ब्रांच की जांच में सामने आया है कि शरजील का मोबाइल 25 जनवरी की शाम को पटना में बंद हुआ था। इसके बाद से उसका कोई पता नहीं है। दिल्ली पुलिस की दो टीम बिहार, दो दिल्ली और एक टीम मुंबई में उसकी तलाश कर रही है। खबर लिखे जाने तक पुलिस टीम ने शरजील के परिजनों से पूछताछ शुरू कर दी थी, लेकिन पुलिस को उसके बारे में कोई सुराग नहीं मिला था। गाजियाबाद जनपद को मिला दो नए थानों का तोहफा. कौशांबी और टीला मोड़ दो नए थाने बनकर तैयार हो चुके हैं .आज से थानों में काम काज शुरू होगा. दोनों थानों के सीयूजी नंबर गाजियाबाद के एसएसपी कलानिधि नैथानी द्वारा किए गए जारी.


स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह का आज ग़ाज़ियाबाद दौरा होना है. निजी कंपनी का उद्धघाटन करने पहुंचेंगे उत्तर प्रदेश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह. जय प्रताप सिंह के साथ राज्यमंत्री एवं विधायक अतुल गर्ग भी मौजूद रहेंगे.  मोदीनगर क्षेत्र में दोपहर 12:30 बजे है कार्यक्रम.

28 January History Update: इतिहास (History) से अच्छा शिक्षक कोई दूसरा हो ही नहीं सकता. इतिहास सिर्फ अपने में घटनाओं को नहीं समेटे होता है बल्कि इन घटनाओं से भी आप बहुत कुछ सीख सकते हैं. इसी कड़ी में जानेंगे आज 28 जनवरी को देश-दुनिया में क्या हुआ था, कौन सी बड़ी घटनाएं घटी थीं जिसने इतिहास के पन्नों पर अपना प्रभाव छोड़ा. जानेंगे, आज के दिन जन्में खास व्यक्तियों के बारे में और बात करेंगे उनकी जो दुनिया से इस दिन विदा होकर चले गए.


 Important events of January 28


1725: रूस में रोमानोफ़ परिवार के तीसरे नरेश पीटर महान का 53 वर्ष की आयु में निधन हुआ.
1819: सर स्टैमफोर्ड रैफल्स ने सिंगापुर की खोज की.
1835: पश्चिम बंगाल में कलकत्ता मेडिकल कॉलेज की शुरु हुआ.
1846: ब्रिटिश सेना ने अलीवाल के युद्ध में रंजोध सिंह की सेना को हराया.
1878: पहला टेलीफोन एक्सचेंज अमेरिका के न्यू हेवन में बना.
1887: फ्रांस की राजधानी पेरिस में एफिल टॉवर का काम शुरू.
1909: अमेरिका का नियंत्रण क्यूबा पर से समाप्त हो गया.


1933: चौधरी रहमत अली ख़ाँ ने मुस्लिम लीग की मांग के तहत बनने वाले अलग राष्ट्र के लिए पाकिस्तान का नाम सुझाया.
1942: लीबिया के बेंगाजी पर जर्मनी की सेना ने कब्जा किया.
1943: एडोल्फ़ हिटलर ने के सभी युवकों को फ़ौज में जबरन भर्ती का आदेश दिया.
1961: एचएमटी घड़ियों की पहली फैक्ट्री बेंगलुरु में शुरू की गयी.
1992: अल्ज़ीरिया में तीन दशक तक सत्ता में रहने के बाद ‘नेशनल लिबरेशन फ़्रंट’ ने इस्तीफ़ा दिया.
1998: भारत के पूर्व प्रधानमंत्री ‘राजीव गांधी हत्याकांड’ में 26 अभियुक्तों को मृत्युदंड दिया गया.
1999: भारत में पहली बार 28 जनवरी को संरक्षित भ्रूण से मेमने का जन्म हुआ.
28 जनवरी को जन्मे व्यक्ति – Born on 28 January
1684: जर्मनी के संगीतकार जार्ज फ़्रेडरेक हेंडल का जन्म हुआ.
1882: मोरक्को के राष्ट्रवादी और स्वतंत्रताप्रेमी नेता अमीर अब्दुल करीम रीफ़ी का जन्म हुआ.


28 जनवरी को हुए निधन – Died on 28 January
1984: प्रसिद्ध भारतीय अभिनेता तथा फ़िल्म निर्माता-निर्देशक सोहराब मोदी का निधन.
2017: भारतीय मूल की प्रसिद्ध लेखिका भारती मुखर्जी का निधन.


Congress questions Padma award to Adnan Sami

Many ministers in Maha govt earned position on merit: Pawar

Govt to sell 100 pc stake in Air India; issues bid document


India to take steps for possible evacuation of Indians from Coronavirus-hit Wuhan in China

Amit Shah dares Kejriwal to visit Shaheen Bagh,asserts Modi govt will not spare anti-nationals


No power can stop Kashmiri Pandits from returning to Kashmir: DM

Nirbhaya case: SC to hear plea of one of four death row convicts against dismissal of mercy plea


No scope for outside interference in India's internal matters: Venkaiah Naidu

WB assembly passes anti-CAA resolution, demands its repeal


BJP doesn't want to open Shaheen Bagh route, it's doing dirty politics over this issue: Kejriwal

Govt signs accord with NDFB, ABSU to resolve Bodo issue


Certain political parties acting irresponsibly; spreading fear over CAA, NRC: Ramdev


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप