रोहित शर्मा के दो छक्के

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक गहमागहमी जोरों पर है। चुनाव प्रचार के बीच वार- पलटवार का दौर भी जारी है। इस बीच गुरुवार को निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले में दोषी की क्यूरेटिव प्रिटीशन पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है। दिल्‍ली में विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी के कई नेताओं की ओर से ऐसे बयान हैं, जिसे लोगों ने भड़काऊ बताया है। अब पार्टी के राष्ट्रीय सचिव और दिल्ली के सह-प्रभारी तरुण चुग की ओर से भी ऐसा ही बयान आया है।


हेमिल्टन में खेले गए टी20 मैच में भारत ने न्यू जीलैंड को सुपर ओवर में हरा दिया। निर्धारित 20 ओवर तक दोनों टीमों ने 179 रन बनाए। मैच का नतीजा सुपर ओवर से हुआ। न्यू जीलैंड ने सुपर ओवर में पहले बैटिंग करते हुए 17 रन बनाए। भारतीय टीम को आखिरी दो गेंदों पर 10 रनों की जरूरत थी और ऐसे में रोहित शर्मा ने लगातार दो छक्के लगाकर भारत को जीत दिला दी। मैच प्रजेंटेशन में रोहित ने बताया कि उस दौरान उनके दिमाग में क्या चल रहा था।


रोहित ने कहा कि मैंने कभी सुपर ओवर में बल्लेबाजी नहीं की है। मुझे इस बात का अंदाजा नहीं था कि यहां कैसे बैटिंग की जाए। रोहित ने कहा, 'मैं समझ नहीं पा रहा था कि क्या पहली गेंद से हमला किया जाए या फिर थोड़ा रुका जाए।' 


आखिरी दो छक्कों के बारे में क्या बोले रोहित 


भारत को आखिरी दो गेंद पर जीतने के लिए 10 रन चाहिए थे। रोहित ने लगातार दो छक्के लगाकर भारत को जीत दिला दी। भारतीय उपकप्तान से जब इनके बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'मैं बस स्थिर रहना चाहता था। मेरी कोशिश थी कि इन दो गेंदों पर अपना सर्वश्रेष्ठ खेलूं।'  रोहित ने बनाए 65 रन . भारत ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर 5 विकेट पर 179 रन बनाए। भारत की ओर से रोहित ने 65 रनों की पारी खेली। 40 गेंदों की पारी में उन्होंने छह चौके और तीन छक्के लगाए। उन्होंने कहा कि हमने बल्लेबाजी अच्छी की लेकिन मुझे अपना विकेट खोने की निराशा है। रोहित ने अपनी पारी के बारे में कहा, 'मुझे अपना विकेट खोने पर दुख है। पहले दो मैचों में मैंने रन नहीं बनाए थे। आज मैं अच्छा खेलना चाहता था।' रोहित ने कहा कि उन्हें पता था कि आज मैच जीतकर हम सीरीज जीत जाएंगे। महत्वपूर्ण मुकाबलों में बड़े खिलाड़ियों को जिम्मेदारी उठानी होती है।


'निर्भया' की तरह 'गुड़िया रेप केस' में चर्चा में रहा है। 7 साल बाद अब 5 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप और हैवानियत के दोषियों को सजा मिलने रही है।

दिल्ली चुनाव के लिए राजनीतिक दल एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। बीजेपी ने आम आदमी पार्टी पर आरोप लगाया गया है कि कहीं न कहीं सीलमपुर हिंसा के लिए वो जिम्मेदार थी।

चीन इस समय Coronavirus की मार से जूझ रहा है वहीं इससे निपटने के लिए वहां की सरकार युद्धस्तर पर जुटी है तो वहीं खौफ में ग्रामीण अपने 'देसी तरीके' अपना रहे हैं।


बजट में न सिर्फ सरकार के पूरे साल का लेखा जोखा होता है बल्कि भविष्य में क्या कुछ हो सकता है इसके संकेत भी होते हैं। आइए जानते किस वित्त मंत्री ने पेश किया था ड्रीम बजट।
प्रयागराज : वसंत पंचमी के खास मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संगम में लगाई डुबकी
वरिष्ठ संवाददाता, प्रयागराज। वसंत पंचमी के खास मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार सुबह प्रयागराज के संगम में डुबकी लगाई। इस मौके पर सीएम के भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह समेत अन्य लोगों ने भी संगम घाट पर पवित्र स्नान किया। इन सभी ने पहले जत्थे के साथ गंगा में स्नान किया।


       स्नाने के बाद सीएम स्थानीय कार्यक्रमों में भी शामिल हो सकते हैं। हालांकि सीएम का कार्यक्रम घोषित नहीं है। माना जा रहा है कि सीएम स्नान के बाद प्रयागराज से रवाना हो जाएंगे। फिर भी ऐहतियातन प्रशासन ने एक टुकड़ी तैयार की है। दूसरा धड़ा गंगायात्रा के साथ होगा। एडीएम सिटी एके कनौजिया की देखरेख में गंगा यात्रा को कौशाम्बी बॉर्डर तक छोड़ा जाएगा। तीसरा धड़ा संगम स्नान के लिए तैयार होगा। वसंत पंचमी का स्नान होने के कारण यहां पर भी सुरक्षा की दृष्टि से जरूरत होगी। सिटी मजिस्ट्रेट रजनीश मिश्र सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट मेला में तैनात होंगे। अफसरों को निर्देश दिया गया है कि मेला क्षेत्र किसी कीमत पर न छोड़ें। चौथा सबसे प्रमुख स्नान पर्व होने के कारण सभी प्रमुख मार्गों पर खुद ध्यान दें। भीड़ नियंत्रित करें। सुबह पांच बजे से अरैल में पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है।


'राम मंदिर निर्माण में अयोध्या आंदोलन के संतों की अहम भूमिका होगी'। माघ मेला में संतों से आशीर्वाद लेने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भरोसा दिलाया है कि मंदिर निर्माण के लिए बनने वाले ट्रस्ट में अयोध्या आंदोलन से जुड़े संतों की अहम भूमिका होगी। बुधवार को गंगा यात्रा की अगुवाई करने प्रयागराज पहुंचे मुख्यमंत्री ने यह आश्वासन पुरी पीठ के शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती, श्रीराम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास, स्वामी वासुदेवानंद व संतोष दास से मुलाकात के दौरान दिया। उन्होंने मंदिर निर्माण पर संतों से बातचीत भी की। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण जल्द शुरू होगा।



उत्तर प्रदेश में पिछले वित्तीय वर्ष के मुकाबले इस बार 10.50 लाख से अधिक गरीब व जरूरतमंद छात्र-छात्राओं को पढ़ाई जारी रखने के लिए फीस भरपाई और छात्रवृत्ति की सरकारी मदद दी गई है। समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री ने बताया कि चालू वित्तीय वर्ष 2019-20 में सामान्य वर्ग, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक व अन्य पिछड़ा वर्ग के कुल 56,66,996 छात्र/छात्राओं को छात्रवृत्ति की धनराशि 3554.44 करोड़ रुपये बैंक खातों में भेजी गई है। पिछले वित्तीय वर्ष 2018-19 में इन सभी वर्गों के 46,11,749 छात्र/छात्राओं को छात्रवृत्ति की 3316.60 करोड़ रुपये की राशि बैंक खातों में भेजी गई थी। इस बार पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में 10,55,247 (23%) अधिक छात्र-छात्राएं सरकारी मदद से लाभान्वित हुए हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 2019-20 में छात्रवृत्ति योजना के तहत दो अक्तूबर 2019 को पहले चरण में छात्रवृत्ति व फीस भरपाई की रकम बांटी जाएगी। जो छात्र-छात्राएं वंचित रह गये थे उन्हें इस बार 26 जनवरी को उनके बैंक खातों में छात्रवृत्ति/शुल्क प्रतिपूर्ति की धनराशि भेजी गई।


जम्मू व कश्मीर पर बना पश्चिमी विक्षोभ पूर्वी दिशा की ओर बढ़ रहा है। इसके प्रभाव से विकसित हुआ चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पंजाब पर दिखाई दे रहा है। इस सिस्टम से एक ट्रफ उत्तर प्रदेश के उत्तरी भागों तक बना हुआ है।


एक विपरीत चक्रवात बंगाल की खाड़ी के पश्चिमी और मध्य भागों पर दिखाई दे रहा है। पिछले 24 घंटों के दौरान जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में काफी अच्छी बारिश और हिमपात देखने को मिला। जबकि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गरज के साथ बारिश की गतिविधियां दर्ज की गई हैं। गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड, ओडिशा, बिहार के कुछ हिस्सों सहित छत्तीसगढ़, उत्तरी मध्य प्रदेश और उत्तर-पश्चिमी राजस्थान में छिटपुट बारिश दर्ज की गई है।


पंजाब, हरियाणा और उत्तरी राजस्थान के कुछ हिस्सों में न्यूनतम तापमान में 3-7 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है। जबकि दक्षिण राजस्थान और गुजरात में 2-4 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज हुई। साथ ही पश्चिम तट के साथ-साथ पूर्वी मध्य प्रदेश और विदर्भ के कुछ हिस्सों में भी 1-2 डिग्री सेल्सियस की मामूली गिरावट आई है।


पश्चिमी हिमालयी भागों में आज शाम तक हल्की से मध्यम बारिश जारी रहने की संभावना है। उत्तर प्रदेश के पश्चिम और मध्य भागों सहित पूर्वी जिलों, बिहार और झारखंड के कुछ स्थानों पर गरज के साथ बारिश होने की संभावना है।


गंगीय पश्चिम बंगाल और तटीय ओडिशा में भी बारिश के आसार हैं। उत्तर-पूर्वी राज्यों खासकर असम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में बारिश की गतिविधियाँ एक बार फिर बढ़ेंगी। उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश में एक-दो स्थानों पर छिटपुट बारिश हो सकती है। पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश और उत्तरी महाराष्ट्र में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में गिरावट आने की संभावना है।

Death toll in Nashik bus accident climbs to 26: Police


Nirbhaya case: Another death row convict


Vinay moves mercy plea before President


Coronavirus: India asks China for permission to operate 2 flights to bring back nationals
Getting banned for the right to speech not shocking: Kamra


JD(U) expels Prashant Kishor and Pavan Varma


US Trade Representative Lighthizer likely to visit India next month to finalise trade package

Cabinet approves raising of upper limit for permitting abortions to 24 weeks


Delhi court sends Sharjeel Imam to 5-day police custody


Delhi polls: EC orders removal of Anurag Thakur, Parvesh Verma as BJP's star campaigners


Badminton ace Saina Nehwal joins BJP
PFI, linked NGO officials meet ED to seek more time on summons


Made my TV debut as the adventure show offered real-life Entertainment: Rajini


Language used by BJP leaders appalling: Chidambaram


Sena slams Centre for handing Elgar Parishad case to NIA


PM, FM have absolutely no idea what to do next on economy: Rahul


Developed nations not acting on reducing carbon emissions: Javadekar


Nirbhaya: SC dismisses plea of death row convict against dismissal of mercy plea


BJP MP Verma claims to have received death threat call




 


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप