प्राइवेट स्कूलों की मनमानी वसूली से अविभावक परेशान:

 

पूरा विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है, ऐसे में स्वाभाविक तौर पर सभी की जीविका पर बड़ा आघात हुआ है। लोग अपने आर्थिक हालात से जूझ रहे हैं और प्राइवेट स्कूल ऑनलाइन क्लास के नाम पर अच्छी वसूली कर रहे है। न केवल ट्यूशन फीस बल्कि कंप्यूटर फीस, साइंस फीस, सिलेबस फीस जैसे अनेकों चार्ज लगा के अविभावकों पर दबाव बनाया जा रहा है। इन सब का कारण है सरकार की उदासीनता। सरकार को एक स्पष्ट गाइडलाइन जारी करनी चाहिए कि ऐसी स्थिति में स्कूल कितनी फीस और क्या क्या चार्ज ले सकते है, जिससे स्कूल प्रशासन का भी नुकसान न हो और अविभावकों पर भी दबाव न बने।

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप