2022 में होगी नई शिक्षा नीति के तहत पढ़ाई


देश में कोविड-19 के सक्रिय मामले बढ़कर 9.55 लाख के पार पहुंच गए हैं तथा कुल सक्रिय मामलों में 75 फीसदी से अधिक मामले 9 सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में से आए हैं। देश में कोरोना के कुल सक्रिय मामले 9,55,029 हैं। महाराष्ट्र, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश का फिलहाल कुल सक्रिय मामलों में 50 फीसदी का योगदान है। महाराष्ट्र इस सूची में 2,71,000 से अधिक मामलों के साथ शीर्ष पर है जबकि उसके बाद कर्नाटक में 98 हजार से अधिक और आंध्र प्रदेश में 96,000 से अधिक सक्रिय मामले हैं। विभिन्न राज्यों से प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक आज देर रात तक संक्रमण के 86,344 से अधिक नए मामले सामने आने से संक्रमितों का आंकड़ा 46 लाख के पार 46,46,069 हो गया। इस दौरान स्वस्थ लोगों की संख्या में भी इजाफा हुआ। देश में 73,057 कोरोना मरीजों के स्वस्थ होने से संक्रमण मुक्त लोगों की संख्या बढ़कर 36,13,040 हो गई है। इसी अवधि में 949 कोरोना मरीजों की मौत से मृतकों की संख्या 77,253 हो गई है। संक्रमण के मामले में भारत कोरोनावायरस से सर्वाधिक गंभीर रूप से प्रभावित अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर आ गया है। वैश्विक महाशक्ति माने जाने वाले अमेरिका में कोरोनावायरस से संक्रमित होने वालों की संख्या 64.01 लाख के पार पहुंच गई है और अब तक 1.91 लाख से अधिक लोगों की इससे जान जा चुकी है। महाराष्ट्र और कर्नाटक समेत विभिन्न राज्यों से मिली जानकारी के अनुसार चिंता की बात यह है कि स्वस्थ होने वाले मरीजों की तुलना में नए संक्रमितों में वृद्धि होने के कारण सक्रिय मामलों में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई है।देश में सक्रिय मामले 20.55 प्रतिशत और रोग मुक्त होने वालों की दर 77.76 प्रतिशत है, जबकि मृतकों की दर 1.66 फीसदी है।


अभी कुछ दिनों पहले कांग्रेस में बवाल एक खत को लेकर था। खत का मजमून यह था कि अब पार्टी का हाल और हुलिया दोनों बदलना चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता है को अगले 50 साल तक विपक्ष में ही रहना होगा। उस खत पर कद्दावर लोगों के दस्तखत थे जिसमें गुलामनबी आजाद के साथ कपिल सिब्बल और शशि थरूर के भी हस्ताक्षर थे। कांग्रेस महासचिवों की सूची से गुलाम नबी आजाद का नाम गायब.


पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के साथ पैंगॉन्ग त्सो में चल रहे तनाव के बीच भारतीय सेना को कुछ खास कामयाबी मिली है। फिंगर 4 पर भले ही चीन मौजूद हो। लेकिन भारतीय फौज ने हाल ही में कुछ ऊंचाई नोला इलाके को कब्जे में ले लिया है जिसके बाद चीन की बौखलाहट बढ़ गई है। चीन पहले भारतीय फौज की कामयाबी को नकार रहा था।


पिछले साल अपनी जमीन पर खेलते हुए पहली बार विश्व कप जीतकर इतिहास रचने वाली इंग्लैंड की टीम शुक्रवार रात पस्त हो गई। चिर-प्रतिद्वंद्वी ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ मैनचेस्टर में खेले गए सीरीज के पहले वनडे में मेहमान टीम ने इंग्लिश टीम को 19 रन से शिकस्त दे दी।


चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा, चीन सीमा पर तनाव घटाने के क़दम उठाने को तैयार। उधर, तिब्बत में युद्धाभ्यास भी कर रही चीनी सेना। अरुणाचल प्रदेश से अगवा पांच भारतीयों को कल भारत को सौंपेगा चीन।


 रिया चक्रवर्ती की जमानत अर्जी खारिज। स्पेशल कोर्ट से शौविक सहित पांच दूसरे लोगों को भी नहीं मिली जमानत। वहीं, कंगना रनौत के बंगला मामले में केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा, कंगना को दिया जाए मुआवजा।


इकॉनमी की खराब हालात का एक और आंकड़ा आया। जुलाई में औद्योगिक उत्पादन 10.4 प्रतिशत कम रहा।


 सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश का निधन। लिवर सिरोसिस के इलाज के लिए दिल्ली के अस्पताल में भर्ती थे।


 अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाले में सीबीआई ने केंद्र सरकार से पूर्व रक्षा सचिव शशिकांत शर्मा पर मुकदमा चलाने की इजाजत मांगी। शर्मा देश के कंट्रोलर एंड ऑडिटर जनरल भी रह चुके हैं।


राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA) ने जेईई मेन्स परीक्षा 2020 का परिणाम घोषित कर दिया है। छात्र आधिकारिक वेबसाइट jeemain.nta.nic.in पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं।


मुंबई में नौसेना के पूर्व अधिकारी के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया है। पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई। ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से जुड़ा एक मैसेज फॉरवर्ड किया था।


कांग्रेस ने महासचिवों की सूची जारी की है जिसमें गुलामनबी आजाद का नाम ड्राप किया गया है, हालांकि उनके साथ मल्लिकार्जुन खड़गे का भी नाम शामिल है।


उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में 3 लुटरे मास्कर लगाकर ज्वैलरी की दुकान में घुसते हैं और बंदूक की नोंक पर लूटकर चले जाते हैं। पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है।


इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच शुक्रवार को वनडे सीरीज का आगाज हुआ। मेहमान ऑस्ट्रेलियाई टीम टी20 सीरीज में हार के बाद वनडे सीरीज में बदला पूरा करना चाहती थी लेकिन उससे ठीक पहले उनको करारा झटका लग गया। ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज व पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ पहले वनडे मैच से बाहर हो गए।


उत्तर प्रदेश में विधानसभा 8 की सीटों के लिए उपचुनाव होने जा रहे हैं। यह चुनाव बीजेपी के साथ साथ समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के लिए भी अहम है।


मशहूर सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश का 80 साल की उम्र में निधन हो गया है।उनका जन्म उनका जन्म 21 सितंबर 1939 को आंध्र प्रदेश में हुआ था।


कर्नाटक के मंड्या जिले के एक प्रसिद्ध मंदिर में तीन पुजारियों की हत्या कर दी गई है। इन पुजारियों को धर्मस्थल पर डकैती करने आए लुटेरों ने मार डाला। मंदिर के अंदर सो रहे पुजारियों को पत्थरों से मार दिया गया।


बिहार विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान नहीं हुआ है। लेकिन उससे ठीक पहले जेडीयू और आरजेडी दमखम दिखाने के लिए तैयार हैं। वैसे तो उसका सीधा असर विधानसभा के चुनावों पर पड़ने की उम्मीद कम है। लेकिन उस जीत का मनोवैज्ञानिक असर दोनों दलों पर पड़ सकता है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को देश की नई उम्मीदों, नई आवश्यकताओं की पूर्ति का माध्यम बताया है। उन्‍होंने कहा कि इसके पीछे पिछले चार-पांच वर्षों की कड़ी मेहनत है, हर क्षेत्र, हर विधा, हर भाषा के लोगों ने इस पर दिन रात काम किया है। 'भाषा शिक्षा का माध्‍यम, पूरी शिक्षा नहीं', नई शिक्षा नीति पर बोले पीएम मोदी, मैथमैटिकल सोच पर दिया जोर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि 2022 में देश जब आजादी का 75वां साल मनाएगा, छात्र राष्ट्रीय शिक्षा नीति के नए पाठ्यक्रम के तहत पढ़ाई करेंगे। प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के तहत '21वीं सदी में स्कूली शिक्षा' विषय पर एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए बच्चों को कम से कम पांचवीं कक्षा तक मातृभाषा या स्थानीय भाषा में पढ़ाने की जरूरत पर जोर दिया। हालांकि उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति में किसी भी भाषा के सीखने पर रोक नहीं है और बच्चे अंग्रेजी या किसी भी अंतरराष्ट्रीय भाषा की पढ़ाई कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस पर किसी को भी आपत्ति नहीं है। साथ ही कहा कि भारतीय भाषाओं को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। नई शिक्षा नीति को लेकर गैर भाजपा शासित कुछ राज्यों की आलोचनाओं के बीच उन्होंने यह टिप्पणी की है। कुछ विपक्षी दलों ने आरोप लगाया है कि सत्तारूढ़ भाजपा हिंदी को बढ़ावा देने पर काम कर रही है जबकि सरकार ने इन आरोपों को खारिज किया है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति नए भारत की, नई उम्मीदों की, नई आवश्यकताओं की पूर्ति का माध्यम है और राष्ट्रीय शिक्षा नीति की इस यात्रा के पथ-प्रदर्शक देश के शिक्षक हैं। उन्होंने कहा कि अब तक हमारे देश में अंक तथा अंक पत्र आधारित शिक्षा व्यवस्था हावी थी, लेकिन अब हमें शिक्षा में आसान और नए-नए तौर-तरीकों को बढ़ाना होगा। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति से नए युग के निर्माण के बीज पड़े हैं और यह 21वीं सदी के भारत को नई दिशा प्रदान करेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) का ऐलान होने के बाद बहुत से लोगों के मन में कई सवाल आ रहे हैं। मसलन, ये शिक्षा नीति क्या है? ये कैसे अलग है, इससे स्कूल और कॉलेजों में क्या बदलाव आएगा। उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले शिक्षा मंत्रालय ने ‘माएगोव’ पोर्टल पर राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करने के बारे में देशभर के शिक्षकों से उनके सुझाव मांगे थे जिसमें एक सप्ताह के भीतर ही 15 लाख से ज्यादा सुझाव मिले हैं। उन्होंने शिक्षकों, अभिभावकों, राज्यों और गैर सरकारी संगठनों का संदर्भ देते हुए कहा, जब देश अपनी आजादी का 75वां साल मना रहा होगा हर छात्र नई शिक्षा नीति द्वारा तैयार दिशा-निर्देश के तहत पढ़ाई करेगा। यह हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि एनईपी में बच्चों पर ध्यान केंद्रित किया गया है, इसमें अन्वेषण, गतिविधियों और मनोरंजक तरीकों से सीखने पर जोर दिया गया है। मोदी ने कहा कि पिछले तीन दशकों में दुनिया का हर क्षेत्र बदल गया, हर व्यवस्था बदल गई।इन तीन दशकों में हमारे जीवन का शायद ही कोई पक्ष हो जो पहले जैसा हो, लेकिन वो मार्ग, जिस पर चलते हुए समाज भविष्य की तरफ बढ़ता है, हमारी शिक्षा व्यवस्था, वो अब भी पुराने ढर्रे पर ही चल रही थी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करने के अभियान में प्राचार्य, शिक्षक पूरे उत्साह से हिस्सा ले रहे हैं। उन्होंने कहा, यह फैसला किया गया कि जब हम 2022 में अपनी आजादी के 75 साल पूरा करेंगे, छात्र नए पाठ्यक्रम के साथ नए भविष्य की ओर कदम बढ़ाएंगे।प्रधानमंत्री ने शिक्षा को छात्रों के जीवन से जोड़ने की वकालत की और कहा कि बच्चों के लिए नए दौर के अध्ययन का मूलमंत्र होना चाहिए- भागीदारी, खोज, अनुभव, अभिव्यक्ति तथा उत्कृष्टता l


अगले 24 घंटों के दौरान तटीय कर्नाटक, केरल, दक्षिण-पूर्वी गुजरात, सौराष्ट्र, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और असम समेत पूर्वोत्तर भारत के राज्यों में कई स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश होने की संभावना है। महाराष्ट्र के तटीय और अंदरूनी भागों, दक्षिणी मध्य प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओड़ीशा, बिहार, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल, अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह, पुद्दुचेरी और लक्षद्वीप में भी हल्की से मध्यम बारिश के बीच एक-दो स्थानों पर भारी बौछारें गिरने का अनुमान है। पूर्वी उत्तर प्रदेश, दक्षिण-पूर्वी राजस्थान, आंतरिक कर्नाटक, तमिलनाडु में कुछ स्थानों पर हल्की वर्षा हो सकती है। देश के बाकी हिस्सों में मॉनसून कमजोर रहेगा।



China sets up military base at Finger 5 of Pangong Lake, cutting off Indian Army


Drugs case: Court denies bail to Rhea, Showik and 4 others


NEP aims to remove marksheet pressure: PM


Aren't you anguished by treatment I am given by your govt in Maharashtra: Kangana to Sonia Gandhi


Urgent need for Pakistan to take immediate, irreversible action against terror groups: Indo-US joint statement


Medium-intensity quake hits Palghar district in Maharashtra


Maha govt had nothing to do with Kangana's office demolition: Pawar


Indian, Chinese armies expected to hold Corps Commander-level talks early next week


Social activist Swami Agnivesh dies at Delhi hospital


Delhi court convicts nine ISIS operatives in terror case


Maha govt thinks war against corona over, only battle left is against Kangana: Fadnavis


5 missing youths from Arunachal likely to be handed over by China on Saturday: Rijiju


Rajnath Singh holds high-level meeting on situation in eastern Ladakh


Don't demolish shanties, Delhi govt writes to Centre


Rahul Gandhi makes first appearance at defence panel meet


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

प्रधान पद की प्रत्याशी की सुबह मौत, दोपहर में विजयी घोषित

घर बैठे कोरोना की जांच की जा सकेगी- ICMR