किसानों ने लाल क़िले पर फहराया खालसा पंथ का झंडा, शहीदों का अपमान

 

किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हालात बिगड़े। किसानों ने लाल क़िले पर फहराया खालसा पंथ का झंडा। जगह-जगह बैरिकेड तोड़े। पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़। ट्रैक्टर परेड के लिए निर्धारित मार्ग से हटकर प्रदर्शनकारी किसानों का एक समूह मंगलवार को लालकिले में घुस गया और राष्ट्रीय राजधानी स्थित इस ऐतिहासिक स्मारक के कुछ गुंबदों पर झंडे लगा दिए। रैली के दौरान आईटीओ पर ट्रैक्टर पलटा, एक किसान की मौत। उपद्रियों द्वारा लालकिले पर धार्मिक झंडा लहराने पर कंगना रनौत ने प्रियंका चोपड़ा और दिलजीत दोसांझ पर निशाना साधा है। कंगना ने दिलजीत-प्रियंका पर साधा निशाना, लिखा-'पूरी दुनिया हंस रही हैं, यही चाहिए था न तुम्हें'. ऐसे में सवाल यह है कि आखिर वो किसान नेता कहां है जो शांतिपूर्ण परेड का दावा कर रहे थे। ट्रैक्टर परेड में हुए उपद्रव में करीब डेढ़ सौ पुलिसकर्मी घायल। अलग-अलग थानों में दर्ज हुई 15 एफआईआर।  यह आजादी के लिए बलिदान देने वाले शहीदों का अपमान। हिंसा ने आंदोलन को किया दागदार।

आईएमएफ ने मंगलवार को जारी अपने ताजा विश्व आर्थिक परिदृश्य में वृद्धि का अनुमान जताया है। यह अर्थव्यवस्था में तेजी से पुनरुद्धार को बताता है। वर्ष 2020 में महामारी के कारण इसमें 8 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान है। मुद्राकोष ने अद्यतन रिपोर्ट में 2021 में 11.5 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान जताया। इस लिहाज से अगले साल भारत बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में एकमात्र देश होगा जिसकी वृद्धि दर दहाई अंक में होगी। वृद्धि के लिहाज से चीन 2021 में 8.1 प्रतिशत के साथ दूसरे स्थान पर होगा। उसके बाद क्रमश: स्पेन (5.9 प्रतिशत) और फ्रांस (5.5) का स्थान रहने का अनुमान है।आईएमएफ ने आंकड़ों को संशोधित करते हुए कहा कि 2020 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 8 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान है। चीन एकमात्र बड़ा देश है जिसकी वृद्धि दर 2020 में सकारात्मक 2.3 प्रतिशत रहने का अनुमान है। मुद्राकोष के अनुसार 2022 में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 6.8 प्रतिशत और चीन की 5.6 प्रतिशत रहने का अनुमान है।इस ताजा अनुमान के साथ भारत ने दुनिया की तीव्र आर्थिक वृद्धि वाला विकासशील देश का दर्जा फिर से हासिल कर लिया है। इस महीने की शुरुआत में आईएमएफ की प्रबंध निदेशक क्रिस्टलीन जार्जीएवा ने कहा था कि भारत ने वास्तव में महामारी और उसके आर्थिक प्रभाव से निपटने के मामले में निर्णायक कदम उठाया है।उन्होंने कहा था कि भारत की जितनी आबादी है और जिस तरह से लोग आस-पास रहते हैं, उसमें लॉककाउन बड़ा कदम था। उसके बाद भारत ने लक्षित पाबंदियां और लॉकडाउन लगाया। आईएमफ प्रमुख ने कहा कि इसके साथ नीतिगत कदम उठाए गए। अगर आप संकेतकों को देखें तो भारत आज कोविड पूर्व स्तर पर पहुंच गया है यानी अर्थव्यवस्था में उल्लेखनीय रूप से पुनरुद्धार हुआ है।

देश में 20 लाख लोगों का हुआ वैक्सीनेशन। कर्नाटक में सबसे ज्यादा करीब ढ़ाई लाख लोगों को लगा टीका। उधर- अमेरिका, ब्राजील और भारत के बाद ब्रिटेन में भी कोरोना से मरने वालों की संख्या एक लाख के पार पहुंची।

ट्रैक्टर परेड में हिंसा की वजह से ट्रेन पकड़ पाने वालों का पैसा लौटाएगा रेलवे। मंगलवार रात 9 बजे तक की ट्रेन छूटने पर रिफंड के लिए किया जा सकता है अप्लाई।

नरमी के साथ खुले एशियाई बाज़ार। यूरोपीय मार्केट्स में बढ़त के साथ हो रहा कारोबार। वहीं, अमेरिकी बाज़ारों में गिरावट का रुख।

किसान आंदोलन को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने बुलाई उच्चस्तरीय बैठक। दिल्ली में सुरक्षा बढ़ाई गई। वहीं, विपक्ष ने सरकार को घेरा। एनसीपी प्रमुख शरद पवार बोले- जिस तरह आंदोलन को हैंडल किया गया, वह खेदजनक। विपक्ष किसानों के साथ है। पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने नए कृषि क़ानूनों को ग़लत बताते हुए वापस लेने की मांग की। हरियाणा के गृह सचिव राजीव अरोड़ा ने कहा कि वाट्सऐप, फेसबुक, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया मंचों के जरिए अफवाहें ना फैलायी जाएं, इसलिए इंटरनेट सेवा रोक दी गयी है।



गणतंत्र दिवस समारोह में भारतीय सेना ने दिखाई ताकत। पहली बार राफेल जेट भी परेड का हिस्सा बना। बांग्लादेश की टुकड़ी भी पहली बार शामिल हुई। कोरोना के चलते कोई चीफ गेस्ट नहीं आया इस बार।

कोविड के नए मामलों में बड़ी गिरावट। पिछले 24 घंटे में करीब 9 हज़ार लोग हुए संक्रमित। जून के बाद सबसे कम। इस बीच, सरकार ने राज्यों को कोरोना वैक्सीन के बारे में अफवाह फैलाने वालों के ख़िलाफ़ एक्शन लेने का दिया निर्देश।

टीम इंडिया की कप्तानी को लेकर चल रही बहस पर पहली बार बोले ऑस्ट्रेलिया में जीत दिलाने वाले अजिंक्य रहाणे। कहा- मेरे और विराट के बीच में कुछ नहीं बदला। विराट टीम के अविवादित कप्तान हैं और मैं उनका डिप्टी। कंगारूओं पर ऐतिहासिक जीत के बाद कई पूर्व खिलाड़ी और एक्सपर्ट अजिंक्य को टेस्ट टीम की कप्तानी सौंपने की मांग कर रहे हैं।

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले से एक दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है। यहां 28 साल की एक युवती ने डंडे और पत्थर  से पीट-पीट कर पिता की हत्या कर दी और फिर मां की मदद से शव को आंगन में ही दफना दिया।

इटली के प्रधानमंत्री ग्यूसेप कोंते ने मंगलवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया है समाचार एजेंसी रायटर्स ने राष्ट्रपति के बयान के हवाले से रिपोर्ट दी है।

दिल्ली के निर्भया गैंग रेप की तरह का एक मामला राजस्थान के सीकर से सामने आया है जहां एक दलित महिला का रेप कर उसके निजी अंग में कांच की बोतल डाल दी गई।

3 कृषि कानूनों के खिलाफ ट्रैक्टरों रैली निकाल रहे हजारों प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के अवरोधकों को तोड़ दिया और पुलिस के साथ झड़प की, वाहनों में तोड़ फोड़ की और लाल किले पर धार्मिक झंडे फहरा दिए। इस हिंसा में पुलिस के 86 जवान हो गए, जबकि ट्रैक्टर पलटने से एक किसान की भी मौत हो गई। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में 7 प्राथमिकी दर्ज की और भी FIR दर्ज की जा सकती है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पूर्वी जिले में 3 प्राथमिकी दर्ज की गई है। द्वारका में तीन तथा शाहदरा जिले में एक मामला दर्ज किया गया है। संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से गणतंत्र दिवस के मौके पर किसान ट्रैक्टर रैली का आयोजन किया गया था। प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड के संबंध में मोर्चा के साथ दिल्ली पुलिस की कई दौर की बैठक हुई थी। दिल्ली पुलिस द्वारा जारी बयान के अनुसार, मंगलवार को सुबह करीब 8:30 बजे छह हजार से सात हजार ट्रैक्टर सिंघू सीमा पर एकत्र हुए। पहले से निर्धारित रास्तों पर जाने के बदले उन्होंने मध्य दिल्ली की ओर जाने पर जोर दिया। बार-बार आग्रह के बावजूद निहंगों की अगुवाई में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर हमला किया और पुलिस के अवरोधकों को तोड़ दिया। गाजीपुर एवं टीकरी सीमा से भी इसी तरह की घटना की खबरें हैं।आइटीओ पर गाजीपुर एवं सिंघू सीमा से आए प्रदर्शनकारियों के एक बड़े समूह ने लुटियन जोन की तरफ जाने का प्रयास किया। जब पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोका तो प्रदर्शनकारियों एक वर्ग हिंसक हो गया। उन्होंने अवरोधक तोड़ दिए तथा वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को कुचलने का प्रयास किया। बाद में पुलिस ने भीड़ को खदेड़ा। मुंबई के एक विधि छात्र ने मंगलवार को देश के प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) एसए बोबडे को पत्र लिखकर उनसे आग्रह किया कि गणतंत्र दिवस के दिन किसान ट्रैक्टर परेड के दौरान यहां लाल किले में हुई हिंसा का वह स्वत: संज्ञान लें।मुंबई विश्वविद्यालय के छात्र आशीष राय द्वारा लिखे गए पत्र में दावा किया गया है कि ट्रैक्टर परेड के दौरान कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा आतंक फैलाया गया। पत्र में कहा गया है कि जिस प्रकार से लाल किले में भारत के राष्ट्रीय ध्वज के स्थान पर अन्य समुदाय के झंडे को लहराया गया, उससे देश के सम्मान और गरिमा को चोट पहुंची। इसमें दावा किया गया है कि इस दौरान बड़े पैमाने पर सार्वजनिक संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया गया। पत्र में कहा गया है कि यह एक शर्मनाक घटना है और इस घटना से पूरा देश आहत हुआ है। इस घटना के कारण देश के संविधान के साथ ही राष्ट्रीय ध्वज का भी अपमान हुआ है। इस तरह के कृत्यों से भारतीय नागरिकों की संवैधानिक भावनाएं आहत होती हैं।पत्र में अनुरोध किया गया है कि इस असंवैधानिक कृत्य में शामिल असामाजिक तत्वों के खिलाफ कठोर जांच और आरोपियों को दंडित करने के लिए इस पूरे मामले में एक विशेष जांच समिति गठित की जाए।

पिछले 24 घंटों के दौरान, पूरे देश में मौसम मुख्यतः शुष्क बना रहा।पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, उत्तर पूर्व मध्य प्रदेश और असम में बहुत घना कोहरा छाया हुआ था।दिल्ली, हरियाणा का हिस्सा, राजस्थान, सौराष्ट्र और कच्छ में अत्यधिक शीत लहर की स्थिति बनी रही।कोल्ड डे की स्थिति पश्चिम उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में थी।ग्राउंड फ्रॉस्ट पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कुछ हिस्सों में हुआ था।

अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की संभावित गतिविधि. अगले 24 घंटों के दौरान, उत्तर-पश्चिम भारत में कोहरे का घनत्व घटने की उम्मीद है। हालांकि, उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में घने कोहरे के छाए रहने के आसार हैं।उत्तर-पश्चिम भारत और मध्य प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में अत्यधिक ठंड के दिन बने रहने की संभावना है। बिहार के कुछ इलाकों में कोल्ड डे की स्थिति बन सकती है।



Never in country's history had to farmers protest so long for their demands: Gehlot

Farmers' protest: Metro Grey, Green lines completely shut

Samyukta Kisan Morcha disassociates itself from violence during tractor parade

Protesting farmer dies as tractor overturns at ITO: Police

Protesters removed from Red Fort premises by police

Govt orders internet shutdown in areas close to farmers protest sites in Delhi

20 injured cops, farmers being treated at Lok Nayak after clashes

More paramilitary forces being deployed in Delhi after violence during farmers' tractor rally

Haryana on high alert after chaos in Delhi during tractor parade

Farmers broke pre-decided conditions for parade, many personnel injured: Delhi Police

No flag but sacred tiranga should fly aloft Red Fort: Shashi Tharoor

Groups of farmers start moving back to respective protest states, but thousands still in Delhi

Vacate Delhi, return to borders, Punjab CM tells farmers

AAP strongly condemns violence in farmers' tractor parade

Sikh religious flag was hoisted by protesters at Red Fort

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

प्रधान पद की प्रत्याशी की सुबह मौत, दोपहर में विजयी घोषित