टीकाकरण दो दिनों में 2.28 करोड़ ने पंजीकरण कराया

 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि देश में गुरुवार रात 8 बजे तक कोरोनावायरस कोविड-19 टीके की 20 लाख से अधिक खुराक दी गई, जिसके साथ ही अब तक देशभर में टीके की 15.21 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं। मंत्रालय के मुताबिक, गुरुवार कोविन पोर्टल पर तीसरे चरण के टीकाकरण के लिए केवल दो दिनों में 2.28 करोड़ से अधिक लोगों ने पंजीकरण कराया है। उन्होंने कहा कि रात आठ बजे तक की अंतरिम रिपोर्ट के अनुसार देश में अब तक कोविड-19 टीके की 15,21,05,563 खुराकें दी जा चुकी हैं। मंत्रालय ने कहा कि गुरुवार को 20,84,931 लोगों को टीका लगाया गया, जिनमें 11,82,563 लाभार्थियों को पहली खुराक, जबकि 9,02,368 लाभार्थियों को टीके की दूसरी खुराक दी गई।

भारत बॉयोटेक ने कोविड-19 का टीका- कोवैक्सीन की कीमत राज्य सरकारों के लिए 600 रुपये प्रति डोज से घटा कर 400 रुपये प्रति डोज किया। सीरम के बाद भारत बायोटेक ने घटाई कोरोना वैक्सीन की कीमत, राज्यों को प्रति डोज 200 रुपए कम में मिलेगा

नई दिल्ली। देश में तेजी से बढ़ते कोविड-19 मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को केंद्रीय मंत्रिपरिषद की बैठक बुलाई है। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में कोविड-19 की वर्तमान स्थिति पर चर्चा की जाएगी।

डेटिंग ऐप के बारे में तो हम सब जानते हैं, लेकिन कोरोना काल में इस तरह के ऐप की लोकप्रियता बढ़ गई है। पहले लोग एक दूसरे से मिलते थे आंखें एक दूसरे से मिलती थीं। ऑनलाइन लव में डेटिंग ऐप मददगार, लेकिन वैक्सीनेशन की रखी शर्त.

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए योगी सरकार ने राज्य में वीकेंड पर लगने वाले लॉकडाउन को बढ़ा दिया है। शुक्रवार की रात आठ बजे से लगने वाला वीकेंड लॉकडाउन इस बार 4 मई (मंगलवार सुबह सात बजे) तक जारी रहेगा।  कोरोना की दूसरी लहर से बीते कुछ दिनों में राज्य में बड़ी संख्या में लोग संक्रमित हुए हैं। समझा जाता है कि कोरोना के नए मामलों में आई तेजी ने राज्य सरकार को वीकेंड लॉकडाउन बढ़ाने के लिए बाध्य किया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने अपने आदेश में कहा है कि इस दौरान सभी बाजार, निजी एवं सरकारी कार्यालय मंगलवार सुबह सात बजे तक बंद रहेंगे। सरकार ने लोगों से अपने घरों में रहने में की अपील की है। लॉकडाउन के दौरान केवल जरूरी सेवाओं एवं गतिविधियों से जुड़े लोगों को ही आवागमन की इजाजत होगी। लॉकडाउन के दौरान दवा की दुकानें, अस्पताल और जरूरी सेवाएं जारी रहेंगी। इस दौरान धार्मिक स्थल भी बंद रहेंगे।  प्रदेश के अस्पतालों में ऑक्सीजन एवं मेडिकल सुविधाओं की कमी को देखते हुए इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने बुधवार को राज्य सरकार लॉकडाउन लगाने का निर्देश दिया। यूपी में कोरोना की स्थिति पर सुनवाई करते हुए जस्टिस सिद्धार्थ वर्मा की पीठ ने कहा, 'हम आपसे अनुरोध करते हैं कि यदि चीजें नियंत्रण में नहीं आतीं तो आप दो सप्ताह का लॉकडाउन लगाएं।' इसके पहले कोर्ट ने पांच शहरों लखनऊ, प्रयागराज, कानपुर, वाराणसी और गोरखपुर में पूर्ण लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया लेकिन हाई कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ योगी सरकार सुप्रीम कोर्ट गई। राज्य सरकार की अपील पर शीर्ष अदालत ने हाई कोर्ट के फैसले पर रोक लगा दी। बुधवार को उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 29,824 नए केस मिले जबकि इस दौरान 266 लोगों की मौत हुई।  कोरोना वायरस के खिलाफ दुनिया की पहली रजिस्टर्ड वैक्सीन स्पुतनिक-वी को भारत में मंजूरी मिल गई है। देश में बढ़ते कोरोना वायरस केस को देखते हुए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) ने रूस निर्मित इस वैक्सीन के आपात उपयोग की अनुमति दी है।

दिल्ली सहित कुछ राज्यों ने कहा, पहली मई से टीकाकरण के तीसरे चरण के लिए उनके पास वैक्सीन नहीं। चीन, अमेरिका, बांग्लादेश, भूटान और फ्रांस भेज रहे मेडिकल उपकरणों की खेप, केंद्र ने नेबुलाइजर सहित कई जरूरी चीजों के आयात की इजाजत दी।

IPL में मुंबई इंडियंस ने राजस्थान रॉयल्स को सात विकेट से हराया। क्विंटन डी कॉक ने नाबाद रहते हुए पीटे 70 रन। राजस्थान रॉयल्स ने 3 विकेट पर 171 रन बनाए। साढ़े 18 ओवरों में ही मुंबई ने जीत अपने नाम की।

पीएम केयर फंड से खरीदे जाएंगे एक लाख पोर्टेबल ऑक्सिजन कंसंट्रेटर। प्रधानमंत्री नरेंद्री मोदी ने किया ऐलान। 500 ऑक्सिजन प्लांट लगाने का भी आदेश। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बोले, फंड मिलने के तीन महीने के अंदर नए प्लांट तैयार करेगा डीआरडीओ।

ट्रू कॉलर ने लॉन्च की हेल्थकेयर डायरेक्ट्री। कोविड अस्पतालों के नंबर सहित मिलेगी अन्य जानकारी। नया फीचर इस्तेमाल करने के लिए पहले प्लेस्टोर से ट्रूकॉलर ऐप को करना होगा अपडेट। ऐप के मेन्यू और डायलर से डायरेक्ट्री को किया जा सकेगा एक्सेस।

गृह मंत्रालय ने कोरोनावायरस संक्रमण की 10 प्रतिशत से अधिक की दर वाले सभी राज्यों और केन्द्रशासित प्रदेशों से स्थानीय स्तर पर कंटेनमेंट जोन की व्यवस्था को सख्ती से लागू करने को कहा है। गृह मंत्रालय ने गुरुवार को एक आदेश जारी कर कोरोना महामारी से निपटने के लिए गत 25 अप्रैल को केन्द्रीय परिवार एवं स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों पर अमल 31 मई तक बढ़ाने को कहा है। इस आदेश में कोरोनावायरस के संक्रमण से निपटने के लिए राज्यों और केन्द्रशासित प्रदेशों से आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत घोषित जरूरी उपायों तथा कदमों को कड़ाई से लागू करने को कहा गया है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने पिछले महीने जारी अपने दिशा-निर्देशों में कहा था कि राज्य और केन्द्रशासित प्रदेश ऐसे जिलों की पहचान करें, जहां संक्रमण की दर पिछले एक सप्ताह में दस प्रतिशत या उससे अधिक रही है या उनमें 60 प्रतिशत से अधिक बिस्तर कोविड रोगियों से भरे हैं। इन जिलों में स्थानीय स्तर पर कंटेनमेंट जोन तथा संबंधित उपायों की व्यवस्था को सख्ती से लागू करने को कहा गया है। मंत्रालय ने कहा है कि देशभर में कोविड प्रबंधन के लिए घोषित दिशा-निर्देशों को सख्ती से पालन सुनिश्चित करना राज्य और केन्द्रशासित प्रदेशों की जिम्मेदारी होगी।

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में पोलिंग पार्टी पर फर्जी मतदान कराने का आरोप लगाते हुए उपद्रवियों ने पोलिंग बूथ पर कब्जा कर मतपेटियों को लूट लिया। इतना ही नहीं लूट के बाद मतपत्र पेटी को तोड़कर मतपत्रों को आग के हवाले कर दिया।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को कोरोना वायरस संक्रमण से उबरने के बाद गुरुवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) से छुट्टी मिल गई। कांग्रेस से जुड़े सूत्रों ने यह जानकारी दी।

मलेरिया के उपचार के लिए 1980 में विकसित दवा आयुष-64, कोविड-19 के हल्के एवं मध्यम संक्रमण के मामलों में उपचार के लिए उपयोगी है। यह जानकारी गुरुवार को आयुष मंत्रालय ने दी। सेंटर फॉर रियूमैटिक डिजीज, पुणे के निदेशक अरविंद चोपड़ा ने डिजिटल संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इस सिलसिले में दवा का परीक्षण तीन केंद्रों पर किया गया। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ; दत्ता मेघे इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, वर्धा और बीएमसी कोविड केंद्र, मुंबई में 70- 70 रोगियों पर इस दवा का परीक्षण किया गया। चोपड़ा ने कहा कि आयुष-64 से उपचार में काफी सुधार दिखा और इसमें कम समय तक अस्पताल में भर्ती रहना पड़ा। उन्होंने कहा कि दवा का सामान्य स्वास्थ्य, थकान, चिंता, तनाव, भूख, खुशी और नींद पर लाभकारी प्रभाव देखा गया। उन्होंने कहा कि दवा के परीक्षण में पाया गया कि आयुष-64 से कोविड-19 के मामूली से मध्यम स्तर का उपचार प्रभावी एवं सुरक्षित तरीके से किया जा सकता है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद् के पूर्व महानिदेशक वीएम कटोच ने कहा कि आयुष-64 के परिणाम पर एक समिति ने सावधानीपूर्वक समीक्षा की है और मामूली से मध्यम स्तर के कोविड-19 मामलों में दवा के इस्तेमाल की अनुशंसा की है। आयुर्वेदिक विज्ञान अनुसंधान के केंद्रीय परिषद् के महानिदेशक एन. श्रीकांत ने कहा कि दवा पर अतिरिक्त अध्ययन प्रमुख अनुसंधान संस्थानों में जारी है।

कोरोना वायरस का खतरा पूरी दुनिया में चारों तरफ मंडरा रहा है। इंसान घर में रहते हुए इसकी चपेट में रहे हैं। कोविड नियम फॉलो करने के बाद भी लोग कोविड पॉजिटिव हो रहे हैं। हालांकि सही इलाज मिलने के बाद हजारों की तादाद में लोग ठीक भी हो रहे हैं। लेकिन कोविड से जंग जीतने के बाद कब तक इससे पूरी तरह से ठीक हो सकते हैं यह सवाल जरूर मन में है।  कोरोना वायरस से ठीक होने के बाद आपको पूरी तरह से रिकवर होने में कम से कम 1 से डेढ महीना लग जाता है। जब हम खाना खाते हैं नमकीन का टेस्ट या अन्य किसी भी चीज का स्वाद अच्छा नहीं लगता है, नींद अच्छी नहीं आती है, ऐसा दो से तीन हफ्ते तक रह सकता है। साथ ही जिन लोगों के फेफड़ें अधिक प्रभावित हो जाते हैं उन्हें रिकवर होने में अधिक समय लग जाता है। लेकिन वह ठीक हो जाते हैं। ऐसे समय में प्रोटीन युक्त फूड जरूर खाना चाहिए। वह रिकवर करने में मदद करेगा। प्रोटीन फूड में पनीर, अंकुरित, सोयाबीन, छोले, चने, क्विनोआ ग्रेन, ये सब फूड में शामिल कर सकते हैं। कोशिश करें शुगर का अधिक सेवन नहीं हो। ये सेहत के लिए काफी हानिकारक होती है।

पिछले 24 घंटों के दौरान, हीटवेव मध्य प्रदेश, दक्षिण उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों और दिल्ली एनसीआर के कुछ भागों में देखी गई। उप हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम और असम के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। केरल, दक्षिण कर्नाटक के कुछ हिस्सों, रायलसीमा, उत्तर मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा और गुजरात में हल्की बारिश हुई। पंजाब हरियाणा और राजस्थान के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश और धूल भरी आंधी देखी गई। उत्तराखंड और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह पर हल्की बारिश हुई। अगले 24 घंटों के दौरान, केरल, कर्नाटक के दक्षिण तट, अंडमान और निकोबार द्वीप और उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।पश्चिमी हिमालय, सिक्किम, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और असम के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। तेलंगाना, दक्षिण छत्तीसगढ़, मराठवाड़ा, मध्य महाराष्ट्र, आंतरिक कर्नाटक और गुजरात के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हो सकती है। लक्षद्वीप, गंगीय पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में एक-दो स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है। हल्की बारिश और मेघों की गरज के साथ पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी चल सकती है।



Clashes erupt in Bengal's Birbhum dist, BJP candidate comes under attack

Delhi doesn't have sufficient vaccine doses for 18-44 age group: Health minister

Health Ministry issues revised guidelines for home isolation, warns against Remdesivir use

Rajasthan CM Ashok Gehlot tests positive for coronavirus

Start compulsory door-to-door vaccination of 18-plus population: Kumaraswamy to State Govt

India has become superpower: Nath's dig at Centre on COVID-19

Exit polls project tight race in West Bengal, put ruling BJP ahead in Assam

Manmohan Singh discharged from AIIMS

Maharashtra govt extends lockdown-like curbs till May 15

Covid-19: UP govt announces weekend lockdown to cover Mondays too

Kejriwal takes second dose of COVID vaccine

Bharat Biotech cuts price of Covaxin for states

Army setting up temporary hospitals, making its medical staff available to states to fight COVID

76.07 pc recorded in eighth and final phase of Bengal polls

India focusing on procuring oxygen-related equipment to deal with COVID: FS Shringla

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप