नारदा घोटाले का मामला एक बार फिर गर्मता दिख रहा है

 

DRDO की एंटी कोविड दवा 2DG लॉन्च हो गई है। इससे कोरोना वायरस महामारी को रोकने में काफी मदद मिलेगी। रक्षा मंत्री ने कहा कि ये दवा हमारे देश के वैज्ञानिकों की वैज्ञानिक क्षमता की एक मिसाल है। अस्पतालों में भर्ती 10 हज़ार कोरोना मरीजों को दी जाएगी दवा।

चक्रवात तौकते गुजरात के तट से टकराने के बाद कमजोर पड़ गया है। कर्नाटक, महाराष्ट्र और गुजरात के कई इलाकों में इसने भारी तबाही मचाई है। चक्रवाती तूफान तौकते ने सोमवार को मुंबई में जोरदार तबाही मचाई, करीब60-75 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार के साथ तेज आंधी ने मुंबई में जोरदार तबाही मचाई जिसमें कई पेड़ टूट गए। महाराष्ट्र के तटीय इलाक़ों में चक्रवाती तूफान ताउते के कारण भारी बारिश और तेज़ हवाएं। मुंबई एयरपोर्ट को कुछ घंटों के लिए बंद करना पड़ा। तूफान तेज़ी से गुजरात की ओर बढ़ रहा है और आधी रात तक तटों से टकरा सकता है। करीब डेढ़ लाख लोगों को ख़तरे वाली जगहों से हटाया गया। 14 ज़िलों में रेड अलर्ट। चक्रवात तौकते के चलते रेलवे ने 17 से 21 मई के बीच 40 से ज्यादा ट्रेनों को किया रद्द। वेस्टर्न रेलवे ने ट्वीट कर दी जानकारी। बताया, 17 मई को 22 ट्रेनें, 18 मई को 13, 19 मई को पांच, 20 मई को एक और 21 मई को एक ट्रेन कैंसिल की गई है। साथ ही कई ट्रेनों को शॉर्ट टर्मिनेट भी किया गया है।

पश्चिम बंगाल  नारदा घोटाले का मामला एक बार फिर गर्मता दिख रहा है. यहां इस घोटाले की जांच कर रही सीबीआई टीम ने सोमवार को ममता बनर्जी की सरकार में कैबिनेट मंत्री फिरहाद हाकिम, सुब्रत मुखर्जी, विधायक मदन मित्रा और पूर्व मेयर शोभन चटर्जी को गिरफ्तार कर लिया. अपने मंत्रियों और विधायकों की गिरफ्तारी से भड़कीं ममता बनर्जी से सीबीआई दफ्तर में ही धरने पर बैठ गईं. सीबीआई दफ्तर से निकलने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि इस मामले में कोर्ट अपना निर्णय देगी  टीएमसी के वरिष्ठ नेताओं की इस तरह गिरफ्तार के बाद से पार्टी कार्यकर्ता सीबीआई दफ्तर के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. सीबीआई ऑफिस के बाहर मौजूद भीड़ नारेबाजी और धक्कामुक्की करती दिखी, जिसके बाद वहां दफ्तर की सुरक्षा के लिए केंद्रीय बलों को तैनात किया गया है. इस बीच बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने आरोप लगाया कि ममता बनर्जी राज्य में अराजकता फैला रही हैं. उन्होंने कहा कि सीबीआई ने ये गिरफ्तारी कोर्ट के कहने पर की है. क्या टीएमसी को कोर्ट पर भी भरोसा नहीं है. इससे पहले चारों नेताओं को सोमवार सुबह कोलकाता के निजाम पैलेस में सीबीआई कार्यालय ले जाया गया. इन नेताओं की गिरफ्तारी की खबरें आने के तुरंत बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने नेताओं के साथ सीबीआई कार्यालय पहुंच गईं. इस दौरान उन्हें सीबीआई अधिकारियों से यह कहते सुना गया कि वे उन्हें भी गिरफ्तार कर लें. सीबीआई के अधिकारी ने कहा कि एजेंसी नारदा स्टिंग मामले में सोमवार को गिरफ्तार तृणमूल कांग्रेस के तीन नेताओं समेत पांच आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल करेगी. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, निज़ाम पैलेस के सामने भीड़ को देखते हुए सीबीआई कोशिश कर रही है कि कोर्ट में पेश करके नेताओं को वर्चुअली या पेपर प्रोडक्शन किया जा सके. नारद स्टिंग मामले में कुछ नेताओं द्वारा कथित तौर पर धन लिए जाने के मामले का खुलासा हुआ था. सीबीआई अधिकारियों ने बताया कि यह कार्रवाई इसलिए की गई क्योंकि केंद्रीय जांच एजेंसी स्टिंग टेप मामले में अपना आरोपपत्र दाखिल करने वाली है. हकीम, मुखर्जी, मित्रा और चटर्जी के खिलाफ मुकदमा चलाने की मंजूरी लेने के लिए सीबीआई ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ का रुख किया था. वर्ष 2014 में कथित अपराध के समय ये सभी मंत्री थे. धनखड़ ने चारों नेताओं के खिलाफ मुकदमा चलाने की मंजूरी दे दी थी जिसके बाद सीबीआई अपना आरोपपत्र तैयार कर रही है और उन सबको गिरफ्तार किया गया. हकीम, मुखर्जी और मित्रा तीनों हालिया विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस के विधायक के तौर पर निर्वाचित हुए हैं. वहीं, भाजपा से जुड़ने के लिए चटर्जी ने तृणमूल कांग्रेस छोड़ दी थी और दोनों खेमे से उनका टकराव चल रहा है. बता दें कि नारद टीवी न्यूज चैनल के मैथ्यू सैमुअल ने 2014 में कथित स्टिंग ऑपरेशन किया था जिसमें तृणमूल कांगेस के मंत्री, सांसद और विधायक लाभ के बदले में कंपनी के प्रतिनिधियों से कथित तौर पर धन लेते नजर आए. यह टेप पश्चिम बंगाल में 2016 के विधानसभा चुनाव के पहले सार्वजनिक हुआ था. कलकत्ता उच्च न्यायालय ने स्टिंग ऑपरेशन के संबंध में मार्च 2017 में सीबीआई जांच का आदेश दिया था.

जनता में बांटने के लिए कोविड की दवाएं नहीं जमा कर सकते राजनेता। दिल्ली हाई कोर्ट ने एक सुनवाई के दौरान कहा- नेताओं को अपना स्टॉक स्वास्थ्य विभाग के पास जमा कर देना चाहिए। सरकार ज़रूरतमंदों तक दवा पहुंचाएगी। कोर्ट ने पुलिस से यह भी जांच करने को कहा कि केमिस्ट नेताओं को इतनी अधिक मात्रा में कैसे दे रहे हैं दवाएं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर के डॉक्टर्स के चर्चा कोविड 19 की स्थिति को लेकर चर्चा की है। पीएम ने कोविड की दूसरी लहर की असाधारण परिस्थितियों के खिलाफ लड़ाई के लिए पूरी चिकित्सा बिरादरी को धन्यवाद दिया।

कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों को दी जा रही प्लाज्मा थैरेपी को क्लीनिकल मैनेजमेंट गाइडलाइंस से हटाया गया है। कई मामलों में यह थैरेपी कारगर नहीं रही।

भोपाल से बीजेपी की सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने दावा किया कि देसी गाय के मूत्र का अर्क लेती हैं इसलिए वह अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं हुई है।

मोबाइल मैसेजिंग सर्विस व्हाट्सएप ने सोमवार को दिल्ली हाईकोर्ट को बताया कि उसने अपनी नई निजता (गोपनीयता) नीति को स्वीकार करने को लेकर यूजर्स के लिए 15 मई की समय सीमा को टाला नहीं है। प्राइवेसी पॉलिसी स्वीकार नहीं किया? बंद हो जाएगा आपका अकाउंट.

इजराइल की सेना ने सोमवार सुबह गाजा सिटी के कई स्थानों पर भीषण हवाई हमले किया। इस हमले में कई इमारतें जमींदोज हो गई है और विस्फोटों से शहर का उत्तर से दक्षिण का इलाका थर्रा उठा।

दिल्ली पुलिस ने पहाड़गंज के एक होटल से एक मोहम्मद डार के नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है, जो कि आतंकी संगठन जैश--मोहम्मद से जुड़े आबिद के इशारे पर यति नरसिंहानंद सरस्वती की हत्या की योजना बना रहा था।

इजरायल-फलस्तीन के बीच जारी हिंसक टकराव पर रविवार को मुस्लिम देशों के संगठन (OIC) के विदेश मंत्रियों की जेद्दा में आपात बैठक हुई। इस संगठन में 57 मुस्लिम देश शामिल हैं। फ़लस्तीनियों और इसराइल के बीच एक हफ़्ते बाद भी ख़ूनी संघर्ष जारी है. फ़लस्तीन के चरमपंथी संगठन हमास की तरफ़ से रॉकेट हमले हो रहे हैं और इसराइल भी आक्रामक जवाबी कार्रवाई में जुटा है. इस संघर्ष में अब तक सैकड़ों जाने जा चुकी हैं. इसराइली हमलों से ग़ज़ा में भारी नुक़सान हुआ है. दोनों पक्षों के बीच का ये संघर्ष अब वैश्विक मुद्दा बन गया है. इस संघर्ष को रोकने की कोशिशें जारी हैं और इसी कड़ी में कई देश अलग-अलग धाराओं में बँट गए हैंसुपर पावर अमेरिका से शुरू करें, तो इसराइल से उसकी क़रीबी किसी से छिपी नहीं है. अमेरिका हमास को चरमपंथी संगठन मानता है और संयुक्त राष्ट्र में हमास के ख़िलाफ़ निंदा का प्रस्ताव भी ला चुका है जो खारिज हो गया थाहालांकि अमेरिका ने संघर्ष विराम और शांति बनाए रखने की अपील की है और राजनयिक स्तर पर इसकी कोशिशें भी हो रही हैं. यूरोपीय देश भी हमास को चरमपंथी संगठन मानते हैं और प्रमुख यूरोपीय देश ब्रिटेन, फ्रांस और जर्मनी ने इसराइल के प्रति समर्थन जाहिर किया हैइस्लामिक देशों की बात करें तो उन्होंने इसराइल का कड़ा विरोध किया है और फ़लस्तीनी इलाक़े में हो रही हिंसा को रोकने की बात की है. सऊदी अरब, तुर्की, ईरान, पाकिस्तान, कुवैत और खाड़ी के कई देशों ने इसराइल की खुलकर निंदा की है. इसराइल का समर्थन कर रहे देशों को नेतन्याहू ने कहा शुक्रिया, नहीं लिया भारत का नाम भारत इस मामले में दोनों पक्षों के बीच संतुलन बनाता हुआ नज़र रहा है. भारत के फ़लस्तीनियों और इसराइल दोनों से अच्छे संबंध रहे हैं. ऐसे में उसके लिए किसी एक का पक्ष ले पाना मुश्किल है. इसलिए भारत ने दोनों पक्षों से संयम बरतने की अपील की है. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूसी सुरक्षा परिषद के सदस्यों के साथ बैठक में शुक्रवार को ये बात कही. चीन ने इसराइल-फ़लस्तीनियों के बीच संघर्ष के बहाने अमेरिका पर निशाना साधा है. चीन ने कहा है कि ख़ुद को मानवाधिकारों का संरक्षक और 'मुसलमानों का शुभचिंतक' बताने वाले अमेरिका ने इसराइल के साथ टकराव में मारे जा रहे फ़लस्तीनियों (मुसलमानों) से आँखें फेर ली हैं. फ़लस्तीनियों को किस तरह युद्ध और आपदा की स्थिति में धकेल दिया गया है, वो अमेरिका को दिखाई नहीं दे रहा.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने कहा है कि पार्टी को आगे बढ़ने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की तरह बड़ा सोचना होगा।

गरीबों के मसीहा सोनू सूद ने कलर्स चैनल पर प्रसारित शो 'डांस दीवाने' में नीमच के प्रतिभागी उदय सिंह से वादा किया था कि नीमच की एकता बस्ती के समस्त घरों में 6 माह का राशन उनकी तरफ से दिया जाएगा।

IMA के पूर्व निदेशक केके अग्रवाल का कोरोना से निधन

ओलंपियन सुशील कुमार पर कसा शिकंजा, हत्या के मामले में एक लाख का इनाम घोषित.

पिछले 24 घंटों के दौरान, कोंकण और गोवा में कई जगहों पर भारी से अति भारी बारिश हुई। केरल, लक्षद्वीप, तटीय कर्नाटक और दक्षिण पूर्व मध्य प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश हुई। मध्य प्रदेश, मध्य महाराष्ट्र, तटीय आंध्र प्रदेश, पूर्वोत्तर भारत, उप हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर तेज बारिश हुई। जम्मू कश्मीर, गिलगित बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, तमिलनाडु, आंतरिक कर्नाटक, गुजरात के कई हिस्सों और दक्षिणपूर्व राजस्थान के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। अगले 24 घंटों के दौरान, बहुत भीषण चक्रवात ताऊ ते के दक्षिण गुजरात तट पर सोमनाथ या अमरेली पर मध्य रात्रि या 18 मई की सुबह लैंडफॉल करने की उम्मीद है। लैंडफॉल के समय हवा की गति 150-160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 170 किमी प्रति घंटे हो सकती है। गुजरात और उत्तरी महाराष्ट्र तट पर कई स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। केरल, कोंकण और गोवा, मध्य प्रदेश के दक्षिण राजस्थान के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। पूर्वोत्तर भारत, लक्षद्वीप, आंतरिक तमिलनाडु और आंतरिक कर्नाटक में कुछ तेज बारिश के साथ हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। पश्चिमी हिमालय, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के अलग-अलग हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।



WPI inflation hits double digits in April at 10.49 pc; crude prices harden

First batch of anti-COVID drug 2DG released

Portals of Kedarnath open in U'khand

Mamata arrives at CBI office after arrest of Bengal ministers, MLA in Narada case

2 militants killed in encounter with security forces in J-K

Earthquake of 4.5 magnitude hits Gir Somnath in Gujarat

Evacuated thousands in Gujarat, Kerala, Daman and Diu in view of Tauktae: NDRF

Court sends Kalra for three days in police custody in oxygen concentration black marketing case

Protests erupt across Bengal after arrest of TMC leaders in Narada sting case

PM Modi speaks to Uddhav Thackeray on Cyclone Tauktae related situation in state

Apollo Hospitals, Dr Reddy's announce COVID-19 vaccination programme with Sputnik V

Ten states account for over 75 per cent of India's total active cases

Political leaders have no business to hoard stocks of COVID-19 medicines: HC

HC seeks stand of Centre, Facebook, WhatsApp on plea against new privacy policy

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

निशाने पर महिला हो तो निखर कर आता है समाज और मीडिया का असली रूप