तालिबान का 1996 से 2001 तक अफ़ग़ानिस्तान में कैसा था शासन

 

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 44 हजार 658 नए मामले। 496 मरीजों की हुई मौत। महामारी के बाद से अब तक देश में कुल 4 लाख 36 हजार 861 लोगों की हुई मौत। इधर, केरल से बिहार आने वाले लोगों के लिए आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट जरूरी। केरल में 32 हजार से ज्यादा Corona केस, 179 लोगों की मौत

देश में शुक्रवार को रेकॉर्ड 1 करोड़ से अधिक लोगों का हुआ कोरोना वैक्सीनेशन। 28 लाख लोगों को कोविड से बचाव का टीका लगाकर राज्यों में पहले नंबर पर रहा यूपी। अब तक कुल 62 करोड़ से अधिक लोगों को लग चुकी है कोरोना वैक्सीन। 16 जनवरी से शुरू हुआ था टीकाकरण अभियान।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जलियांवाला स्मारक का उद्घाटन करेंगे जलियांवाला स्मारक को फिर से तैयार किया गया है। 20 करोड़ रुपये की लागत से रेनोवेशन हुआ है। 2019 में जलियांवाला नरसंहार के 100 साल पूरे हुए थे।

अफगानिस्तान के काबुल एयरपोर्ट पर गुरुवार को हुए आतंकी हमले में मरने वालों की संख्या 170 हुई। उड़ानें बहाल होने के बाद अमेरिका समेत सभी पश्चिमी देशों ने तेज किया अपने नागरिकों को निकालने का अभियान। अमेरिका ने खुफिया सूत्रों के हवाले से फिर दी आतंकी हमले की चेतावनी।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा, अफगानिस्तान में फंसे भारतीयों और हमारा साथ देने वाले अफगानों को वहां से निकालना प्राथमिकता। मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया, अभी तक 6 अलग-अलग फ्लाइट्स में काबुल या दुशांबे से 550 से अधिक लोगों को निकाल चुका है इनमें 260 भारतीय।

तालिबान ने तुर्की से काबुल एयरपोर्ट का संचालन करने को कहा। हालांकि तुर्की ने अभी तक नहीं दिया है कोई जवाब।

तालिबान भारत सहित सभी देशों के साथ अच्छे संबंध चाहता है। आतंकवादी समूह के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा है कि उसने किसी अन्य देश के खिलाफ अफगान धरती का इस्तेमाल नहीं करने की कसम खाई है। तालिबान के प्रवक्ता ने यह भी कहा कि समूह भारत को इस क्षेत्र का एक महत्वपूर्ण हिस्सा मानता है।

अफगानिस्तान में अस्थिरता और हिंसा के बीच भारत में 100 साल पहले हुए मोपला विद्रोह की भी चर्चा है। बीजेपी सांसद राम माधव ने इसे तालिबान जैसी मानसिकता कहा है।

16 मई, 1996 को नरसिम्हा राव के भारत के प्रधानमंत्री के तौर पर इस्तीफ़ा देने के चार महीने और नौ दिनों बाद यानी 25 सितंबर, 1996 को काबुल पर तालिबान का कब्ज़ा हो गया. सत्ता में आने के दो दिनों के भीतर तालिबान ने भारत के क़रीबी नजीबुल्लाह के सिर में गोली मार उनके शव को एक क्रेन से लटका दिया. काबुल का पतन और नजीबुल्लाह की वीभत्स हत्या ने भारत क्या पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया. औरतों के घर से बाहर निकलने और फ़ैशन पर प्रतिबंध. महिलाओं के प्रति तालिबान के रुख़ की पहली झलक नवंबर, 1996 को जारी एक सरकारी आदेश से मिली, जिसने औरतों को ऊँची एड़ी की चप्पलें और जूते पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया. यही नहीं, उनके जूते से निकलने वाली आवाज़ पर भी उन्हें सज़ा देने का प्रावधान किया गया. उनके मेकअप करने और फ़ैशन वाले कपड़े पहनने पर रोक लगा दी गई. महिलाओं को घर से निकलना बहुत ही ज़रूरी हो जाए, तो तुम्हें इस्लामी शरिया क़ानून के अनुसार अपने आप को पूरी तरह ढ़क कर निकलना होगा. महिला मरीज़ों को सिर्फ़ महिला डॉक्टरों के पास ही जाना होगा. मशहूर लेखक अहमद रशीद अपनी किताब 'तालिबान स्टोरी ऑफ़ अफ़ग़ान वॉरलॉर्ड्स' में लिखते हैं, किसी अफ़गान महिला को उस कार में सफ़र करने का अधिकार नहीं था, जिसमें विदेशी बैठे हों. अफ़ग़ान बच्चों की एक पूरी पीढ़ी बिना शिक्षा प्राप्त किए हुए बड़ी हुई. तालिबान के सत्ता सँभालने के तीन महीनों के अंदर काबुल में 63 स्कूलों को बंद कर दिया गया था, जिसकी वजह से 11,200 अध्यापकों की नौकरी चली गई थी, जिसमें 7800 महिलाएं थीं. दिसंबर, 1998 में यूनेस्को की एक रिपोर्ट में भी कहा गया कि ''तालिबान के आने के कुछ ही महीनों के भीतर अफ़ग़ानिस्तान की शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह से छिन्न-भिन्न हो गई और दस में से नौ बालिकाओं और तीन में से दो बालकों का स्कूल में दाख़िला ही नहीं करवाया गया. शोध से पता चला कि तब अफ़ग़ानिस्तान के अधिकतर बच्चे फ़्लैशबैक, डरावने सपनों और अकेलेपन के शिकार हो गए थे. तालिबान धार्मिक पुलिस ने लोगों को सिर्फ़ इस बात पर पीटना शुरू कर दिया कि उनकी दाढ़ी की लंबाई पर्याप्त नहीं थी या औरतों ने बुर्का ढ़ंग से नहीं पहना हुआ था. इस धार्मिक पुलिस के कामकाज करने का ढंग सऊदी अरब की धार्मिक पुलिस की तरह था. तालिबान के धार्मिक आदेश 'रेडियो काबुल', जिसका नाम बदल कर 'रेडियो शरियत' कर दिया गया था, पर प्रसारित होते थे. लोगों के हर सामाजिक व्यवहार पर तालिबान ने नियंत्रण करने की कोशिश की थी. सभी खेलों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. तालिबान के लिए इन आदेशों पर सवाल उठाना इस्लाम के प्रति सवाल उठाने के समकक्ष बन गया.उन दिनों काबुल के बच्चों पर यूनिसेफ़ की डॉक्टर लैला गुप्ता द्वारा किए गए शोध से पता चला कि वहाँ के दो तिहाई बच्चों ने अपनी आँखों के सामने किसी किसी को मरते हुए देखा था. क़रीब 70 फ़ीसदी बच्चों ने अपने परिवार के एक एक सदस्य को खो दिया था. उनमें से अधिकतर बच्चे फ़्लैशबैक, डरावने सपनों और अकेलेपन के शिकार हो गए. तालिबान की सेना में 12 साल से छोटे बच्चों को अपनी सेना में बहाल किया गया था.सिनेमा देखने और गाने पर प्रतिबंध. तालिबान के लिए लड़ने वाले ज्यादातर लोग अनाथ थे, जिन्हें शरणार्थी शिविरों से भर्ती किया गया था. महिलाओं पर नियंत्रण करना और उन्हें अलग-थलग रखना पौरुष की निशानी और जिहाद के प्रति उनकी प्रतिबद्धता के तौर पर माना जाता था. दर्ज़ियों को हुक्म था कि वो महिलाओं के कपड़े सिलने के लिए उनकी नाप लें, बल्कि अपनी महिला ग्राहकों की नाप को अपने दिमाग़ मे याद कर लें. सारी फ़ैशन पत्रिकाओं को नष्ट कर दिया गया. औरतों के नेल पेंट लगाने, दोस्त की तस्वीर खींचने, ताली बजाने. तालिबान की कट्टरता का सबसे बड़ा नमूना तब मिला, जब उन्होंने मार्च 2001 में बामियान में बुद्ध की दो विशालकाय मूर्तियों को नष्ट कर दिया. जब तालिबान के टैंक, विमानभेदी तोपें और तोपों के गोले दुनिया की सबसे ऊँची बुद्ध की मूर्तियों को नहीं ध्वस्त कर पाए तो वो कई ट्रकों में डाइनामाइट भर कर लाए और उन्होंने उन्हें उन मूर्तियों में ड्रिल कर दिया.

प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (CDS) जनरल बिपिन रावत ने शुक्रवार को कहा कि क्षेत्रीय शक्ति बनने की भारत की आकांक्षा 'उधार में ली गई ताकत' पर निर्भर नहीं रह सकती और राष्ट्र को युद्ध जीतने के लिए स्वदेशी हथियारों तथा तकनीक की जरूरत होगी।

ऑल इंडिया लेवल पर होने वाले इंजीनियरिंग और मेडिकल एग्जाम में बड़ा बदलाव। नैशनल टेस्टिंग एजेंसी ने खत्म किया NEET और JEE मेन की रैंक लिस्ट में ज्यादा उम्र के कैंडिडेट्स को दी जाने वाली प्राथमिकता का नियम।

विमानन मंत्रलाय ने जारी किया ड्रोन नियमों का नोटिफिकेशन। ग्रीन जोन यानी 120 मीटर ऊंचाई तक ड्रोन उड़ाने के लिए नहीं लेनी होगी मंजूरी। वहीं, येलो जोन के लिए होगी लिमिट। नियम तोड़ने पर लगेगा एक लाख रुपये तक का जुर्माना।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी और छत्तीसढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बीच साढ़े तीन घंटे से भी अधिक समय तक मैराथन बैठक चली। सीएम बघेल ने बताया कि राहुल गांधी अगले सप्ताह छत्तीसगढ़ का दौरा करेंगे। बैठक में पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी भी मौजूद रहीं।

देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस इस समय संकट के दौर से गुजर रही है। पंजाब, छत्तीसगढ़, राजस्थान और गुजरात में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। पंजाब में एक बार फिर कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू

उद्धव ठाकरे के खिलाफ केंद्रीय मंत्री नारायण राणे के बयान को लेकर जहां महाराष्ट्र की सियातस गरमाई हुई है, वहीं उत्तर प्रदेश में अब महाराष्ट्र के सीएम के खिलाफ FIR दर्ज कराई गई है।

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के नेतृत्व में शुक्रवार को एक बड़े अध्ययन में कहा गया है कि ऑक्सफोर्ड / एस्ट्राजेनेका या फाइजर / बायोएनटेक जैब की पहली खुराक की तुलना में एक कोरोनोवायरस संक्रमण में रक्त का थक्का विकसित होने का बहुत अधिक जोखिम होता है।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की जयपुर के SMS अस्पताल में एंजियोप्लास्टी की गई है, जिसके बाद उनकी हालत में सुधार हो रहा है। मेडिकल प्रोटोकॉल के तहत उन्हें 24 घंटों के लिए ऑब्जर्वेशन में रखा गया है।

राजस्थान के हनुमानगढ़  एक पेट्रोल पंप पर एक ग्राहक के साथ ऐसा 'खेल' हुआ . Petrol पंप वालों ने 35 लीटर की टंकी में डाल दिया 43 लीटर तेल, ग्राहक ने किया हंगामा तो खुल गई पोल.

पंजाब कांग्रेस में जारी कलह के बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने नवजोत सिंह सिद्धू और कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि सिद्धू के साथ-साथ पूरी कांग्रेस की सोच भारत विरोधी है। उन्होंने कहा कि सिद्धू दूध के धुले नहीं हैं, उन्होंने भारत विरोधी बयान देने वाले अपने सलाहकारों की निंदा अभी तक नहीं की है।

मास्को से ढाका रहे बिमान बांग्लादेश के एक यात्री विमान को नागपुर में आपात लैंडिंग करनी पड़ी है। दरअसल, यह विमान जब रायपुर के ऊपर था तभी इसके पायलट को दिल का दौरा पड़ गया।

 पंजाब में कांग्रेस की मुश्किलें खत्म होने का नाम नैन ले रही है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बार फिर होने तल्ख़ तेवर दिखा दिए हैं। उन्होंने एक तरह से चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उन्हें फ़ैसला लेने से रोका गया तो वह ईंट से ईंट बजा देंगे।सुलह कराने की कोशिश में जुटे हरीश रावत ने अब हाथ खड़े कर दिए हैं।

 दिल्ली उच्च न्यायालय ने सोशल मीडिया मध्यवर्ती संस्थानों के लिए सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) नियमों को चुनौती देते हुए फेसबुक और व्हाट्सऐप की ओर से दायर याचिकाओं पर शुक्रवार को केंद्र से जवाब मांगा जिसके तहत मैसेजिंग ऐप के लिए यह पता लगाना जरूरी है कि किसी संदेश की शुरुआत किसने की।

इन याचिकाओं के जरिए नए नियमों को इस आधार पर चुनौती दी गई है कि वे निजता के अधिकार का उल्लंघन करते हैं और असंवैधानिक हैं। मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की पीठ ने नोटिस जारी करके केंद्र को इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के माध्यम से याचिका के साथ ही नियमों के कार्यान्वयन पर रोक लगाने के लिए अर्जी पर भी जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया।

किसान आंदोलन : संयुक्त किसान मोर्चा ने किया 25 सितंबर को 'भारत बंद' का ऐलान.

लीड्स टेस्ट की दूसरी पारी में टीम इंडिया की सधी शुरुआत। तीसरे दिन का खेल खत्म तक 2 विकेट खोकर बनाए 215 रन। चेतेश्वर पुजारा 19वें शतक के करीब। 45 रन बनाकर पुजारा का साथ निभा रहे हैं कप्तान कोहली। भारत पहली पारी के आधार पर अभी भी इंग्लैंड से 139 रन पीछे।

तमिलनाडु के गवर्नर बनवारी लाल पुरोहित पंजाब के भी राज्यपाल बने सामान्य व्यवस्था बनाए जाने तक चंडीगढ़ का प्रशासन भी संभालेंगे।

एक बार फिर अपने पुराने क्लब मैनचेस्टर यूनाइटेड के लिए खेलेंगे पुर्तगाली फुटबॉल स्टार क्रिस्टियानो रोनाल्डो। ट्रांसफर के लिए मैनचेस्टर और रोनाल्डो के मौजूदा क्लब युवेंटस के बीच करीब 216 करोड़ रुपये का हुआ करार। 2003 से 2009 तक मैनचेस्टर से खेल चुके हैं रोनाल्डो।

बंगाल में चुनाव बाद हिंसा, CBI ने दर्ज की 11 प्राथमिकियां.

देहरादून-ऋषिकेश को जोड़ने वाले पुल पर तैनात हुई SDRF, रेस्क्यू अभियान शुरू.

मध्यप्रदेश में क्लास 6 से 12वीं तक के स्कूल एक सितंबर से खोल दिए जाएंगे। आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई बैठक में स्कूल खोले जाने का फैसला किया गया।

असम के दीमा हसाओ जिले में संदिग्ध उग्रवादियों ने कोयला ले जा रहे 5 ट्रक चालकों की हत्या कर दी और उनके वाहनों में आग लगा दी। यह जानकारी पुलिस ने शुक्रवार को दी।

कोरोनावायरस के कारण अस्पताल में भर्ती कराए गए लोगों में से करीब आधे में कम से कम एक लक्षण संक्रमण के एक साल बाद भी बना रहता है। शोध पत्रिका 'लांसेट' में शुक्रवार को प्रकाशित एक अध्ययन में यह कहा गया है। चीन के वुहान में 1276 मरीजों पर किए गए अध्ययन में पाया गया कि तीन लोगों में से एक को 12 महीने बाद भी सांस लेने में दिक्कतें बनी हुई थीं, जबकि गंभीर रूप से बीमार कुछ मरीजों में फेफड़े से जुड़ी समस्याएं भी मिलीं। कोरोनावायरस से संक्रमित नहीं हुए लोगों की तुलना में संक्रमित लोगों को कम तंदुरुस्त पाया गया। चीन-जापान फ्रेंडशिप हॉस्पिटल के प्रोफेसर बिन काओ ने कहा, हमारा अध्ययन अस्पतालों में भर्ती हुए संक्रमित लोगों के, 12 महीने बाद बीमार होने के संबंध में उपलब्ध कराए गए आंकड़ों पर आधारित है। ज्यादातर मरीज पूरी तरह ठीक हो गए, लेकिन गंभीर रूप से बीमार हुए कुछ मरीजों में स्वास्थ्य से जुड़ी दिक्कतें बरकरार थीं। अध्ययन के निष्कर्ष बताते हैं कि कुछ मरीजों के ठीक होने में एक वर्ष से अधिक समय लगेगा और महामारी के बाद स्वास्थ्य सेवाओं की आपूर्ति की योजना बनाते समय इसे ध्यान में रखा जाना चाहिए। अध्ययन के दौरान उन मरीजों के आंकड़ों का विश्लेषण किया गया, जिन्हें सात जनवरी से 29 मई 2020 के दौरान अस्पतालों से छुट्टी दी गई थी। इन मरीजों ने अस्पताल से छुट्टी के करीब छह और 12 महीने बाद स्वास्थ्य संबंधी विस्तृत जांच कराई। साथ ही इन लोगों से कई तरह के सवाल भी पूछे गए तथा अलग-अलग तरह की जांच की गई। अध्ययन में शामिल मरीजों की औसत उम्र 57 साल थी। शोधकर्ताओं ने कहा कि कोरोनावायरस से संक्रमित होने के आरंभिक दिनों में मरीजों में जो-जो लक्षण थे, वो धीरे-धीरे खत्म हो गए। हालांकि कुछ मरीजों में कम से कम एक लक्षण मौजूद था। अध्ययन से सामने आया कि थकावट या मांसपेशी की कमजोरी, सबसे सामान्य लक्षण था। संक्रमण के छह महीने बाद भी लोगों को ऐसी दिक्कतों का सामना करना पड़ा, वहीं एक साल बाद पांच में से एक मरीज में इस तरह का लक्षण मौजूद था। करीब एक तिहाई मरीजों ने 12 महीने बाद सांस लेने में दिक्कतों की शिकायत की। ये ऐसे मरीजे थे, जो गंभीर रूप से बीमार हुए थे और उन्हें वेंटिलेटर की जरूरत पड़ी थी। शोधकर्ताओं ने कहा कि छह महीने की तुलना में एक साल बाद कुछ मरीजों में बेचैनी और घबराहट की समस्या पहले से ज्यादा बढ़ गई। शोध लेखकों में शामिल, चीन-जापान फ्रेंडशिप हॉस्पिटल के शियाओइंग गू ने कहा, हम यह पूरी तरह नहीं समझ पाए हैं कि संक्रमण के छह महीने की तुलना में एक साल बाद कुछ दिक्कतें क्यों बढ़ गईं। संक्रमण के कारण जैविक प्रक्रिया या शरीर की प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया के कारण ऐसा हो सकता है। सामाजिक संपर्क घटना, अकेलापन बढ़ना, पूरी तरह ठीक नहीं होना भी इसके लिए कारण हो सकता है।

रामनाथ कोविंद भारत के पहले ऐसे राष्ट्रपति होंगे, जो अयोध्या में रामलला के दर्शन करेंगे। राष्ट्रपति कोविंद 29 अगस्त को स्पेशल ट्रेन से रामनगरी अयोध्या पहुंच रहे हैं।

पिछले 24 घंटों के दौरान, देश के पूर्वी हिस्सों जैसे झारखंड, पश्चिम बंगाल, बिहार, सिक्किम, असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश के साथ-साथ अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और केरल में मॉनसून सक्रिय रहा, इन सभी राज्यों में मध्यम से भारी बारिश हुई। तमिलनाडु, तटीय आंध्र प्रदेश, ओडिशा के कुछ हिस्सों, तटीय कर्नाटक, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई। लक्षद्वीप, तेलंगाना, दक्षिण गुजरात, आंतरिक ओडिशा, शेष पूर्वोत्तर भारत और पूर्वोत्तर उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, दक्षिण और दक्षिण पूर्व मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों और सौराष्ट्र और कच्छ के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हुई। अगले 24 घंटों के दौरान, केरल में मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार के कुछ हिस्सों, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, हिमाचल प्रदेश और तटीय कर्नाटक के कुछ हिस्सों, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिमी उत्तर प्रदेश की तलहटी, ओडिशा के कुछ हिस्सों, झारखंड, तेलंगाना, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, रायलसीमा, तटीय आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों, महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात में हल्की बारिश संभव है।



COVID-19: India adds 44,658 new cases

'Third wave' may be a tsunami of 60 lakh cases, warns Maha

Bar Council tells SC it has called meeting to frame rules for curtailing strikes by lawyers

Ashok Gehlot to undergo angioplasty at SMS hospital

Cong high command summons Chhattisgarh CM Baghel

Bihar makes RT-PCR negative report must for passengers coming from Kerala

Custodial deaths a cause of concern: Allahabad HC

Sonu Sood to be brand ambassador of AAP government's 'Desh ka mentors' programme: Kejriwal

Delhi police issues over 2.5 lakh challans for Covid norms' violation

'Third wave' may be a tsunami of 60 lakh cases, warns Maha

Delhi schools to reopen in phased manner from Sep 1

Navjot Singh Sidhu's adviser Malvinder Singh Mali quits

Achieving advancement in technology can make India superpower: Rajnath

INX Media: Can't allow inspection of seized documents by accused, CBI tells Delhi HC

Citing polls in Uttarakhand, Harish Rawat seeks to be relieved as Cong's Punjab affairs in-charge

HC asks Centre to respond to pleas by FB, WhatsApp challenging IT Rules

SC asks Sebi not take coercive steps against NDTV promoters, adjourns hearing to Sep 3

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

प्रधान पद की प्रत्याशी की सुबह मौत, दोपहर में विजयी घोषित