महिला स्वावलंबन ही रक्षाबंधन

 

दिसंबर तक तैयार हो जाएंगी जायडस कैडिला की कोविड वैक्सीन जायकोव डी की लगभग 4 करोड़ डोज। इस साल सितंबर से अस्पतालों में मिलनी हो जाएगी शुरू। इधर, देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 34 हजार 457 नए मामले। 540 मरीजों की हुई मौत। इस बीच, राजधानी दिल्ली में कम होते संक्रमण के मामलों की वजह से राज 8 बजे के बाद भी खुल सकेंगे बाजार।

कल्याण सिंह का निधन हो गया है, उनके निधन की खबर मिलते ही भाजपा समेत तमात राजनीतिक दलों में शोक की लहर दौड़ गई है। यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह का निधन। लंबी बीमारी के बाद लखनऊ के पीजीआई में 89 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने दी श्रद्धांजलि. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- 23 अगस्त को होगा कल्याण सिंह का अंतिम संस्कार, उस दिन पूरे प्रदेश में रहेगा सार्वजनिक अवकाश। पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का पार्थिव शरीर आज सुबह 11 बजे तक उनके मॉल एवेन्यू आवास पर दर्शनार्थ रखा जाएगा। 11-1 बजे तक विधान मंडल कार्यालय में उनके पार्थिव शरीर को रखा जाएगा। 1 से 3 बजे तक प्रदेश कार्यालय पर उन्हें श्रद्धांजलि दी जाएगी। इसके बाद एयर एंबुलैंस से उन्हें अलीगढ़ ले जाया जायेगा वहां स्टेडियम में दर्शनार्थ रखा जाएगा। 23 तारीख को अलीगढ़ से अतरौली तथा उसके पश्चात नरौरा घाट पर उनका अंतिम संस्कार होगा। अलीगढ़ जिले के मढ़ौली ग्राम में तेजपाल सिंह लोधी और सीता देवी के घर पांच जनवरी 1932 को जन्मे कल्याण सिंह पहली बार 1967 में जनसंघ के टिकट पर अलीगढ़ जिले की अतरौली सीट से विधानसभा सदस्य चुने गये और इसके बाद 2002 तक दस बार विधायक बने। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का शनिवार को लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया. उन्होंने हिन्दूवादी नेता के तौर पर उस समय राजनीति की शुरुआत की थी जब पूरे देश में कांग्रेस पार्टी का वर्चस्व था.

अफगानिस्तान में फंसे लोगों को निकालने के लिए हर दिन 2 फ्लाइट काबुल भेज सकेगा भारत। अमेरिकी और नाटो फोर्स ने दी उड़ान की इजाजत। इस बीच असम में सोशल मीडिया पर तालिबान के समर्थन में पोस्ट लिखने वाले 14 लोग गिरफ्तार।

यूपी विधानसभा चुनाव के लिए जेडीयू का बीजेपी के साथ हो सकता है गठबंधन। सीटों को लेकर अंतिम दौर में है वार्ता। बिहार से सटी यूपी की करीब दो दर्जन सीटों पर माना जाता है नीतीश कुमार की अगुवाई वाली जेडीयू का प्रभाव।

वियतनाम में कोरोना के रेकॉर्ड 11 हजार 321 नए मामले। सख्त लॉकडाउन से पहले बाजारों में सामान खरीदने के लिए उमड़ी भीड़। उधर, ऑस्ट्रेलिया में लॉकडाउन के विरोध में जगह-जगह प्रदर्शन कर रहे लगभग 250 लोगों पर पुलिस की सख्ती। कुछ को गिरफ्तार किया तो कुछ पर लगाया जुर्माना।

जाति आधारित जनगणना की मांग को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलेंगे दस दलों के नेता। बिहार के अलावा अन्य राज्यों में भी हो रही जातिगत जनगणना कराने की मांग।

क्रेडिट और डेबिट कार्ड से पेमेंट सिक्योर करने में जुटा RBI जनवरी 2022 से पेमेंट के लिए हर बार डालना पड़ सकता है कार्ड का 16 डिजिट का नंबर। कार्ड की डिटेल सेव नहीं कर पाएंगी पेमेंट कंपनियां।

नैशनल टेस्टिंग एजेंसी ने ने JEE मेन 2021 एग्जाम के लिए ओपन की इमेज करेक्शन विंडो। 26 अगस्त से शुरू होगी चौथे सेशन की परीक्षा। कोरोना महामारी के चलते पोस्टपोन हो गए थे एग्जाम।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलम्बन के लिए ‘मिशन शक्ति के तीसरे चरण की शुरुआत की। 1.55 लाख से अधिक बालिकाओं के खाते में डाले गए 30 करोड़.

काबुल के तथाकथित तालिबानी एक्टिंग गवर्नर अब्दुल रहमान मंसूर से मिले अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई और वरिष्ठ नेता अब्दुल्ला अब्दुल्ला। राजधानी काबुल की स्थिति पर की चर्चा। कहा, नागरिकों की जान-माल की रक्षा करना होनी चाहिए पहली प्राथमिकता। छलावा है महिलाओं के बारे में तालिबान का वादा. अफगानिस्तान: लोग मानो मौत का इंतजार कर रहे. यूरोपियन आयोग की अध्यक्ष उर्सला वॉन ने कहा, तालिबान को मान्यता नहीं देगा यूरोपियन संघ। अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा होने के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी वहां के पहले मेहमान होंगे, कुरैशी के 22 अगस्त को अफगानिस्तान जाने की संभावना जताई गई है। काबुल पर तालिबान के कब्जे के बाद राष्ट्रपति अशरफ गनी जहां देश छोड़कर फरार हो गए, वहीं उनके भाई उसी तालिबान से जा मिले। तालिबान नेताओं से उनकी मुलाकात का वीडियो सामने आया है। अफगानिस्तान में तालिबान का दावा- पंजशीर में लड़ाकों का नेतृत्व कर रहा अहमद मसूद उनके साथ आने को तैयार। ऐसा होने की सूरत में अफगानिस्तान में तालिबान के सामने नहीं रहेगी कोई चुनौती। तालिबानियों से अब तक तीन जिले छीन चुका है मसूद का नॉर्दर्न अलायंस।

जम्मू कश्मीर से आतंकियों के सफाये का सैन्य व सुरक्षा बलों का अभियान जारी है। इसी क्रम में सुरक्षा बलों को शनिवार को तब बड़ी कामयाबी मिली, जब उन्होंने त्राल में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकियों को मार गिराया।

काबुल में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने के अभियान में तेज़ी गई है. एक उड़ान बीती रात दुशांबे के रास्ते नई दिल्ली पहुंची है वहीं दोहा और काबुल से दो उड़ान रही हैं. देर रात क़तर में भारतीय दूतावास ने ट्वीट करके जानकारी दी कि ‘135 भारतीयों के दल का पहला जत्था काबुल से दोहा पहुंचा था जिसेआज रात भारत भेजा जा रहा है. दूतावास अधिकारियों ने कॉन्सुलर और लॉजिस्टिक्स सहायता सुनिश्चित कराई ताकि सुरक्षित वापसी हो. हम क़तर और बाक़ी संबंधित प्रशासन का इसे सुनिश्चित करने के लिए धन्यवाद करते हैं.”

कोरोना काल में नौकरी खोने वालों के पीएफ अकाउंट में 2022 तक सरकार जमा करेगी पैसा, इस बात का ऐलान वित्त मंत्री ने किया है, इससे तमाम लोगों को राहत मिलने की उम्मीद है।

कोरोना के चलते दिल्ली के बाजारों के खुलने का समय अभी तक रात 8 बजे तक था मगर सोमवार से इस टाइम लिमिट को हटा लिया गया है।

त्रिपुरा कांग्रेस में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। प्रदेश के कार्यवाहक अध्यक्ष पीयूष कांति बिस्वास ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। पूर्वोत्तर में कांग्रेस को यह एक हफ्ते के भीतर दूसरा बड़ा झटका लगा है। इससे पहले पूर्वोत्तर की दिग्गज कांग्रेस नेता है महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव ने पार्टी को अलविदा कहते हुए तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम लिया था।

असम में पुलिस ने तालिबान के समर्थन में सोशल मीडिया पोस् करने के आरोप में 14 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस इस मामले में अतिरिक् सतर्कक्ता बरतते हुए सोशल मीडिया की निगरानी में जुटी है। उनके खिलाफ गैरकानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम, IT अधिनियम और CRPC की विभिन् धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है।

अपराधियों के ख़िलाफ़ यूपी पुलिस एक रणनीति के तहत कार्रवाई कर रही है जिसे अनाधिकारिक रूप से 'ऑपरेशन लंगड़ा' के तौर पर प्रचारित किया जा रहा है.

 हिंदू पंचांग के अनुसार हर साल सावन महीने की पूर्णिमा को रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाता है। इस बार राखी आज यानी रविवार, 22 अगस्त को मनाई जाएगी। परंपराओं और ऐतिहासिक संदर्भों को समेटे यह त्योहार आधुनिक भारतीय समाज के कौटुंबिक जीवन से गहराई से जुड़ा हुआ है। असल में, आधुनिक जीवन शैली ने हमारे जीवन को सुगम और सुविधाजनक बनाया है। इसने स्त्रियों और हाशिये के अन्य समूहों कोएम्पावर्डकिया है। हमारे यहां की लड़कियां और महिलाएं घूंघट डालकर या फिर चादर ओढ़कर घर के पिछले दरवाजे से बाहर निकलती थीं, क्योंकि घर के मुख्य दरवाजे पर पुरुषों की बैठकें लगी होती थीं। उस भयानक पुरुष सत्तात्मक माहौल में बहनों की रक्षा से जुड़े इस त्योहार का महत्व तो था, मगर उसका स्वरूप पुरुष सत्तात्मक ही था। अर्थात बहन के रूप में स्त्री की रक्षा या सुरक्षा की पूरी लगाम भाई या पुरुष के हाथों में होती थी। बहन ही नहीं, मां, पत्नी, दादी- जो कि एक बहन भी होती थी, यानी पूरी आधी आबादी को सुरक्षा के नाम पर घर की चौखट के भीतर कैद रखा जाता था। रक्षा करने का मतलब यह कतई नहीं कि उसे तमाम मानवीय अधिकारों से वंचित करके चारदीवारी के अंदर कैद कर दो। क्या बहन को बराबरी का जीवन जीने का हक देकर, उसे आत्मनिर्भर बनने में मदद करके और खुली हवा में सांस लेने की छूट देकर भाई उसकी रक्षा के उत्तरदायित्व का वहन नहीं कर सकता?

रक्षाबंधन के त्योहार को मैं स्त्रियों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति के साथ जोड़कर देखने की हिमायती . कैसी विडंबना है कि बहन जब तक अपना हक या अधिकार मांगे, तब तक भाई उसकी सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध हो, लेकिन जैसे ही वह अपना अधिकार मांगे, भाई उससे संबंध तोड़ ले?जहां तक आज की आत्मनिर्भर, सशक्त, कामकाजी स्त्रियों की रक्षा का सवाल है, तो हमें यह कहना पड़ेगा कि स्वावलंबी होकर बहनें खुद की रक्षा कर सकती हैं। वे अपनी सुरक्षा के लिए भाई या किसी और की मोहताज नहीं रह सकतीं। घर की चौखट से बाहर निकली एक लड़की पढ़-लिखकर जब नौकरीशुदा होती है, तो आर्थिक आत्मनिर्भरता उसे सबसे अधिक सुरक्षा प्रदान करती है। इसके साथ-साथ उसकी जागरूकता और उसका आत्मविश्वास केवल उसकी चेतना को प्रभावित करता है, बल्कि उसे सशक्त भी बनाता है। ऐसी लड़कियां अन्याय नहीं सहतीं, प्रतिरोध की आवाज बुलंद करती हैं। वे खुद की रक्षा तो करती ही हैं, दूसरों को उसके हक दिलाने का माद्दा भी रखती हैं। रक्षाबंधन के त्योहार को यदि बहनों की सुरक्षा से जोड़ना है . महिला सशक्तिकरण’ के बारे में जानने से पहले हमें ये समझ लेना चाहिए कि हम ‘सशक्तिकरणसे क्या समझते है ‘सशक्तिकरण से तात्पर्य किसी व्यक्ति की उस योग्यता से है जिसमें वो अपने जीवन से जुड़े सभी निर्णय स्वयं ले सके।जहाँ महिलाएँ परिवार और समाज के सभी बंधनों से मुक्त होकर अपने निर्णयों की निर्माता खुद हो। हमारे आदि – ग्रंथों में नारी के महत्त्व को मानते हुए यहाँ तक बताया गया है कि "यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवता:" अर्थात जहाँ नारी की पूजा होती है, वहाँ देवता निवास करते है। समाज में उनके अधिकारों और मूल्यों को मारने वाली उन सभी राक्षसी सोच को मारना जरुरी है, जैसे – दहेज प्रथा, अशिक्षा, यौन हिंसा, असमानता, भ्रूण हत्या, महिलाओं के प्रति घरेलू हिंसा, वैश्यावृति, मानव तस्करी और ऐसे ही दूसरे विषय। रुढ़ीवादी विचारधाराओं के कारण महिलाओं के घर छोड़ने पर पाबंदी होती है। इस तरह के क्षेत्रों में महिलाओं को शिक्षा या फिर रोजगार के लिए आजादी नही होती है। इक्कीसवीं सदी नारी जीवन में सुखद सम्भावनाओं की सदी है। महिलाएँ अब हर क्षेत्र में आगे आने लगी हैं। आज की नारी अब जाग्रत और सक्रीय हो चुकी है। किसी ने बहुत अच्छी बात कही है नारी जब अपने ऊपर थोपी हुई बेड़ियों एवं कड़ियों को तोड़ने लगेगी, तो विश्व की कोई शक्ति उसे नहीं रोक पाएगी। वर्तमान में नारी ने रुढ़िवादी बेड़ियों को तोड़ना शुरू कर दिया है। यह एक सुखद संकेत है। लोगों की सोच बदल रही है, फिर भी इस दिशा में और भी प्रयास करने की आवश्यकता है।

पिछले 24 घंटों के दौरान, दिल्ली एनसीआर और कोंकण और गोवा में मध्यम से भारी बारिश हुई। उत्तर प्रदेश, हरियाणा, उत्तराखंड, बिहार के उत्तरी हिस्सों, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, तटीय ओडिशा के कुछ हिस्सों, मध्य प्रदेश, दक्षिण गुजरात, मध्य महाराष्ट्र और अलग-अलग हिस्सों और विदर्भ और मराठवाड़ा में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई। पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, शेष पूर्वोत्तर भारत, गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड, आंतरिक ओडिशा, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु, तटीय कर्नाटक और केरल के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। राजस्थान, बाकी गुजरात, आंतरिक कर्नाटक, आंतरिक तमिलनाडु, तेलंगाना, लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की बारिश दर्ज की गई। अगले 24 घंटों के दौरान, हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, दक्षिण-पूर्वी राजस्थान, गुजरात के कुछ हिस्सों, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, उत्तरी बिहार, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम के कुछ हिस्सों, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश के कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश यह साथ कहीं-कहीं भारी भारी हो सकती है। दिल्ली, गुजरात के कुछ हिस्सों, महाराष्ट्र, तेलंगाना, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, तमिलनाडु, तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक दो स्थानों पर कुछ देर के लिए तेज बारिश संभव है। पूर्वी राजस्थान, बाकी गुजरात, तटीय कर्नाटक, केरल, लक्षद्वीप, ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, पूर्वी मध्य प्रदेश और झारखंड में हल्की बारिश संभव है।



 Maha: One more extortion case filed against Param Bir Singh; fourth within a month

Three JeM militants killed in encounter in Pulwama

Army repatriates three children who had crossed over to Indian side of LoC in J&K's Poonch

Heavy rains cause waterlogging in Delhi, crucial underpasses closed for traffic

PM Modi greets people on Onam

Konkan, Nashik likely to receive heavy showers: IMD

Work your R Quotient

Mehbooba indulging in 'politics of hatred' after losing ground in J&K: BJP

Delhi Metro services on two corridors to start early on Raksha Bandhan

Over 1.21 lakh doses of Covid vaccine administered in Delhi on Friday: Govt bulletin

Delhi records 19 cases, lowest since Apr 15 last year; zero death

Former Uttar Pradesh chief minister Kalyan Singh passes away

India evacuates around 80 people from Kabul

Ganga Expressway to become backbone of UP's economy: Sitharaman

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

उठो द्रोपदी वस्त्र संभालो अब गोविन्द न आएंगे :

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

प्रधान पद की प्रत्याशी की सुबह मौत, दोपहर में विजयी घोषित