विशिष्टाद्वैत वेदान्त के प्रवर्तक- रामानुजाचार्य


 

 देश में कोरोना के नए मामलों में गिरावट, लेकिन थम नहीं रही मौतें। बीते 24 घंटे में सामने आए 1 लाख 27 हज़ार 952 मामले। इस दौरान 1 हज़ार 59 मरीजों की जान भी गई है। डेली पॉजिटिविटी रेट घटकर 7.9 फीसदी पर आया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11वीं सदी के भक्ति शाखा के संत श्री रामानुजाचार्य की स्मृति में शनिवार  को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शमशाबाद में 11 वीं शताब्दी के भक्ति संत श्री रामानुजाचार्य की स्मृति में 216 फीट ऊंची 'समानता की मूर्ति' का यानी ''स्टैच्यू ऑफ इक्वेलिटी' प्रतिमा का अनावरण कर इसे राष्ट्र को समर्पित किया।

भारत की दूसरी और विश्व की 26वीं सबसे ऊंची मूर्ति है. मुचिन्तल गांव हैदराबाद के बाहरी इलाक़े शमशाबाद में स्थित है. तेलुगू भाषी राज्यों में लोकप्रिय वैष्णव संप्रदाय के संन्यासी त्रिदंडी चिन्ना जीयर स्वामी के आश्रम में इस मूर्ति को लगाया जा रहा है. मूर्ति बनाने की योजना साल 2014 से चल रही थी और 2021 में पूरी हुई. भारत के महान संतों में माने जाने वाले रामानुजाचार्य की 1000वीं जयंती के मौके पर सहस्त्राबदी समारोह का आयोजन किया जा रहा है. मूर्ति की लंबाई 108 फीट है. उनके हाथ में लिया गया त्रिदंडम (जिसे वैष्णव पीठाधिपति अपने साथ रखते हैं) 135 फीट ऊंचा है. जिस सतह पर मूर्ति बनी है उसकी ऊंचाई 54 फीट है. पद्म (कमल) पीतम की ऊंचाई 27 फीट है. इस सतह को भद्र पीतम के नाम से जाना जाता है. नीचे की सतह को मिलाकर इस मूर्ति की कुल लंबाई 216 फीट है.

पीतम जिस पर मूर्ति बनाई गई है उसकी 54 पंखुड़ियां हैं और उसके नीचे 36 हाथियों की मूर्तियां बनी हुई हैं. कमल की पत्तियों पर 18 शंख और 18 चक्र बने हैं. इस मूर्ति तक पहुंचने के लिए 108 सीढ़ियां हैं. इस मूर्ति में विभिन्न द्रविड़ साम्राज्यों की मूर्तिकला से जुड़ी चित्रकारी की गई है. मूर्ति के नाखूनों से लेकर त्रिदंडम तक को बहुत सावधानी से बनाया गया है. इस मूर्ति में रामानुजाचार्य ध्यान में बैठे हैं. भद्रपीतम में 120 किलो सोने से ये मूर्ति बनाई जा रही है. 120 किलो सोना लेने की वजह ये है कि रामानुजाचार्य 120 सालों तक जीवित रहे थे.

इस मूर्ति के साथ-साथ परिसर में 108 दिव्यदेश बनाए गए हैं. वैष्णव परंपरा के मुताबिक भगवान विष्णु के 108 अवतार और मंदिर माने जाते हैं. परिसर में बने 108 मंदिर इन्ही दिव्यदेशों के प्रतिरूप हैं. इनका निर्माण होयसल शैली में किया गया है. इसमें कुल 468 स्तंभ होंगे. विभिन्न स्थानों के मूर्तिकारों और विशेषज्ञों ने इसके लिए काम किया है. मूर्ति और मंदिरों के अलावा यहां रामानुजम की ज़िंदगी को दिखाती एक गैलरी भी होगी. एक वैदिक पुस्तकालय, सेमिनार के लिए ऑडिटोरियम और विशेषज्ञों की बैठकें और एक ओमनिमैक्स थियेटर भी होगा. यहां पर एक संगीतमय फव्वारा भी लगाया जा रहा है. यहां हर नित्य अभिषेक की व्यवस्था भी की जा रही है. इस मूर्ति का नाम समता मूर्ति (अंग्रेज़ी में स्टैच्यू ऑफ़ इक्वैलिटी) रखा गया है. चिन्ना जीयर स्वामी ने कहा, ''हम इस समानता की मूर्ति को सांस्कृतिक प्रतीक के रूप में भव्य रूप से बनाए रखने की योजना बना रहे हैं ताकि दुनिया को सभी के लिए बराबरी वाली जगह को बनाने के लिए प्रेरित किया जा सके. हम रामानुजाचार्य की 1000वीं जयंती इस तरह मना रहे हैं ताकि वसुधैव कुटुंबकम का विचार आगे बढ़ सके. रामानुजम ने लाखों लोगों को सामाजिक असमानता से आज़ाद करवाया था.'' आयोजनकर्ताओं का कहना है कि इस परियोजना पर कुल 1000 करोड़ रुपये खर्च हो रहे हैं. ये 45 एकड़ के इलाके में फैली हुई है. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि जानेमाने उद्योगपति जुपल्ली रामेश्वर राव ने ये ज़मीन दान की है. जुलपल्ली रामेश्वर राव 'माय होम्स' समूह के मालिक हैं. वह राज्य की सत्ताधारी पार्टी के काफ़ी करीबी हैं. जीयर इंटीग्रेटेड वैदिक एकेडमिक (जीवा) ने कहा कि उसने पूरे 1000 करोड़ रुपये दान से इकट्ठा किए हैं. इन 1000 करोड़ रुपयों में से मूर्ति बनाने में 130 करोड़ रुपये (कर हटाकर) लगे हैं. चीनी कंपनी चेंगुआंत समूह के इरोजन कॉरपोरेशन की इस मूर्ति के निर्माण में भूमिका है. इस कंपनी ने पूरी दुनिया में बड़ी-बड़ी मूर्तियां बनाई हैं. आयोजकों का कहना है कि इस मूर्ति में 7000 टन पंचतत्वों का इस्तेमाल किया गया है. सोना, चांदी, तांबा, पीतल और जस्ते का इस्तेमाल भी किया गया है. जीवा और एरोजन कॉरपोरेशन के बीच 14 अगस्त, 2015 को मूर्ति के निर्माण को लेकर समझौता हुआ था. भारत की एक कंपनी ने भी इस मूर्ति के निर्माण के लिए आवेदन दिया था.

"हर किसी की पीड़ा को कम करने के लिए भले ही मुझे अकेले नरक में जाना पड़े, मैं खुशी से ऐसा करूंगा. भगवान के सामने सभी समान हैं. हर जाति को उनका नाम लेने का अधिकार है. मंदिर में प्रवेश सभी के लिए खुला है." रामानुजाचार्य ने अलग-अलग मौकों पर ये संदेश दिए हैं. रामानुजाचार्य हिंदू भक्ति परंपरा से आते हैं. वह एक विचारक थे. उनका जन्म 1017 ईसवी में हुआ था और वो 1137 ईसवी तक जीवित रहे थे.  वो वरदराज स्वामी के भक्त थे. श्रीरंगम उनकी कर्मभूमि रही. उनकी समाधी अभी भी श्रीरंगम में श्री रंगनाथ स्वामी मंदिर में है. उन्होंने विशिष्टाद्वैत सिद्धांत दिया था. इस सिद्धांत के अनुयायी श्री वैष्णव के नाम से जाने जाते हैं. उनके माथे पर दो सीधी लकीरों वाला टीका लगा होता है और वो अपने कंधे पर हमेशा शंख चक्र प्रतीक रखते हैं. इस संप्रदाय के जो लोग संन्यास लेते हैं उन्हें जीयर कहा जाता है. उनके कई

उनके कामों में वीदर्धा संग्राहाम, श्री भाष्यम, गीता भाष्यम आदि शामिल हैं. वह शंकराचार्य के अद्वैत विचार से पूरी तरह असहमति रखते थे. श्री वैष्णव के शब्दों में, ''अद्वैत विचार में ये नियम है कि अष्ठाक्षरी मंत्र किसी को नहीं बताया जाता लेकिन रामानुजम ने इससे असहमति जताते हुए गोपुरम मंदिर से मंत्र का उच्चारण किया था ताकि सब उसे सुन सकें. उन्होंने स्वेच्छा से उस नियम का उल्लंघन किया कि जो भी मंत्र को सुनता है उस पर कृपा होती है और जो दूसरों के लिए मंत्र बोलता है उससे शाप लगता है. उनका कहना था कि अगर सभी पर कृपा होती है तो वो शाप लेने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कुछ मंदिरों में दलितों के प्रवेश को लेकर काम किया. उन्होंने लोगों को निचली जातियों से वैष्णव में बदला. उन्होंने इन जातियों से कुछ पुजारी भी बनाए.'' मूर्ति के उद्घाटन के दौरान यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है. इसे आधुनिक समय का सबसे बड़ा यज्ञ माना जा रहा है. यहां लक्ष्मी नारायण महायज्ञ हो रहा है. इसके लिए 144 होमशालाएं, 1035 वेदियां बनाई गई हैं. 500 पंडित मंत्रोच्चार और यज्ञ कराएंगे. यज्ञ 14 दिनों तक चलेगा. इस दौरान 9 स्कूलों के छात्र वेद मंत्र पढ़ेंगे. वे एक करोड़ बार अष्टाक्षरी मंत्र पढ़ेंगे. यज्ञ का आयोजन करने वालों ने डेढ़ लाख किलो गाय के शुद्ध घी का इंतजाम किया है. यह घी राजस्थान के पथमेढ़ा से मंगाया जा रहा है. घी जुटाने में छह महीने का समय लगा. यज्ञ के लिए चार तरह के पेड़ों की लकड़ी से समिधा इकट्ठा की गई है. इन पेड़ों की लकड़ियां सिर्फ यज्ञ के लिए ही इस्तेमाल होती हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 फरवरी को 216 फीट की इस मूर्ति का अनावरण किया. वहीं, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 13 फरवरी को 120 किलो सोने की प्रतिमा का अनावरण करेंगे. इसके साथ अलावा भारत के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमन्ना, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, नीतिन गडकरी और, प्रल्हाद जोशी, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत भी इस 14 दिनों के समारोह में हिस्सा ले रहे हैं. हैदराबाद आने वाले पर्यटकों का लिए रामानुजम की प्रतिमा एक नया आकर्षण होगी. यदाद्रि मंदिर के अलावा यह प्रतिमा विष्णु भक्तों और अन्य पर्यटकों को आर्कषित करेगी. इस वजह से हैदराबाद में पर्यटकों की तादाद भी बढ़ेगी. हालांकि इस मूर्ति को लेकर सोशल मीडिया में काफी बहस चल रही है. कई लोगों ने इतनी बड़ी मूर्ति स्थापित करने और इसे समानता की मूर्ति कहने पर प्रतिक्रिया जताई है

रामानुजाचार्य (अंग्रेजी: Ramanuja जन्म: १०१७ - मृत्यु: ११३७) विशिष्टाद्वैत वेदान्त के प्रवर्तक थे। वह ऐसे वैष्णव सन्त थे जिनका भक्ति परम्परा पर बहुत गहरा प्रभाव रहा। वैष्णव आचार्यों में प्रमुख रामानुजाचार्य की शिष्य परम्परा में ही रामानन्द हुए जिनके शिष्य कबीर, रैदास और सूरदास थे। रामानुज ने वेदान्त दर्शन पर आधारित अपना नया दर्शन विशिष्ट अद्वैत वेदान्त लिखा था। रामानुजाचार्य ने वेदान्त के अलावा सातवीं-दसवीं शताब्दी के रहस्यवादी एवं भक्तिमार्गी आलवार सन्तों के भक्ति-दर्शन तथा दक्षिण के पंचरात्र परम्परा को अपने विचारों का आधार बनाया। गैर-ब्राह्मण को गुरु बनाया, महिलाओं को सशक्त किया. रामानुजाचार्य ने जाति विभेद के खिलाफ अभियान चलाया और महिलाओं को सशक्त करने के लिए जीवन भर परिश्रम किया। इस्लामी आक्रांता जब भारत में पाँव पसारने के लिए बेताब थे, ऐसे समय में उन्होंने भारत की जनता के भीतर की धार्मिक भावनाओं को और प्रबल किया। उन्होंने हर वर्ग के लोगों के बीच ‘मुक्ति और मोक्ष के मंत्रों के बारे में सार्वजनिक रूप से बताया। उनका कहना था कि ये चीजें गोपनीय नहीं रहनी चाहिए, सभी वर्गों के लोगों को इसका लाभ मिलना चाहिए। खुद बाबासाहब डॉक्टर भीमराव आंबेडकर ने लिखा है कि हिन्दू धर्म में समता की दिशा में संत रामानुजाचार्य ने महत्वपूर्ण कार्य किए और उन्हें लागू करने का प्रयास भी किया। डॉक्टर आंबेडकर लिखते हैं, तिरुवल्ली में एक दलित महिला के साथ शास्त्रार्थ के बाद उन्होंने उक्त महिला से कहा कि आप मेरे से ज्यादा ज्ञानी हैं। इसके बाद संत रामानुजाचार्य ने उक्त महिला को दीक्षा दी और उसकी मूर्ति बना कर मंदिर में स्थापित किया। उन्होंने धनुर्दास नाम के पिछड़े समाज के व्यक्ति को अपना शिष्य बनाया। नदी में स्नान करने के बाद वो अपने इसी शिष्य के माध्यम से वापस आते थे। अब समता का सन्देश देने वाले रामानुजाचार्य की प्रतिमा पूरे विश्व को उनके सिद्धांतों का साक्षात्कार करने की प्रेरणा देगी।

हैदराबाद में पीएम नरेंद्र मोदी का स्वागत करने के लिए नहीं पहुंचे तेलगांना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव। बीजेपी ने साधा निशाना। कहा- मुख्यमंत्री ने प्रोटोकॉल का पालन न करके प्रधानमंत्री का अपमान किया।

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने हाल ही में संविधान को फिर से लिखे जाने की बात की थी। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने इसके लिए KCR की आलोचना की है। उन्होंने इसे पद की शपथ का उल्लंघन बताया है।

जायकोव-डी भारत की पहला नीडल-फ्री और दूसरी स्वदेशी कोविड-19 वैक्सीन है। इसे बिहार के पटना में लॉन्च किया गया है। इस वैक्सीन से उन लोगों को राहत है जिन्हें सुइयों से डर लगता है। इस वैक्सीन की 3 डोज दी जानी हैं।

इजरायल में साफेद स्थिति बार-एलान यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं की स्टडी में खुलासा हुआ है कि कोरोना संक्रमण और विटामिन डी का सीधा रिश्ता है। यदि कोई शख्स जो कोरोना संक्रमित होने के साथ विटामिन डी की कमी का सामना कर रहा हो तो खतरा 14 गुना बढ़ जाता है।

चीनी कर्ज के बोझ तले दबे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के सुर CPEC प्रोजेक्ट को लेकर बदले-बदले से नजर आ रहे हैं। आर्थिक तंगी झेल रहे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री मदद की आस में चीन पहुंचे हुए हैं, जहां CPEC प्रोजेक्ट के दूसरे चरण को लेकर उन्होंने एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

पाकिस्तानी सेना का दावा- बलूचिस्तान में मार गिराए 20 आतंकी, 9 सैनिकों की भी मौत

अस्पताल में भर्ती लता मंगेशकर की हालत डॉक्टर्स ने गंभीर बताई है। उन्हें कोविड संक्रमण के बाद 8 जनवरी को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लता मंगेशकर का हाल जानने सुबह 9 बजे ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल पहुंचेंगे नितिन गडकरी.

अन्ना हजारे का महाराष्ट्र के CM उद्धव ठाकरे को पत्र, कहा- शराब नीति के खिलाफ करेंगे अनशन

नेशनल मेडिकल कमीशन ने मेडिकल से संबंधित प्राइवेट डीम्ड संस्थानों में फीस के संबंध में बड़ा फैसला किया है। एनएमसी का कहना है कि 50 फीसद सीटों पर फीस सरकारी मेडिकल कॉलेजों के बराबर होनी चाहिए। प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में पढ़ाई होगी सस्ती.

आज भारत और वेस्ट इंडीज़ के बीच सीरीज का पहला वनडे मैच अहमदाबाद में खेला जाएगा।

भारतीय टीम ने पांचवीं बार आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप की ट्रॉफी पर कब्जा जमा लिया है। युश धुल की अगुवाई वाली भारतीय टीम ने फाइनल में इंग्लैंड को चार विकेट से धूल चटाई। इंग्लैंड ने एंटीगा के सर विव रिचर्ड्स स्टेडियम में खेले गए खिताबी मुकाबले में 190 रन का टारगेट दिया था, जिसे भारत ने 47.4 वें ओवर में हासिल कर लिया।

कर्नाटक में हिजाब को लेकर चल रहे बवाल के बीच सरकार ने स्कूलों में ड्रेस कोड नियम लागू रखने का फैसला किया। हाईकोर्ट में आठ फरवरी को इस मामले में सुनवाई है तब तक ड्रेस कोड नहीं हटाए जाएंगे। राज्य के शिक्षा विभाग की तरफ से कहा गया है कि स्कूल-कॉलेजों में सामुदायिक सौहार्द और शांति व्यवस्था को नुकसान पहुंचाने वाली किसी भी ड्रेस को पहनने पर रोक रहेगी।

गुजरात के सूरत जिले में एक भयानक घटना सामने आई है। 8 महीने के बच्चे को उसकी केयरटेकर ने बेरहमी से पीटा। बच्चे की पिटाई इतनी की गई कि उसको ब्रेन हेमरेज होने के बाद फिलहाल एक निजी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती किया गया है।

पंजाब कांग्रेस में फिर से सियासी घमासान तेज़। राज्य में सीएम चेहरे के ऐलान से ठीक पहले भड़के नवजोत सिंह सिद्धू, कहा- इशारों पर नाचने वाला सीएम चाहता है आलाकमान। उन्होंने कहा- आलाकमान हमेशा पंजाब को कमजोर सीएम का चेहरा देना चाहता है। वे चाहते हैं कि सीएम उनके इशारों पर नाचने वाला हो।

कांग्रेस ने पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की। पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और मनीष तिवारी का नाम सूची में नहीं। इस बीच मनीष तिवारी ने तंज कसते हुए कहा- 'लिस्ट में नाम नहीं होने से हैरान नहीं हूं, हैरानी तो तब होती जब मेरा नाम होता।' पार्टी की तरफ से जारी स्टार प्रचारकों की लिस्ट में सोनिया गांधी, पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का नाम है।

पंजाब नेशनल बैंक (PNB) ने सेविंग्स अकाउंट की ब्याज दरों में कटौती करने का फैसला किया। इंटरेस्ट रेट को सालाना 2.80 से घटाकर 2.75% किया गया। 3 फरवरी से लागू हो गई हैं नई दरें।

राजधानी दिल्ली में नर्सरी से 8वीं कक्षा तक के स्कूल सोमवार 14 फरवरी से खोल दिए जाएंगे। सूबे के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दी जानकारी। कहा- यह सुनिश्चित किया जाएगा कि सभी टीचर वैक्सीनेटेड हों। कक्षा 9 से 12 तक के लिए स्कूल 7 फरवरी से खोले जाएंगे।

उत्तराखंड के चमोली जिले में स्थित बद्रीनाथ मंदिर के कपाट 8 मई को खोले जाएंगे।

चुनाव प्रचार के लिए आज से 3 दिन के उत्तराखंड दौरे पर अरविंद केजरीवाल

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उत्तराखंड के हरिद्वार में उत्तराखंड स्वाभिमान रैली को संबोधित किया। यहां उन्होंने कहा कि हम आपसे 4 वादे कर रहे हैं। हम 4 लाख लोगों को रोजगार देंगे। हम 500 रुपए से कम का एलपीजी सिलेंडर देंगे।  

जम्मू कश्मीर के कई इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं, जिसके बाद लोग घरों से बाहर निकल गए। इसकी तीव्रता 5.7 मापी गई है। भूकंप के झटके पाकिस्तान के कुछ इलाकों में भी महसूस किए गए हैं।

 

 

 

 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्दनेजर बीजेपी आज जारी करेगी अपना घोषणा पत्र। पार्टी ने अपने चुनावी मेनिफेस्टो का नाम ‘लोक कल्याण संकल्प पत्रदिया है। बीजेपी के प्रदेश मुख्यालय पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह संकल्प पत्र जारी करेंगे। इस दौरान योगी आदित्यनाथ, प्रदेश चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान समेत कई अन्य नेता मौजूद रहेंगे।

बहुजन समाज पार्टी ने यूपी 54 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया। गोरखपुर शहर सीट से ख्वाजा समसुद्दीन मैदान में होंगे। यहीं से बीजेपी के टिकट पर यूपी के मौजूदा सीएम योगी आदित्यनाथ भी चुनाव लड़ रहे हैं। यूपी विधानसभा 2022 में जीत दर्ज करने के लिए बीएसपी ने कई नए चेहरों पर दांव लगाया है। बीएसपी सुप्रीमो मायावती का कहना है कि इस दफा यूपी में बदलाव होना ही है।

उत्तर प्रदेश के मेरठ में बीजेपी प्रत्याशी के लिए डोर-टू-डोर कैंपेन करने पहुंचीं पहलवान बबीता फोगाट पर हमला हो गया। उन्होंने सपा और रालोद के कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाया।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि इस दफा वो 400 सीटें जीतने जा रहे हैं। इसके साथ ही कहा कि यूपी के लोग मौजूदा सरकार से तंग चुके हैं।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में चित्रकूट से बड़ी खबर सामने रही है, ददुआ के बेटे और पूर्व विधायक वीर सिंह पटेल ( ने बड़ा फैसला लिया है वीर सिंह पटेल ने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है और इस बावत समाजवादी पार्टी को भी बता दिया है। ददुआ के बेटे वीर सिंह ने लौटाया टिकट.

यूपी विधानसभा चुनाव के लिए धुआंधार प्रचार अभियान चला रहे AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी की कार पर हमले के बाद से यह मसला तूल पकड़ता जा रहा है। समझा जा रहा है कि गृह मंत्री सोमवार को इस पर संसद में जवाब देंगे। वहीं AIMIM चीफ ने आशंका जताई है कि कहीं भारत की राजनीति इजरायल जैसी हो जाए।

UP: AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी दोपहर 1 बजे देवबंद में चुनाव प्रचार करेंगे

UP: 3.5 हजार से ज्यादा नए कोरोना केस आए, 17 की मौत

ओवैसी पर फायरिंग मामले में गृहमंत्री अमित शाह सोमवार को लोकसभा में देंगे बयान.

पिछले 24 घंटों के दौरान, पिछले 24 घंटों के दौरान, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हल्की से मध्यम बारिश और अलग-अलग स्थानों पर भारी हिमपात हुआ है। पश्चिमी हिमालय के बाकी हिस्सों में हल्की बारिश और हिमपात हुआ। ओडिशा के उत्तरी तट, पश्चिम बंगाल, पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, सिक्किम, असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड और मणिपुर के उत्तरी तट पर हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ छींटे पड़े। शेष बिहार, झारखंड, आंतरिक ओडिशा, मिजोरम और त्रिपुरा में हल्की से मध्यम बारिश हुई। उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में न्यूनतम तापमान में 3 से 5 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। अगले 24 घंटों के दौरान, पूर्वोत्तर भारत और सिक्किम में हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। अरुणाचल प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश और हिमपात की संभावना है। 6 फरवरी को गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर और उत्तराखंड के अलग-अलग हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश और हिमपात हो सकता है। उत्तर पश्चिमी भारत मध्य भारत और पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में न्यूनतम तापमान में और गिरावट सकती है।



BJP's 'Modi-Yogi' factor replaced 'Muslim-Yadav' factor in UP, says Naqvi

5.7-magnitude earthquake jolts J&K

UP polls: BSP releases list of 54 candidates, fields Khwaja Samsuddin against Adityanath

PM Modi speaks to J-K LG after earthquake

Indian Beauty Market: in for a makeover

Rahul Gandhi comes in support of hijab-wearing students, says country robbing future of daughters

J-K: Two militants killed in encounter with security forces in Srinagar

India adds over 1.27 lakh fresh Covid cases, more than 1K deaths

PM Modi arrives in Hyderabad, CM not present at Airport

Won't allow Talibanisation, says K'taka BJP Chief on Hijab row

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार

अक्टूबर से नियमों में बड़े बदलाव

महिला को लिंग बदलकर पुरुष बनने की अनुमति