IMI-50 अभियान

 

लखनऊ,भारत को 2021 और 2022 में टीकाकरण कवरेज में महत्वपूर्ण प्रगति करने में मदद की है। जैसा कि राष्ट्रीय टीकाकरण कवरेज (डब्ल्यूयूएनआईसी) रिपोर्ट के नवीनतम डब्ल्यू0एच0ओ0 और यूनिसेफ अनुमानों से पता चला है। देश ने 2021 में शून्य खुराक वाले बच्चों की संख्या को 2.7 मिलियन से सफलतापूर्वक घटाकर 1.1 मिलियन कर लिया है। यह उपलब्धि भारत को विश्व स्तर पर वैक्सीन के प्रति सबसे अधिक विश्वास वाले देशों में रखते हुए टीकाकरण के प्रति देश की अटूट प्रतिबद्धता को भी उजागर करती है। आई0एम0आई0-50 अभियान हेतु कार्य योजना के संबंध में राज्य प्रतिरक्षण अधिकारी डा0 अजय कुमार गुप्ता ने कहा कि बुधवार एवं शनिवार को नियमित टीकाकरण सत्र निर्धारित माइकोप्लान के अनुसार यथावत् संचालित होंगे। दिनांक 07-12 अगस्त, 11 16 सितम्बर एवं 9-14 अक्टूबर, 2023 के मध्य सप्ताह के शेष दिवसों में अप्रतिरक्षित बच्चों की सूची के आधार पर आई0एम0आई0-50 अभियान के सत्र आयोजित किए जाएंगे। जनपदों को यह भी सुनिश्चित करने को निर्देशित किया गया है कि अभियान के दौरान स्थानीय अवकाश अथवा किसी अन्य राष्ट्रीय कार्यक्रम के संचालन के फलस्वरूप टीकाकरण कार्यक्रम बाधित होने की दशा में अग्रेतर दिवसों पर टीकाकरण सत्रों का आयोजन कर आई0एम0आई0 5.0 के समस्त नियोजित सत्रों का सम्पादन सुनिश्चित किया जाएगा। इस अभियान की तैयारियों की समीक्षा राष्ट्रीय स्तर के पर्यवेक्षकों द्वारा की जा चुकी है। 31 उच्च प्राथमिकता वाले जनपदों में टीकाकरण की प्रगति की जांच के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किये गए हैं। प्रदेश के 10 जनपदों में राष्ट्रीय स्तर से पर्यवेक्षक आकर टीकाकरण की स्थिति परखेंगे. टीकाकरण की दर बढ़ाने के लिए जिलाधिकारियों, मुख्य चिकित्सा अधिकारियों, धर्मगुरुओं, फिल्मी सितारों और समाज में प्रभावशाली लोगों द्वारा अपील जारी की गयी हैं। टीकाकरण के प्रति उदासीनता दिखाने वाले वाले लगभग 01 लाख परिवारों को यूनिसेफ, कोर, आशाओं और धर्मगुरुओं के सहयोग से प्रेरित कर टीकाकरण के इस महा-अभियान में शामिल करने का प्रयास किया जा रहा है।



आई0एम0आई0 5.0 हेतु राज्य में 1,305 कोल्ड चेन प्वाइंट पर पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध है 1 जिला प्रतिरक्षण अधिकारी के समन्वय से अभियान की तैयारियों की समीक्षा हेतु जिलाधिकारी की अध्यक्षता में डी०टी०एफ० का आयोजन, जनपद / ब्लाक स्तरीय संवेदीकरण कार्यशालाएं आशाओं व लिंक वर्कर द्वारा गर्भवती महिलाओं एवं 5 वर्ष से कम आयु के बच्चों का निर्धारित प्रारूप एवं ई-कवच पर सर्वे अपडेशन, शहरी प्लानिंग यूनिट्स एवं ब्लाक प्रभारी चिकित्साधिकारी द्वारा आई0एम0आई0 5.0 अभियान के सत्रों हेतु माइकोप्लानिंग का कार्य किया जा चुका है। प्रशिक्षित ए०एन०एम० द्वारा आई0एम0आई0-5.0 के दौरान पूरे उत्तर प्रदेश में 1.25 लाख से अधिक टीकाकरण सत्रों की योजना बनाई गई है। अभियान का लक्ष्य 12.74 लाख बकाया लाभार्थियों को लक्षित करना है।

मिशन निदेशक महोदया ने अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं ए०एन०एम०, आशा एवं आंगनबाड़ी द्वारा एक स्वास्थ्य योद्धा के रूप में कार्य करते हुए उनके द्वारा प्रदेश के सभी नागरिकों की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए किए जा रहे कार्यों की सराहना की। उन्होंने लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ मीडिया के प्रिंट, इलेक्ट्रानिक एवं सोशल मीडिया से जुड़े पत्रकार बन्धुओं एवं छायाकारों को भी प्रदेश के विकास एवं टीकाकरण अभियान में एक योद्धा के रूप में योगदान देने की अपील की। आग्रह किया कि भारत के विश्व गुरू बनने के लिए उत्तर प्रदेश का योगदान आवश्यक है। उत्तर प्रदेश के स्वस्थ्य बच्चे ही आने वाले भारत का भविष्य हैं। अतः हमें इस अभियान को एक सुअवसर के रूप में लेना होगा निश्चित ही सफल टीकाकरण कार्यक्रम प्रदेश के भविष्य को सुरक्षित रखने में कारगर सिद्ध होगा। अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें:1

. डॉ0 अजय गुप्ता (राज्य प्रतिरक्षण अधिकारी, उत्तर प्रदेश) 8004387950 2. डॉ0 मनोज कुमार शुक्ला (महाप्रबंधक नियमित टीकाकरण, उत्तर प्रदेश) 9415004437

3. टोल फ्री नम्बर- 104ल

लखनऊ से अशोक कुमार कनौजिया

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पेंशनरों की विशाल सभा

महिला साथी की हत्या शव के 35 टुकड़े

पैतृक संपत्ति में बहन को भाई के बराबर अधिकार