उत्तर प्रदेश में ताबड़तोड़ प्रशासनिक फेरबदल



राष्ट्रपति के अभिभाषण पर आज लोकसभा में होगा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन

मानहानि केस में राहुल गांधी को आज कोर्ट में होना है पेश, अमित शाह पर टिप्पणी से जुड़ा है मामला

केन्या में टैक्स विरोधी प्रदर्शन में 39 की मौत, 360 से अधिक घायल

गाजीपुर सांसद अफजाल अंसारी की याचिका पर आज HC में सुनवाई, अपनी सजा को दी है चुनौती

मध्य प्रदेश के अलीराजपुर में अपने घर में फंदे से लटके पाए गए दंपति और 3 बच्चे

यूपी कैडर के IAS अमित किशोर को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का निजी सचिव नियुक्त किया गया

भावना गवली को शिंदे गुट ने MLC चुनाव में उम्मीदवार बनाया

लोकसभा की कार्यवाही का वक्त आज रात 12 बजे तक बढ़ाया गया

UP विधान परिषद उपचुनाव: बीजेपी ने बहोरन लाल मौर्य को बनाया उम्मीदवार

दशकों से BJP-RSS वाले हिन्दू धर्म के ठेकेदार बनने की कोशिश कर रहे: मल्लिकार्जुन खड़गे

हिंदुओं को हिंसक बताना, ये नेता विपक्ष को शोभा नहीं देता: अश्विनी वैष्णव

राहुल गांधी विश्व के करोड़ों हिंदुओं से माफी मांगें: सीएम योगी

मेरा भाई कभी हिंदुओं का अपमान नहीं कर सकता: राहुल के बयान पर बोलीं प्रियंका गांधी

UPSC 2024 प्रीलिम्स का रिजल्ट जारी हुआ

CM केजरीवाल के मामले पर HC में सुनवाई, CBI की गिरफ्तारी के खिलाफ दायर की है अर्जी

भारत में इसबार मॉनूसन में अच्छी बारिश होगी: IMD

के. कविता की जमानत अर्जी हाईकोर्ट ने खारिज की

बंगाल: महिला को पीटने वाले आरोपी को 5 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा गया

मानहानि मामले में मेधा पाटकर को पांच महीने की सजा सुनाई गई

लोकसभा स्पीकर को किसी के सामने नहीं झुकना चाहिए: राहुल गांधी

नए कानून में मॉब लिचिंग को समझाया गया: अमित शाह

MP: अलिराजपुर में फांसी के फंदे पर झूलती मिली 5 लोगों के परिवार की लाश

राज्यसभा में बोले मल्लिकार्जुन खड़गे- किसानों को रौंदने वाले व्यक्ति को हरा दिया’

राहुल गांधी ने आपत्तिजनक बयान दिया : दिलीप मंडल

लोकसभा एलओपी और कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के संसद में दिए गए बयान पर पत्रकार और प्रमुख दलित आवाज दिलीप मंडल ने कहा कि अपने संबोधन के दौरान राहुल गांधी ने आपत्तिजनक बयान दिया कि भारत में मुसलमानों और ईसाइयों के खिलाफ बहुत अत्याचार हो रहे हैं. विश्वास करें कि संख्याएं यह नहीं बताती हैं. यदि आप संख्याएं देखें तो आज़ादी के बाद पिछले 10 वर्ष भारत के लिए सबसे शांतिपूर्ण समय रहे हैं, कांग्रेस के शासन के दौरान बहुत सारे दंगे होते थे. यदि आप इसकी तुलना करते हैं पिछले 10 वर्षों में, केवल 2 बड़ी सांप्रदायिक दंगे की घटनाएँ हुई हैं, दिल्ली और मणिपुर, इसलिए पैमाने कम हो गए हैं. दंगे अब लंबे समय तक नहीं चलते हैं. यह निवेशकों को डराने की कोशिश है और इसका असर भारत पर पड़ेगा. कांग्रेस मुसलमानों को खुश करने की कोशिश के खिलाफ है. वह सपा और राजद से मुस्लिम वोट, खासकर बिहार और यूपी के मुस्लिम वोट पाने की सोच रही है.

पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि शिवसेना सांसदों के साथ बहुत अच्छी बैठक हुई. हमारा कोई राजनीतिक गठबंधन नहीं हैयह एक समय-परीक्षित दोस्ती है, जो समान आदर्शों और भारत के विकास के लिए एक साझा दृष्टिकोण से बंधी हुई है. यह सराहनीय है कि एकनाथ शिंदे जी कैसे हैं. महाराष्ट्र की प्रगति और महान बालासाहेब ठाकरे के आदर्शों को पूरा करने के लिए अथक प्रयास कर रहे हैं.

चंडीगढ़: करनाल सड़क निर्माण को लेकर कांग्रेस के बयान के बारे में पूछे जाने पर हरियाणा के सीएम नायब सिंह सैनी ने कहा कि कांग्रेस भ्रष्टाचार में फंस गई है. उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप हैं. अदालत इस पर संज्ञान ले रही है और वे लोगों के बीच गलत सूचना फैला रहे हैं और उन्हें डराने की कोशिश कर रहे हैं.

लोकसभा के नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के संसद में दिए गए बयान पर बीजेपी सांसद जगदंबिका पाल ने कहा कि पूरा देश आहत है. क्या वह संसद के अंदर विपक्ष के नेता की तरह बोल रहे थे? ऐसा लग रहा था जैसे वह सड़क पर बोल रहे हों.

पीएम मोदी आज लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर शाम 4 बजे के आसपास चर्चा का जवाब देंगे. इस दौरान पीएम मोदी नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी की ओर से लगाए गए आरोपों का भी जवाब देंगे.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज धन्यवाद प्रस्ताव पर लोकसभा में चर्चा का जवाब देंगे. पीएम शाम 4 बजे के आसपास चर्चा का जवाब देंगे.

 राहुल गांधी को सुल्तानपुर की एमपी-एमएलए कोर्ट ने 2 जुलाई को तलब किया है. मानहानि के मामले में राहुल गांधी बीते 20 फरवरी से जमानत पर चल रहे हैं. अब कोर्ट ने राहुल गांधी को व्यक्तिगत रूप से पेश होने का आदेश दिया है.

 राजस्थान में आज से विधानसभा सत्र शुरू होगा. भजनलाल सरकार इसमें अपना पूर्ण बजट पेश करेगी. इसके साथ ही इसी सत्र में कई महत्वपूर्ण बिलों को भी सरकार सदन के पटल पर रखेगी.

 मध्य प्रदेश में नर्सिंग घोटाले पर कांग्रेस आज से सत्याग्रह करने जा रही है. इस सत्याग्रह में युवा कांग्रेस के प्रदेश भर के कार्यकर्ता शामिल होंगे. इस सत्याग्रह के जरिए युवा कांग्रेस तत्कालीन चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग की भूमिका की जांच कराने और उनके इस्तीफे की मांग करेगी.

उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजे आने के बाद से प्रशासनिक फेरबदल शुरू हो गया.योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक बड़ा फेरबदल 25 जून को किया गया, जब 12 ज़िलों के ज़िलाधिकारियों को (डीएम) को एक साथ बदल दिया गया. ​इसके अलावा पुलिस विभाग समेत लगभग सभी विभागों में भी ताबड़तोड़ तबादले हो रहे हैं.इसी 25 जून को ही भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के आठ अधिकारियों के तबादले हुए. इस फेरबदल में सात ज़िलों को नए पुलिस कप्तान मिले. ​राजनीतिक विश्लेषक प्रदेश में विभिन्न विभागों में हो रहे प्रशासनिक फेरबदल को बीजेपी का लोकसभा चुनावों ख़राब प्रदर्शन से जोड़ रहे हैं.उनका मानना है कि जिन लोकसभा सीटों पर बीजेपी को हार मिली है, अधिकतर वहीं के अधिकारियों का तबादला हुआ है.जिन 12 ज़िलों में ज़िलाधिकारी बदले गए, उनमें से 11 में बीजेपी चुनाव हारी है. इन सात ज़िलों में, जहाँ नए पुलिस कप्तान नियुक्त हुए, उसमें पांच जगह बीजेपी चुनाव हारी थी. सीतापुर, सहारनपुर, बस्ती, संभल, लखीमपुर खीरी, बांदा, मुरादाबाद, कौशांबी, चित्रकूट, हाथरस और श्रावस्ती के डीएम बदले गए हैं.इसमें केवल हाथरस में बीजेपी चुनाव जीती है. सीतापुर और सहारनपुर में कांग्रेस और बाक़ी सभी जगह संभल, लखीमपुर खीरी, बांदा, मुरादाबाद, कौशांबी, चित्रकूट, और श्रावस्ती में सपा चुनाव जीती है. ​इसके अलावा मेरठ, आजमगढ़, बरेली, सहारनपुर, मुरादाबाद, प्रतापगढ़, चंदौली को नए पुलिस कप्तान मिले हैं. इसमें भी पांच जगह, आजमगढ़, सहारनपुर, मुरादाबाद, प्रतापगढ़, चंदौली में बीजेपी चुनाव में नाकाम रही थी. ​अब डीएम और पुलिस कप्तान हटाकर बीजेपी सरकार कार्यकर्ताओं और नेताओं को संतुष्ट करने का प्रयास कर रही है. ​ ज़मीन पर सक्रिय बीजेपी नेता लगातार इन अधिकारियों की शिकायतें पार्टी के आलाकमान से करते रहे, लेकिन उनकी बात पर तवज्जो नहीं दी जाती थी. इसकी वजह यह थी कि बीजेपी को भरोसा था कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नेतृत्व, चुनाव जीतने के लिए काफ़ी है. ​हालांकि, प्रदेश में हो रहे इन प्रशासनिक फेरबदल को बीजेपी नेता एक समान्य प्रक्रिया बताते हैं. बीजेपी प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी कहते हैं कि यह फेरबदल समान्य है और हमारी सरकार में प्रत्येक वर्ष जून माह में तबादले किए जाते हैं.वह कहते हैं, तबादलों से अधिकारियों में नई ऊर्जा आती है और वह बेहतर काम करते हैं.त्रिपाठी के अनुसार, इस समय काफ़ी समय से एक जगह पर रुके अधिकारियों को हटाया जा रहा है ताकि सरकारी कार्य प्रणाली में और पारदर्शिता लाई जा सके. ​चुनावों के नतीजे बीजेपी की उम्मीद से बिल्कुल विपरीत आए थे. लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की 80 सीटों में आधे से अधिक 43 सीटों पर इंडिया गठबंधन को जीत मिली है.बीजेपी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को केवल 36 सीटें मिलीं. इसमे बीजेपी की अकेले केवल 33 सीटें ही हैं, जो 2019 में उसकी 62 सीटों मुक़ाबले लगभग आधी हैं. ​उत्तर प्रदेश की राजनीति पर नज़र रखने वाले विशेषज्ञ कहते हैं कि बीजेपी ने अपने कार्यकर्ताओं को नज़रंदाज़ किया है, जिसकी वजह से केवल पार्टी को प्रदेश में हार का सामना करना पड़ा बल्कि वह बहुमत हासिल करने में असफल रही है. ​ 'केवल कार्यकर्ताओं की नहीं बल्कि मंत्रियों की भी सुनवाई नहीं हो रही थी, अधिकारी अपनी मनमानी कर रहे थे. योगी सरकार को लगता था कि राम मंदिर के उद्घाटन के बादहिंदुत्वकी लहर चलेगी और बीजेपी आसानी से चुनाव जीत जाएगी. इसलिए सरकार कार्यकर्ताओं और मंत्रियों की शिकायतों को लेकर कभी गंभीर नहीं हुई. 'नतीजे नकारात्मक आने के बाद से बीजेपी में प्रदेश में क़रीब 10 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनावों से पहले डर है. लोकसभा चुनावों के बाद अगर उपचुनावों में हार होती है तो इससे 2027 विधानसभा का खेल भी बिगड़ सकता है. हार की समीक्षा के बाद ताबड़तोड़ अधिकारी बदले जा रहे हैंताकि नए अधिकारी पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं की सुनें और उनका मनोबल बढ़ सके.'​हालांकि, प्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक (पूर्व डीजीपी) विक्रम सिंह कहते हैं कि चुनावों के बाद तबादला होना कोई नहीं बात नहीं है, ऐसा सभी सरकारें करती हैं.वह कहते हैं कि वह 1980 से देख रहे हैं कि हर चुनाव के नतीजों के बाद प्रशासनिक बदलाव होते हैं. ​हालांकि, पूर्व डीजीपी कहते हैं कि कभी भी ईमानदार अधिकारियों और सत्तारूढ़ दल के कार्यकर्ताओं के बीच समन्वय बन नहीं पाता है. इसका कारण वो बताते हैं कि कार्यकर्ताओं की इतनी अधिक मांगें और उम्मीद होती हैं, जिनको पूरा करना किसी भी अधिकारी के लिए संभव नहीं होता है. ​ यहां तक कि उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा का सेवा विस्तार नहीं मिलना भी, इसी नज़र से देखा जा रहा है. कहा जा रहा है कि 1984 बैच के आईएएस मिश्ना को 2021 से अब तक तीन बार सेवा विस्तार मिला था.लेकिन पूर्वी उत्तर प्रदेश के मऊ ज़िले के रहने वाले मिश्ना को चौथी बार सेवा विस्तार नहीं मिला और 30 जून, 2024 को वह सेवानिवृत्त हो गए.विपक्ष का कहना है कि मिश्ना के गृह ज़िले मऊ (घोसी) और उसके आस-पास के ज़िलों गाज़ीपुर और आज़मगढ़ में मिली हार से नाराज़ बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व ने मिश्ना की छुट्टी कर दी.मऊ, घोसी और आज़मगढ़ तीनों सीटों पर इंडिया गठबंधन (समाजवादी पार्टी) के उम्मीदवारों को जीत हासिल हुई है. मऊ (घोसी) सीट से राजीव राय, गाज़ीपुर से अफ़ज़ाल अंसारी और आज़मगढ़ में धर्मेंद्र यादव की जीत हुई. ​जहां बीजेपी इस प्रशासनिक फेरबदल को एक समान्य प्रक्रिया का हिस्सा बता रही है, वहीं विपक्ष इसको अधिकारियों का उत्पीड़न बता रहा है. उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय राय कहते हैं कि बीजेपी जिन लोकसभा सीटों पर इंडिया गठबंधन से हारी है, वहां के अधिकारियों को प्रताड़ित कर रही है.कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के अनुसार मिश्रा, दिल्ली में बैठे बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व के क़रीबी नौकरशाहों में से एक थे. लेकिन उत्तर प्रदेश विशेषकर पूर्वांचल में मिली हार से बीजेपी नेतृत्व का मिश्ना से मोहभंग हो गया और उनको सेवा विस्तार नहीं मिला.सपा प्रवक्ता और पूर्व विधानमंडल​ ​​सदस्य सुनील कुमार कहते हैं कि तबादला सूची से साफ़ होता है कि अधिकतर उन्हीं ज़िलों के डीएम और कप्तान बदले गए हैं, जहाँ बीजेपी हारी है.उन्होंने ने कहा कि हार के बाद अधिकारियों को बदलने की परंपरा ग़लत है. पूर्व विधायक सुनील कुमार कहते हैं कि बीजेपी को लगता है, जिन ज़िलों में वह हारी है, वहां तैनात अधिकारियों को प्रताड़ित करना चाहिए और ये तबादले इसीलिए हो रहे हैं.पूर्व आईएस अधिकारी अनीस अंसारी कहते हैं कि चुनावों के बाद अफसरों को हटाया जाता है, क्योंकि राजनीतिक दलों को लगता है कि प्रशासन से सहयोग मिलने से उनकी हार हुई है. वह कहते हैं कि सबसे अधिक तबादले डीएम और पुलिस कप्तान के होते हैं.अंसारी कहते हैं कि अधिकारियों पर सत्ताधारी दल का दबाव ज़रूर होता है लेकिन चुनावों में कोई मदद करना अधिकारियों के हाथ में नहीं होता. इसलिए सत्ताधारी दल नाराज़ होकर अक्सर तबादले कर देते हैं.​

फ़्रांस में रविवार को संसदीय चुनावों के लिए पहले दौर का मतदान हो रहा है. माना जा रहा है कि ये चुनाव ऐतिहासिक साबित हो सकते हैं.

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत की जीत पर दक्षिण अफ़्रीका के मीडिया में चर्चा गर्म, कप्तान मारक्रम खुलकर बोले

स्नेह राणाः 10 विकेट झटक कर दक्षिण अफ्रीका को मात देने वाली गेंदबाज़

रोहित शर्मा, विराट कोहली और जडेजा की जगह ले सकते हैं ये युवा खिलाड़ी.

कोंकण और गोवा, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, दक्षिण ओडिशा, मध्य प्रदेश, विदर्भ, तटीय कर्नाटक, कोंकण और गोवा, हरियाणा के कुछ हिस्सों, पूर्वी राजस्थान, दक्षिण छत्तीसगढ़ और दक्षिणी तट पर हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ भारी बारिश हुई। ओडिशा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, लक्षद्वीप, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, पश्चिम मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, आंतरिक कर्नाटक, मराठवाड़ा और मध्य महाराष्ट्र में हल्की से मध्यम बारिश हुई।आंतरिक तमिलनाडु, जम्मू कश्मीर और लद्दाख में हल्की बारिश हुई।अगले 24 घंटों के दौरान पूर्वोत्तर भारत, सिक्किम, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उत्तरी पंजाब, उत्तरी हरियाणा और उत्तराखंड में मध्यम से भारी बारिश संभव है।बिहार, झारखंड, दिल्ली, गुजरात, तटीय कर्नाटक, कोंकण और गोवा और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।गंगीय पश्चिम बंगाल, विदर्भ, मध्य महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, ओडिशा, केरल, लक्षद्वीप, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, आंतरिक कर्नाटक और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। लद्दाख, रायलसीमा, मराठवाड़ा और तमिलनाडु में हल्की बारिश संभव है।



NEET UG 2024 retest results: Topper numbers drop down to 61 from 67 in revised list Source: Business Today

Ratan Tata comes to rescue of 115 TISS employees, termination withdrawn as Tata Education Trust releases funds Source: Mint

IAS officer Sujata Saunik becomes Maharashtra’s first female Chief Secretary Source: The Hindu

Punjab, Haryana to witness heavy to very heavy rain: IMD issues orange alert for several areas Source: The Indian Express

Far-right wins first round of French polls in setback to President Macron Source: India Today

Australia doubles fees for international students amid migration concerns, Indian students to suffer the most Source: Business Today

India joins UN's Doha meet on Afghanistan attended by Taliban Source: The Times of India

Chinese President Xi Jinping to attend SCO summit in Astana Source: The Hindu

Sports News for Today’s School Assembly

Ravindra Jadeja retires from T20 internationals a day after India's World Cup triumph Source: ESPNcricinfo

Hardik Pandya to replace Rohit Sharma as T20I captain? BCCI secretary Jay Shah opens up Source: India Today

Shuttler Malvika Bansod settles for bronze at US Open Super 300 tournament Source: The Times of India

Dinesh Karthik comes back to RCB for IPL 2025, says ‘truly passionate about new chapter’ Source: Mint 



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पेंशनरों की विशाल सभा

विश्व रजक महासंघ का आयोजन

जातीय गणना के आंकड़े जारी